हमला

अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल का एक नज़ारा.
Photo UNAMA/Fardin Waezi

अफ़ग़ानिस्तान में हमलों की निन्दा, आमजन को निशाना बनाए जाने का 'चिन्ताजनक रुझान'

संयुक्त राष्ट्र ने अफ़ग़ानिस्तान में गुरूवार को बल्ख़, काबुल और कुन्दूज़ प्रान्तों में हुए तीन अलग-अलग हमलों की कठोर निन्दा की है, जिनमें कम से कम 30 लोगों की मौत हुई है और अनेक घायल हुए हैं. अफ़ग़ानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र मिशन ने आगाह किया है कि आम नागरिकों के विरुद्ध हमले एक चिन्ताजनक रुझान दिखाते हैं. 

यूक्रेन की राजधानी कियेफ़ में एक महिला अपने बेटे के पास बैठी हुई (3 मार्च 2022) जिसका एक अस्पताल में तीन सप्ताहों से इलाज चल रहा था.
© UNICEF/Oleksandr Ratushniak

'यूक्रेन में सिविल ठिकानों पर रूसी हमले, युद्धापराध के दायरे में गिने जा सकते हैं'

संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार कार्यालय, (OHCHR) ने यूक्रेन पर 24 फ़रवरी को रूसी संघ का आक्रमण शुरू होने के बाद वहाँ हताहत होने वाले आम लोगों बढ़ती संख्या पर शुक्रवार को गहरी चिन्ता दोहराई. साथ ही रूस को ये याद भी दिलाया है कि लड़ाई में भाग नहीं लेने वाले लोगों को निशाना बनाया जाना एक युद्धापराध हो सकता है.

यूक्रेन की राजधानी कीयेफ़ में, तहख़ाने में बनाए गए एक जच्चा-बच्चा अस्पताल में एक नवजात शिशु.
© UNICEF/Andriy Boiko

यूक्रेन: शरणार्थियों की संख्या से, पड़ोसी देशों पर भारी दबाव

संयुक्त राष्ट्र के मानवीय सहायता अधिकारियों ने बुधवार को चेतावनी भरे शब्दों में कहा है कि यूक्रेन पर रूसी आक्रमण के बाद देश से लाखों यूक्रेनी लोगों का पलायन, पड़ोसी देशों में व्यवस्था पर भारी दबाव डाल सकता है. उधर यूएन बाल कोष UNICEF ने बुरी तरह युद्ध की चपेट में आए तटीय शहर मारियुपोल में हुई बमबारी में एक प्रसूति अस्पताल की तबाही होने की ख़बरों पर गम्भीर चिन्ता व्यक्त की है. यह शहर कई दिनों से भारी बमबारी की चपेट में है.

ऑस्ट्रिया की राजधानी वियेना का दृश्य.
Unsplash/Jacek Dylag

ऑस्ट्रिया: वियेना में हुए घातक हमले की तीखी भर्त्सना

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने ऑस्ट्रिया की राजधानी वियेना में हुए एक हिंसक हमले की तीखी भर्त्सना की है. इस हमले में कम से कम दो लोगों की मौत हो गई और अनेक अन्य घायल हुए हैं.