ग़ैर-संचारी रोग

पर्यावरणीय जोखिमों के स्वास्थ्य दुष्प्रभावों से निपटने के लिये कार्रवाई का पुलिन्दा

संयुक्त राष्ट्र की विभिन्न एजेंसियों ने एक साथ मिलकर 500 कार्रवाई उपायों का एक नया सार-संग्रह (compendium) तैयार किया है जिसका उद्देश्य पर्यावरणीय जोखिमों से होने वाली मौतों व बीमारियों में कमी लाना है. 

कोविड-19: ग़ैर-संचारी रोगों से पीड़ित मरीज़ों के लिये ज़्यादा जोखिम 

संयुक्त राष्ट्र के स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने कहा है कि वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण उन बीमारियों के निदान और उपचार में व्यवधान आया है जो घातक हैं लेकिन जिनकी रोकथाम की जा सकती है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कैंसर, हृदय रोग, मधुमेह (डायबिटीज़) जैसे ग़ैर-संचारी रोगों से निपटने को प्राथमिकता देने के लिये सरकारों का आहवान किया है. हर वर्ष इन बीमारियों के कारण चार करोड़ से ज़्यादा लोगों की मौत होती है.