जलवायु

क़ुदरती हादसों से खरबों का नुक़सान

संयुक्त राष्ट्र के विशेषज्ञों का कहना है कि पिछले क़रीब 20 वर्षों के दौरान भूकम्प और सूनामी जैसी प्राकृतिक आपदाओं की वजह से क़रीब 13 लाख लोगों की जान जा चुकी है.

टूट रहा है भरोसा, कैसे बचाएं…

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है आज के दौर में दुनिया भर में भरोसा टूटा हुआ नज़र आता है. तमाम देशों के राष्ट्रीय संस्थानों में लोगों का भरोसा, देशों के बीच आपसी भरोसा और नियम और क़ानून पर आधारित एक वैश्विक व्यवस्था में भरोसा, सभी चकनाचूर हुआ नज़र आता है.