इसराइल

मध्य पूर्व के लिए 'विनाशकारी' है फ़लस्तीनी इलाक़ों को छीनने की इसराइली योजना

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त (OHCHR) मिशेल बाशेलेट ने इसराइल द्वारा क़ाबिज़ फ़लस्तीनी इलाक़ों को ग़ैरक़ानूनी ढंग से छीनने की योजना से पीछे हटने को कहा है. यूएन मानवाधिकार प्रमुख ने इसराइल की इस कार्रवाई का फ़लस्तीनियों और पूरे क्षेत्र के लिए चेतावनी भरे शब्दों में विनाशकारी असर होने की आशंका जताई है. इससे पहले यूएन महासचिव ने भी स्पष्ट शब्दों में कहा था कि ऐसी कोई भी एकतरफ़ा कार्रवाई अन्तरराष्ट्रीय क़ानून का गम्भीर उल्लंघन होगी. 

इसराइल से फ़लस्तीनी इलाक़े छीनने की योजना से पीछे हटने का आग्रह

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने इसराइल से फ़लस्तीन में क़ब्ज़ाग्रस्त पश्चिमी तट के हिस्सों को हड़प लेने की योजना छोड़ने का आग्रह किया है. ऐसी आशंका जताई गई है कि इसराइल द्वारा इन फ़लस्तीनी इलाक़ों को छीन लेने की कार्रवाई इसराइल द्वारा अगले हफ़्ते तक की जा सकती है. यूएन के विशेष दूत निकोलाय म्लादेनॉफ़ ने सुरक्षा परिषद को सम्बोधित करते हुए आगाह किया है कि कई दशकों की शान्ति प्रक्रिया दाँव पर लगी है.

फ़लस्तीन: यूएन राहत एजेंसी के लिए 13 करोड़ डॉलर की मदद का संकल्प

75 देशों और ग़ैर-सरकारी संगठनों ने फ़लस्तीनी शरणार्थियों के लिए संयुक्त राष्ट्र राहत एवँ कार्य एजेंसी (UNRWA) के लिए 13 करोड़ डॉलर की धनराशि जुटाने का संकल्प लिया है. मंगलवार को एक वर्चुअल सम्मेलन में मध्य पूर्ण में फ़लस्तीनी शरणार्थियों को राहत पहुँचाने वाली यूएन एजेंसी के लिए 40 करोड़ डॉलर जुटाने का लक्ष्य रखा गया था. 

मध्य पूर्व: इसराइली एकतरफ़ा कार्रवाई के ख़िलाफ़ चेतावनी

मध्य पूर्व के लिए संयुक्त राष्ट्र के विशेष शान्ति दूत निकोलाय म्लादेनॉफ़ ने पश्चिमी तट के कुछ हिस्सों को इसराइल द्वारा फिर से छीने जाने की कार्रवाई सहित किसी भी प्रकार की एकतरफ़ा कार्रवाई के ख़िलाफ़ बुधवार को कड़ी चेतावनी जारी की है. उन्होंने सुरक्षा परिषद को जानकारी देते बताया कि ऐसी किसी भी कार्रवाई से फ़लस्तीन और इसराइल को वार्ता की मेज़ पर वापिस लाने के कूटनैतिक प्रयास कमज़ोर होंगे.  

इसराइल संचालित जेलों में बन्दी फ़लस्तीनी बच्चों की रिहाई की पुकार

मध्य पूर्व क्षेत्र में संयुक्त राष्ट्र के तीन बड़े अधिकारियों ने इसराइल द्वारा संचालित जेलों में बन्द फ़लस्तीनी बच्चों को रिहा करने का आहवान किया है. उनका कहना है कि मौजूदा हालात में उन बच्चों का कोविड-19 महामारी के संक्रमण में आने की बहुत ज़्यादा आशंका है. इनका कहना है कि मार्च के अन्त तक के आँकड़ों के अनुसार 194 फ़लस्तीनी बच्चों को बन्दी बनाकर इसराइल द्वारा संचालित जेलों में रखा गया था.

कोविड-19: 'साझा दुश्मन' से लड़ाई में सहयोग से खुल सकता है शांति का रास्ता

विश्वव्यापी महामारी कोविड-19 से निपटने के प्रयासों में आपसी सहयोग से इसराइल और फ़लस्तीन के लिए ऐसे अवसरों का सृजन संभव है जिन्हें अपनाकर दोनों पक्ष मध्यपूर्व में शांति स्थापित करने और दशकों से चले आ रहे विवाद पर विराम लगाने में कर सकते हैं. मध्यपूर्व शांति वार्ता के लिए यूएन के विशेष समन्वयक निकोलय म्लादेनॉफ़ ने गुरुवार को वीडियो कान्फ़्रेंसिंग ज़रिए सुरक्षा परिषद को क्षेत्र में हालात से अवगत कराते हुए यह बात कही है. 

कोविड-19: इसराइल द्वारा फ़लस्तीनियों के साथ सहयोग की सराहना

मध्य पूर्व शान्ति प्रक्रिया के लिए संयुक्त राष्ट्र  विशेष समन्वयक निकोलय म्लादेनॉफ़ ने कोविड-19 महामारी मुक़ाबला करने के लिए इसराइली और फ़लस्तीनी सरकारों के बीच हो रहे सहयोग  सराहना की है.

कोविड-19 से निपटने में फ़लस्तीनियों के साथ भेदभाव स्वीकार्य नहीं

संयुक्त राष्ट्र के एक मानवाधिकार विशेषज्ञ ने इसराइल, फ़लस्तीनी प्राधिकरण और हमास से आग्रह किया है कि उन्हें ग़ाज़ा, पश्चिमी तट और पूर्वी येरूशेलम में सभी फ़लस्तीनी लोगों को भी कोविड-19 महामारी का मुक़ाबला करने के लिए उनके स्वास्थ्य का अधिकार सुनिश्चित करने के लिए अपनी अंतरराष्ट्रीय क़ानूनी ज़िम्मेदारियाँ भली-भाँति तरीक़े से निभाएँ.

इसराइल-फ़लस्तीन विवाद के निपटारे के लिए संवाद पर बल

मध्य पूर्व क्षेत्र में बढ़ता तनाव और अस्थिर हालात इसराइल और फ़लस्तीन के बीच दशकों पुराने विवाद को जल्द सुलझाने और शांति वार्ता की मेज़ पर जल्द लौटने की अहमियत को रेखांकित करते हैं. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प द्वारा इसराइल-फ़लस्तीन विवाद के निपटारे के लिए सुझाई गई योजना पर मंगलवार को सुरक्षा परिषद में चर्चा के दौरान यह बात कही है.

मध्य पूर्व के लिए अमरीकी योजना ‘असंतुलित व एकतरफ़ा’

संयुक्त राष्ट्र के एक स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञ ने कहा है कि अमरीका द्वारा दशकों से चले आ रहे इसराइल-फ़लस्तीन संघर्ष के समाधान के लिए इस सप्ताह पेश की गई योजना असंतुलित व एकतरफ़ा है और ये योजना फ़लस्तीनी क्षेत्रों पर इसराइली क़ब्ज़े को और ज़्यादा मज़बूती देगी.