ग़ाज़ा

फ़लस्तीनी लोगों के अधिकार हनन से, दो राष्ट्र समाधान पर जोखिम, यूएन प्रमुख

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने सोमवार को कहा है कि इसराइल द्वारा क़ाबिज़ फलस्तीनी इलाक़ों (येरूशेलम सहित) में जारी स्थिति से, अन्तरराष्ट्रीय शान्ति व सुरक्षा के लिये महत्वपूर्ण चुनौती जारी है.

मध्य पूर्व: शान्तिपूर्ण और टिकाऊ समाधान के लिये आशाएँ फिर जगाने की पुकार

मध्य पूर्व शान्ति प्रक्रिया के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत टॉर वैनेसलैण्ड ने आगाह किया है कि क्षेत्र में पसरे राजनैतिक गतिरोध के कारण तनाव और अस्थिरता को बल मिल रहा है और निराशा का माहौल गहरा रहा है. 

इसराइली और फ़लस्तीनी वरिष्ठ अधिकारियों के बीच बैठक पर उत्साह

मध्य पूर्व शान्ति प्रक्रिया के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत टॉर वैनेसलैण्ड ने बुधवार को सुरक्षा परिषद को बताया है कि वो ये देखकर “प्रोत्साहित” महसूस कर रहे हैं कि हाल ही में वरिष्ठ इसराइली और फ़लस्तीनी अधिकारियों के बीच सम्पर्क स्थापित हुआ है. 

ग़ाज़ा: मानवीय राहत प्रयास जारी, मगर राजनैतिक समाधान की अब भी दरकार

मध्य पूर्व शान्ति प्रक्रिया के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष उपसमन्वयक लिन हेस्टिन्ग्स ने कहा है कि अन्तरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा ग़ाज़ा को तात्कालिक सहायता मुहैया कराए जाने के बावजूद, इसराइल और फ़लस्तीन के बीच टकराव का राजनैतिक समाधान ढूंढे जाने की आवश्यकता है.  

मध्य पूर्व: 'निरर्थक' हिंसा का अन्त ज़रूरी, 'राजनैतिक समाधान' एकमात्र रास्ता

मध्य पूर्व के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत टॉर वेनेसलैण्ड ने कहा है कि इसराइल और फ़लस्तीन के बीच निरर्थक हिंसा पर एक राजनैतिक समाधान के ज़रिये ही विराम लगाया जा सकता है. उन्होंने गुरुवार को सुरक्षा परिषद की बैठक को सम्बोधित करते हुए चिन्ता जताई कि ग़ाज़ा में हाल ही में हुई हिंसा के बाद से स्थानीय लोग भयभीत और सदमे में हैं. यूएन व साझीदार संगठनों ने पूर्वी येरूशलम समेत, ग़ाज़ा और पश्चिमी तट में लोगों की सहायता करने के लिये गुरुवार को साढ़े नौ करोड़ डॉलर की अपील जारी की है.

सुरक्षा परिषद: ग़ाज़ा में युद्धविराम का गम्भीरता से पालन किये जाने की पुकार

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने ग़ाज़ा में इसराइल और फ़लस्तीनी हथियाबन्द गुटों के बीच हिंसा व लड़ाई के मुद्दे पर जारी अपने पहले वक्तव्य में युद्धविराम के "पूर्ण अनुपालन" का आग्रह किया है. युद्धविराम की घोषणा के बाद 11 दिनों से जारी लड़ाई पर शुक्रवार तड़के विराम लग गया.

इसराइल और हमास के बीच युद्धविराम की घोषणा का स्वागत

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने इसराइल और फ़लस्तीनी चरमपंथी गुट हमास के बीच युद्धविराम की घोषणा का स्वागत किया है. 11 दिनों से जारी इसराइली हवाई कार्रवाई और हमास द्वारा किये जा रहे रॉकेट हमलों में 240 से अधिक लोगों की मौत हुई है और हज़ारों घायल हुए हैं, जिनमें से अधिकाँश हताहत ग़ाज़ा में हैं.

ग़ाज़ा में बच्चों के लिये 'नारकीय हालात', हिंसा पर तत्काल विराम का आग्रह

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने पिछले 10 दिनों में ग़ाज़ा सहित क़ाबिज़ फ़लस्तीनी इलाक़ों और इसराइल में जानलेवा हिंसा में ख़तरनाक और भयावह तेज़ी आने पर क्षोभ ज़ाहिर किया है. यूएन प्रमुख ने गुरुवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि ग़ाज़ा में हिंसा प्रभावित इलाक़ों में बच्चे नारकीय हालात में जीवन गुज़ारने के लिये मजबूर हैं.

ग़ाज़ा में हिंसा बच्चों के लिये त्रासदीपूर्ण, मानवीय राहत की पुकार

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) की प्रमुख हेनरीएटा फ़ोर ने कहा है कि ग़ाज़ा में जारी हिंसा में 10 दिनों से भी कम समय में, कम से कम 60 बच्चों की मौत हुई है और 444 अन्य घायल हुए हैं. उन्होंने इस त्रासदी को टालने के लिये तत्काल लड़ाई रोके जाने और मानवीय राहत सम्भव बनाने की पुकार लगाई है. इस बीच, बुधवार को फ़लस्तीनी शरणार्थियों के लिये यूएन राहत एजेंसी (UNRWA) ने बढ़ते मानवीय संकट के मद्देनज़र तीन करोड़ 80 लाख डॉलर की अपील जारी की है.

मध्य पूर्व: मध्यस्थता व मानवीय राहत प्रयासों को मज़बूती देने का आग्रह 

संयुक्त राष्ट्र में राजनैतिक मामलों की प्रमुख रोज़मैरी डीकार्लो ने कहा है कि ग़ाज़ा और इसराइल में लड़ाई व हिंसा को थामने के लिये अन्तरराष्ट्रीय समुदाय को हरसम्भव प्रयास करने होंगे. यूएन की वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को फ़लस्तीन के प्रश्न पर य़ूएन फ़ोरम की बैठक को सम्बोधित करते हुए सभी पक्षों से मध्यस्थता की कोशिशों को सहारा देने का आहवान किया है ताकि ग़ाज़ा पट्टी में मानवीय संकट को बढ़ने से रोका जा सके.