कोवैक्स

पाकिस्तान के सिन्ध प्रान्त के कराची शहर की गादब बस्ती में, 13 दिन के एक बच्चे को पोलियो की वैक्सीन पिलाते हुए. पाकिस्तान में पोलियो अभी पूरी तरह ख़त्म नहीं हुआ है.
UNICEF/Asad Zaidi

टीकाकरण से होती है स्वास्थ्य व जीवन रक्षा

टीकाकरण से हर साल कम से कम 40 से 50 लाख लोगों की जान बचती है. इस उल्लेखनीय सफलता की कहानी, हाल के दशकों में दुनिया भर में फैले बड़े पैमाने पर टीकाकरण अभियानों का परिणाम है. करोड़ों लोगों की जान लेने वाली चेचक को 1980 में पूरी तरह मिटा दिया गया और 1988 के बाद से पोलियो के मामले लगभग  99% घट गए हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) में टीकाकरण निदेशक, डॉक्टर केट ओ'ब्रायन, 18वीं शताब्दी के अन्त में पहली आधुनिक वैक्सीन के विकास से लेकर, आज की कोविड महामारी का मुक़ाबला करने वाले नए टीकों तक के ऐतिहासिक सफ़र पर ले जा रही हैं... (वीडियो फ़ीचर) 

मलावी में एक स्वास्थ्यकर्मी, कोविड-19 वैक्सीन का टीका लगाने की तैयारी करते हुए.
© UNICEF/ Thoko Chikondi

कोविड-19: जर्मनी - वैक्सीन समता में वाजिब योगदान करने वाला पहला देश

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने मंगलवार को कहा है कि कोविड-19 महामारी का ख़ात्मा करने के लिये, धनी देशों के योगदान की पुकार सुनने में, जर्मनी पहला देश बन गया है. 

काँगो लोकतांत्रिक गणराज्य के गोमा में एक महिला को टीका लगाया जा रहा है.
© UNICEF/Jospin Benekire

2022 में, महामारी के ख़ात्मे के लिये, 23 अरब डॉलर की अपील

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश समेत अन्य विश्व नेताओं ने वैश्विक महामारी कोविड-19 का वर्ष 2022 में ख़ात्मा करने के इरादे से बुधवार को, न्यायसंगत उपचार, निदान व वैक्सीन वितरण पर केन्द्रित व्यवस्था, एक्ट एक्सीलरेटर (ACT-Accelerator) के लिये 16 अरब डॉलर की रक़म इकट्ठा करने की एक अपील जारी की है. 

नागालैण्ड के एक स्कूल में कोविड के टीके की पहली ख़ुराक़ प्राप्त करने के बाद, 15 साल की यिमा ने बताया कि वो सुरक्षित महसूस कर रही है.
© UNICEF/Jamir

भारत: कोविड-19 टीकाकरण अभियान के लिये यूएन सहयोग

संयुक्त राष्ट्र ने भारत में कोविड-19 वैक्सीन के टीकाकरण अभियान के लिये हरसम्भव सहायता सुनिश्चित करने का आश्वासन दिया है. भारत सरकार का कहना है कि 30 जनवरी, 2022 को देश की 75 प्रतिशत वयस्क आबादी को कोविड-19 टीकों की दो ख़ुराक़ें दिये जाने, यानि उनके पूर्ण टीकाकरण का कार्य पूरा कर लिया गया है. यूएन एजेंसियों और भारत सरकार के साझा प्रयासों से जुड़ी अहम जानकारी...

मलावी में एक महिला को कोविड-19 से बचाव के लिये टीका लगाया जा रहा है.
© UNICEF/ Thoko Chikondi

कोविड-19: अफ़्रीका में टीकाकरण दर में छह गुना वृद्धि की दरकार

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है अफ़्रीकी देशों में इस वर्ष के मध्य तक, 70 प्रतिशत आबादी के टीकाकरण के लक्ष्य को पूरा करने के लिये यह ज़रूरी है कि टीके लगाये जाने की मौजूदा रफ़्तार छह गुना बढ़ाई जाए.  

विश्व स्वास्थ्य संगठन कुछ देशों में टैस्टिंग क्षमता को पुख़्ता बनाने में मदद कर रहा है.
WHO/Nana Kofi Acquah

ओमिक्रॉन: संक्रमण में वृद्धि बरक़रार, कुछ देशों में 'लहर का सबसे बुरा दौर गुज़रा'

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि कुछ देशों में कोरोनावायरस के ओमिक्रॉन वैरीएण्ट के कारण संक्रमण मामलों में भीषण बढ़ोत्तरी के बाद, अब ये अपने चरम बिन्दु को पार कर चुके हैं, जिससे यह उम्मीद उपजी है कि इन देशों में नई संक्रमण लहरों का सबसे ख़राब दौर बीत चुका है. मगर यूएन एजेंसी ने आगाह करते हुए ये भी कहा है कि अभी कोई भी देश, इस संकट से पूरी तरह बाहर नहीं निकल पाया है. 

बांग्लादेश के कुटुपलाँग में एक स्वास्थ्य केन्द्र पर, विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की एक संक्रमण रोकथाम विशेषज्ञ, नर्सों को प्रशिक्षण देते हुए.
WHO/Blink Media/Fabeha Monir

2021 पर एक नज़र:  वायरस को 'कम करके आँकना, होगी एक बड़ी भूल' 

कोविड-19 महामारी के विरुद्ध बेहद कम समय में, चमत्कारी ढँग से कारगर वैक्सीन विकसित होने के बावजूद, कोरोनावायरस का फैलना और उसका रूप व प्रकार बदलना जारी है. वैश्विक महामारी के लम्बा खिंच जाने की एक प्रमुख वजह, वैश्विक सहयोग व एकजुटता का अभाव बताई गई है. वर्ष 2021 के दौरान, विकासशील देशों में आबादी को संक्रमण से रक्षा कवच प्रदान करने के लिये वैक्सीन वितरण की शुरुआत की गई, और भावी स्वास्थ्य संकटों से निपटने की तैयारियों की दिशा में क़दम बढ़ाये गए. 

भारत की राजधानी नई दिल्ली के एक अस्पताल में एक नर्स, डॉक्टर को कोविड वॉर्ड में जाने से पहले तैयार कर रही है.
© UNICEF/Srishti Bhardwaj

कोविड-19: ताबड़तोड़ बूस्टर टीके लगाने से, 'वैक्सीन विषमता गहराने का ख़तरा'

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने आगाह किया है कि कोविड-19 से बचाव के लिये अन्धाधुन्ध तरीक़े से, वैक्सीन के अतिरिक्त टीके (Booster dose) लगाने के कार्यक्रमों से वैश्विक महामारी के लम्बा खिंच जाने और विश्व में वैक्सीन विषमता गहराने की आशंका है.

ओमिक्रॉन वैरीएण्ट के मद्देनज़र, यूएन स्वास्थ्य एजेंसी ने टीकाकरण की गति तेज़ करने का आग्रह किया है.
UN News

कोविड-19: 'नुवैक्सोविड' वैक्सीन को आपात प्रयोग के लिये WHO की स्वीकृति

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने वैश्विक महामारी कोविड-19 से बचाव के लिये 'नुवैक्सोविड' (Nuvaxovid™) वैक्सीन के आपात प्रयोग को मंज़ूरी दे दी है. योरोपीय औषधि एजेंसी (EMA) द्वारा वैक्सीन की समीक्षा किये जाने और उसे स्वीकृति दिये जाने के बाद यह घोषणा की गई है.  

 

कोविड-19 के विरुद्ध थाईलैण्ड में अग्रिम मोर्चे पर डटे स्वास्थ्यकर्मियों ने निजी बचाव पोशाक पहनी हुई है.
UN Women/Pathumporn Thongking

कोविड-19: नई दवा के जैनेरिक उत्पादन के लिये महत्वपूर्ण लाइसेंस समझौता

संयुक्त राष्ट्र समर्थित वैश्विक स्वास्थ्य पहल (Unitaid) और औषधि निर्माता कम्पनी ‘फ़ाइज़र’ में एक स्वैच्छिक लाइसेंस समझौता हुआ है जिसके बाद, कोविड-19 के उपचार में ‘सहायक’ एक नई दवा की उपलब्धता, निम्न व मध्य-आय वाले देशों में बढ़ाने में मदद मिलने की उम्मीद जताई गई है.