जल जोखिम

काँगो लोकतांत्रिक गणराज्य (DRC) में गोमा के निकट एक अस्थाई शिविर में एक बच्ची, पानी भरते हुए.
© UNICEF/Olivier Asselin

जल व सततता चुनौतियों के लिये रूपान्तरकारी विचारों पर चर्चा  

एक हज़ार से ज़्यादा वैज्ञानिकों, और निजी सैक्टर व नागरिक समाज के प्रतिनिधियों ने सोमवार को न्यूयॉर्क स्थित संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में एक बैठक में हिस्सा लिया, जिसमें जल और सततता (sustainability) सम्बन्धी मुद्दों पर मौजूदा हालात की तस्वीर बेहतरी के लिये बदल देने के उपायों पर चर्चा हुई.  

यूएन मौसम विज्ञान एजेंसी के अनुसार दुनिया में हर तीन में एक व्यक्ति पर जल की उपलब्धता में कमी को झेलना पड़ रहा है.
© UNICEF/Saleh Hayyan

बढ़ती आबादी और जलवायु परिवर्तन के कारण मंडराता जल संकट – WMO की चेतावनी

जलवायु परिवर्तन के कारण बाढ़, सूखा सहित अन्य जल-सम्बन्धी जोखिमों में वृद्धि हो रही है और आबादी के साथ माँग बढ़ने व जल उपलब्धता में कमी से प्रभावित होने वाले लोगों की संख्या भी बढ़ने की आशंका है. संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों ने अपनी एक नई रिपोर्ट में दुनिया पर मंडराते जल संकट पर चेतावनी जारी की है.