जिनीवा

पाकिस्तान के सिन्ध प्रान्त में 2022 में आई भीषण बाढ़ के दूषित पानी के तालाब के पास बैठे बच्चे.
© UNICEF/Arsalan Butt

पाकिस्तान : बाढ़ के नुक़सान से उबरने के लिए, 16 अरब डॉलर की सहायता अपील

पाकिस्तान में 2022 की गर्मियों में आई भीषण बाढ़ से हुई भारी तबाही का सामना करने में मदद के लिये 9 जनवरी को जिनीवा में, जलवायु सहनशील पाकिस्तान पर अन्तरराष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया गया. यूएन प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज़ शरीफ़ के साथ इस संयुक्त प्रैस वार्ता में, विकासशील देशों के पक्ष में व्यापक वैश्विक वित्तीय सुधार किए जाने का आग्रह किया. (वीडियो)

यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश, पाकिस्तान में 2022 के दौरान भीषण बाढ़ से हुई भारी तबाही में, मदद की पुकार लगाने वाले जिनीवा सम्मेलन में शिरकत करते हुए. (9 जनवरी 2023)
UN Photo/Violaine Martin

पाकिस्तान: बाढ़ के नुक़सान से उबरने में मदद के लिए, वैश्विक वित्तीय व्यवस्था में व्यापक सुधारों का आग्रह

पाकिस्तान में गत वर्ष की गर्मियों में आई भीषण बाढ़ से हुई भारी तबाही का सामना करने में मदद के लिये अन्तरराष्ट्रीय समुदाय को प्रोत्साहित करने के यूएन नेतृत्व वाले प्रयास सोमवार को जिनीवा में भी जारी रहे, जहाँ यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने वैश्विक वित्तीय व्यवस्था में, विकासशील देशों के पक्ष में व्यापक सुधार किए जाने का आग्रह किया.

वोल्कर टूर्क ने यूएन शरणार्थी एजेंसी - UNHCR में भी अनेक पदों पर काम किया है.
UNHCR/Jean Marc Ferré

वोल्कर टूर्क बने - नए यूएन मानवाधिकार उच्चायुक्त

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने ऑस्ट्रिया के राजनयिक वोल्कर टूर्क को, गुरूवार को, अगला यूएन मानवाधिकार उच्चायुक्त नियुक्त किया है. इससे पहले उनकी नियुक्ति को यूएन महासभा ने स्वीकृति दी थी.

© OHCHR/Anthony Headley

साक्षात्कार: यूएन मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाशेलेट के साथ विदाई बातचीत

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाशेलेट, इस पद पर चार साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद अगस्त में, इस ज़िम्मेदारी को अलविदा कह रही हैं. उन्होंने यूएन न्यूज़ के साथ अपने विदाई साक्षात्कार में कहा है कि उन्होंने हमेशा ही अपनी बात किसी भी डर के बिना रखी है. मगर उन्होंने यह भी स्वीकार किया है कि ये ज़िम्मेदारी, देशों को स्वतंत्रताओं को सीमित करने से रोकने के लिये, लगातार चुनौतियों से भरी हुई है.

यूक्रेन में एक महिला अपने बच्चे के साथ, सुरक्षा के लिये बेहतर स्थान पर ले जाने की प्रतीक्षा करते हुए.
© IMF

‘यूक्रेन और बढ़ती वैश्विक असुरक्षा, हम सब के लिये परीक्षा’, मानवाधिकार प्रमुख

संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाशेलेट ने सोमवार को मानवाधिकार परिषद के 50वें सत्र के प्रारम्भ को सम्बोधित करते हुए कहा है कि यूक्रेन में युद्ध ने भीषण तबाही मचाना और बहुत से लोगों की ज़िन्दगियाँ तबाह करना जारी रखा हुआ है, और इस युद्ध के कारण उत्पन्न वैश्विक खाद्य, ईंधन व वित्तीय संकट को सीमित करना, हर एक इनसान की ज़िम्मेदारी है. 

यूएन मानवाधिकार परिषद के एक सत्र का दृश्य
UN Photo/Jean-Marc Ferré

यूक्रेन पर रूसी हमले के दौरान हनन मामलों की जाँच के लिये आयोग

जिनीवा स्थित संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) ने यूक्रेन पर रूस के सैन्य हमले के दौरान मानवाधिकार हनन के मामलों की जाँच करने के लिये, एक आयोग का गठन करने पर सहमति व्यक्त की है. इसके लिये एक प्रस्ताव शुक्रवार को पारित किया गया है.

जिनीवा में संयुक्त राष्ट्र कार्यालय.
UN Photo/ Rick Bajornas

जिनीवा: संयुक्त राष्ट्र के अनमोल दस्तावेज़ों का डिजिटल रूपान्तर

प्राथमिक स्रोतों का संरक्षण, संयुक्त राष्ट्र पुस्तकालय और अभिलेखागार के मिशन का मूल सिद्धान्त है. इस सिद्धान्त के तहत, संयुक्त राष्ट्र के पूर्ववर्ती विश्व संगठन – राष्ट्र संघ (League of Nations) के असंख्य काग़ज़ी दस्तावेज़ों के डिजिटल संस्करण तैयार किये गए हैं. एक वीडियो रिपोर्ट...

वायु चालित संयंत्रों से नवीनीकृत ऊर्जा निर्मित होने से कोयला आधारित बिजली पर निर्भरता कम होती है.
Unsplash/Cameron Venti

टिकाऊ विकास के लिये वित्त की ज़रूरत पहले से कहीं ज़्यादा, उप प्रमुख आमिना मोहम्मद

सुंयुक्त राष्ट्र की उप प्रमुख आमिना जे मोहम्मद ने सोमवार को कहा है कि संसाधन सम्पन्न और संसाधन वंचित लोगों के बीच अविश्वास की बढ़ती खाई के वातावरण में, टिकाऊ विकास के लिये, यथा सम्भव विभिन्न क्षेत्रों से पक्षकारों को शामिल करते हुए, वित्त का प्रबन्ध करना, इस समय पहले से कहीं ज़्यादा ज़रूरी है.

यूएन मानवाधिकार परिषद के एक सत्र का दृश्य
UN Photo/Jean-Marc Ferré

मानवाधिकार परिषद के 18 नए सदस्यों का चुनाव

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने गुरूवार को जिनीवा स्थित मानवाधिकार परिषद (Human Rights Council) के लिये 18 नए सदस्य देश निर्वाचित किये हैं, जिनमें भारत, अमेरिका, मलेशिया, कैमरून, क़तर, फ़िनलैण्ड, मॉन्टीनेग्रो और अर्जेण्टीना भी शामिल हैं. ये नए सदस्य, अपना तीन वर्षीय कार्यकार, एक जनवरी 2022 को शुरू करेंगे.

देश के भीतर ही विस्थापित होने वाले लोगों के लिये, हेरात के बाहरी इलाक़े में बनाए गए इस शिविर में 30 हज़ार से ज़्यादा लोग रहते हैं.
IOM

अफ़ग़ान लोगों की मदद के लिये, एक अरब डॉलर के वादे, बड़ी कामयाबी

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने अफ़ग़ानितान के लोगों की मदद के लिये, अन्तरराष्ट्रीय दान अपील के जवाब में भारी भरकम रक़म के वादों के लिये, अन्तरराष्ट्रीय समुदाय की सराहना की है. जिनीवा में, सोमवार को हुए एक दानदाता सम्मेलन में लगभग 60 करोड़ डॉलर की रक़म जुटाने की अपील जारी की गई थी, जिसके जवाब में लगभग दोगुना रक़म के संकल्प व्यक्त किये गए हैं.