इस्लामिक स्टेट

दाएश द्वारा अगवा की गई सिन्जर की एक यज़ीदी कुर्द महिला इराक़ के अकरे विस्थापन शिविर में रह रही है.
Giles Clarke/ Getty Images Reportage

जनसंहार के छह वर्ष - यज़ीदी समुदाय के लिये न्याय सुनिश्चित करने की पुकार

आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (दाएश) ने छह वर्ष पहले इराक़ में धार्मिक अल्पसंख्यक यज़ीदी समुदाय के ख़िलाफ़ जनसंहारी कृत्य शुरू किये थे. इस दुखद अध्याय के पीड़ितों की स्मृति और उनके समर्थन में सोमवार को एक वर्चुअल समारोह का आयोजन हुआ जिसमें नोबेल शान्ति पुरस्कार विजेता नादिया मुराद ने अन्तरराष्ट्रीय समुदाय से अत्याचारों का शिकार और यज़ीदी समुदाय के जीवित बच गए लोगों के लिये न्याय सुनिश्चित करने की पुकार लगाई है.  

सीरिया के एक शरणार्थी शिविर में कुछ बच्चे, 2018
UNICEF/ Aaref Watad

सीरिया: इस्लामिक स्टेट के आख़िरी गढ़ में लड़ाई तेज़, हज़ारों का पलायन

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) का कहना है कि सीरिया के दाएर-एज़-ज़ोर गवर्नरेट में इस्लामिक स्टेट के लड़ाकों के ख़िलाफ़ तेज़ होते अभियान का शिकार बड़ी संख्या में आम लोग हो रहे हैं. मृतकों का आंकड़ा बढ़ रहा है और बड़े पैमाने पर लोग विस्थापन को मजबूर हैं.