खाद्य

यूएन न्यूज़ हिन्दी बुलेटिन, 13 नवम्बर 2020

इस बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...

ऑडियो -
16'44"

कोविड-19: खाद्य असुरक्षा और विस्थापन बढ़े

संयुक्त राष्ट्र की एक ताज़ा रिपोर्ट में कहा गया है कि कोविड-19 महामारी शुरू होने के समय ही रिकॉर्ड स्तर पर रही वैश्विक भुखमरी और आबादी के विस्थापन की स्थिति और ज़्यादा ख़राब हो सकती है क्योंकि प्रवासी जन व बाहर से भेजी जाने वाली रक़म पर निर्भर लोगों को अपने परिवारों की गुज़र-बसर चलाने की ख़ातिर कामकाज पाने के लिये मजबूर होना पड़ रहा.

यूएन न्यूज़ हिन्दी बुलेटिन 16 अक्टूबर 2020

इस बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...
बहुतायत वाली दुनिया में करोड़ों लोगों को अब भी मयस्सर नहीं है, एक वक़्त की भरपेट भोजन ख़ुराक.
नोबेल शान्ति पुरस्कार विजेता World Food Program कैसे कर रहा है भुखमरी का मुक़ाबला, एक इंटरव्यू.

ऑडियो -
19'46"

करोड़ों को भरपेट भोजन मयस्सर नहीं, कोविड-19 बना मुसीबतों का पहाड़

वर्ष 2020 के दौरान भी दुनिया भर में करोड़ों लोगों को जीने के लिये काफ़ी बुनियादी भोजन ख़ुराक भी मयस्सर नहीं है क्योंकि जलवायु परिवर्तन और आर्थिक समस्याओं ने विश्व भर में भुखमरी का स्तर बढ़ा दिया है, और कोविड-19 महामारी ने तो ग़रीबी में मुसीबतों का पहाड़ ही खड़ा कर दिया है. विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) की एक ताज़ा रिपोर्ट में ये चिन्ता ज़ाहिर की गई है.

भुखमरी के ख़िलाफ़ लड़ाई में विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) अग्रणी

संयुक्त राष्ट्र के विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) को वर्ष 2020 का नोबेल शान्ति पुरस्कार विजेता घोषित किया गया है.

ऑडियो -
10'5"

खाद्य सप्ताह पर महासचिव का सन्देश

विश्व खाद्य सप्ताह पर यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश का सन्देश...

यूएन खाद्य एजेंसी WFP को नोबेल पुरस्कार, महासचिव का बधाई सन्देश

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने अपने वीडियो सन्देश में नोबेल पुरस्कार समिति के निर्णय पर प्रसन्नता ज़ाहिर करते हुए विश्व खाद्य कार्यक्रम को खाद्य असुरक्षा के मोर्चे पर विश्व की पहली खाद्य संस्था के रूप में बयाँ किया है. ये संगठन दुनिया भर में करोड़ों लोगों को जीवनदायी खाद्य सहायता मुहैया कराता है, अक्सर बेहद ख़तरनाक और दुर्लभ परिस्थितियों में भी.

यूएन विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) को 2020 का नोबेल शान्ति पुरस्कार

संयुक्त राष्ट्र के विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) को वर्ष 2020 का नोबेल शान्ति पुरस्कार विजेता घोषित किया गया है. ये संगठन दुनिया भर में करोड़ों लोगों को जीवनदायी खाद्य सहायता मुहैया कराता है, अक्सर बेहद ख़तरनाक और दुर्लभ परिस्थितियों में भी.

भुखमरी का बढ़ता दायरा ( वीडियो रिपोर्ट)

संयुक्त राष्ट्र की नई रिपोर्ट दर्शाती है कि बीते पाँच वर्षों में भुखमरी व कुपोषण के विभिन्न रूपों का शिकार लोगों की संख्या में तेज़ी से बढ़ोत्तरी हुई है. कोविड-19 महामारी से यह समस्या और भी ज़्यादा विकराल रूप धारण कर सकती है. एक वीडियो रिपोर्ट...

खाद्य सुरक्षा दिवस: सभी की है अहम भूमिका

ख़राब या अस्वस्थ भोजन खाने से हर साल दुनिया भर में लगभग 60 करोड़ लोग बीमार पड़ते हैं, जोकि लगभग हर दस व्यक्ति में से एक व्यक्ति का आँकड़ा है, इनमें से भी लगभग 4 लाख 20 हज़ार लोग हर साल ख़राब भोजन खाने के कारण मौत के मुँह में चले जाते हैं. संयुक्त राष्ट्र की विशेषीकृत एजेंसियों ने रविवार को विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस के मौक़े पर इस मुद्दे की तरफ़ ध्यान आकर्षित किया है.