कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य

डीआरसी में इबोला क्वारण्टीन ज़ोन में जाने से पहले स्वास्थ्यकर्मी निजी बचाव पोशाक पहन रहे हैं.
World Bank/Vincent Tremeau

काँगो लोकतांत्रिक गणराज्य: इबोला वायरस के मामले की पुष्टि, संक्रमित की मौत

काँगो लोकतांत्रिक गणराज्य (डीआरसी) के पश्चिमोत्तर इक्वेट्योर प्रान्त में स्थित म्बान्डका शहर में इबोला के एक मामले की पुष्टि होने के बाद वहाँ बीमारी के प्रकोप की घोषणा कर दी गई है. वर्ष 2018 के बाद से प्रान्त में तीसरी बार इस बीमारी का मामला सामने आया है.

इण्टरनेशनल कोर्ट ऑफ़ जस्टिस नीदरलैण्ड्स के हेग शहर में स्थित है.
ICJ/Jeroen Bouman

युगाण्डा को, डीआरसी को करोड़ों डॉलर का मुआवज़ा देने का आदेश

अन्तरराष्ट्रीय न्यायालय (ICJ) ने बुधवार को अपने एक निर्णय में युगाण्डा को, काँगो लोकतांत्रिक गणराज्य (डीआरसी) को साढ़े 32 करोड़ डॉलर का मुआवज़ा देने का आदेश दिया है. यह फ़ैसला, दोनों देशों के बीच वर्ष 1998 से 2003 के दौरान चले हिंसक संघर्ष से जुड़े मामले में सुनाया गया है.

कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य के कलेमाई में लिंग आधारित हिंसा से बची एक महिला.
UNOCHA/Alioune Ndiaye

डीआरसी: इबोला के फैलाव के दौरान यौन शोषण के आरोप, ‘लोगों के साथ विश्वासघात’

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने काँगो लोकतांत्रिक गणराज्य (डीआरसी) में संगठन के कुछ कर्मचारियों द्वारा कथित रूप से यौन दुर्व्यवहार और शोषण किये जाने के मामलों पर गहरा क्षोभ जताते हुए कहा है कि यह उन लोगों के साथ विश्वासघात है जिनकी हम सेवा करते हैं. एक नई जाँच रिपोर्ट के अनुसार इन मामलों को, डीआरसी में इबोला बीमारी के फैलाव के दौरान अंजाम दिया गया.

गोलीबारी के दौरान साथी शांतिरक्षक को बचाते समय गोलियों की चपेट में आए प्राइवेट चांसी चिटेटे.
MONUSCO

असाधारण वीरता के लिए यूएन शांतिरक्षक को मिलेगा मरणोपरांत सम्मान

कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य में अपने साथी शांतिरक्षक की जान बचाते समय असाधारण साहस और निस्वार्थ सेवा के प्रदर्शन के लिए मलावी के शांतिरक्षक चांसी चिटेटे को संयुक्त राष्ट्र शांतिरक्षा के सबसे बड़े पुरस्कार से सम्मानित किया जा रहा है. यूएन शांतिरक्षकों के अंतरराष्ट्रीय दिवस पर 24 मई को न्यूयॉर्क में आयोजित समारोह में उन्हें यह अवार्ड मरणोपरांत दिया जाएगा.

नवजात शिशु की जांच करता एक स्वास्थ्यकर्मी.
UNICEF/Guy Hubbard

ईबोला इलाज केंद्र पर हमले की यूएन ने निंदा की

कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य में ईबोला वायरस का इलाज करने वाले एक स्वास्थ्य केंद्र पर शुक्रवार को हुए हमले की संयुक्त राष्ट्र ने निंदा की है. इस हमले में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के लिए काम कर रहे एक डॉक्टर की मौत हो गई और दो अन्य लोग घायल हुए हैं. 

कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य में यूएन मिशन की प्रमुख लैला ज़ेरूगी.
UN Photo/Loey Felipe

हिंसा की रोकथाम के लिए 'हरसंभव प्रयास' करेंगे

कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य के लिए संयुक्त राष्ट्र की विशेष  प्रतिनिधि लैला ज़ेरूगी ने कहा है कि पिछले साल दिसंबर में राष्ट्रपति चुनावों के शांतिपूर्ण ढंग से निपट जाने के बावजूद देश के पूर्वी हिस्से में हालात अब भी चिंताजनक बने हुए हैं. इन इलाक़ों में हथियारबंद गुटों की गतिविधियां बरक़रार हैं. 

युम्बी शहर में चुनाव आयोग की क्षतिग्रस्त इमारत.
UNJHRO

कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य: हिंसा की नई लहर उठने की आशंका

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त कार्यालय (OHCHR) ने चेतावनी भरे अंदाज़ में कहा है कि कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य के पश्चिमी हिस्से में हिंसा की नई लहर कभी भी उठ सकती है. साथ ही सरकार से अनुरोध किया गया है कि हिंसा प्रभावित क्षेत्र में दो समुदायों के बीच तनाव और द्वेष को कम करने के लिए कदम उठाए जाने चाहिए.