COVAX

कोविड-19: अस्वीकार्य सौदों और देरी से, कोवैक्स आपूर्ति में बाधाएँ

संयुक्त राष्ट्र और कोविड-19 महामारी की रोकथाम के उपकरण व वैक्सीन सभी को समान रूप से मुहैया कराने की मुहिम - कोवैक्स में शामिल साझीदार एजेंसियों ने, बुधवार को एक संयुक्त बयान जारी करके कहा है कि उच्च व मध्यम आय वाल देशों में 80 प्रतिशत आबादी को कोविड-19 वैक्सीन की ख़ुराकें मिल चुकी हैं, जबकि निम्न व कम आय वाले देशों में ये संख्या केवल 20 प्रतिशत है.

कोविड-19: वैक्सीन विषमता से, 'सफ़लता दर में ख़तरनाक अन्तर' को बढ़ावा

संयुक्त राष्ट्र की विभिन्न एजेंसियों के प्रमुखों ने, शुक्रवार को एक वक्तव्य में कहा है कि दुनिया भर में कोविड-19 से बचाने वाली वैक्सीनों का टीकाकरण, दो चिन्ताजनक रफ़्तारों के साथ आगे बढ़ रहा है. उन्होंने कहा है कि निम्न आय वाले अधिकतर देशों में दो प्रतिशत से भी कम वयस्कों का टीकाकरण हो पाया है जबकि उच्च आय वाले देशों में ये संख्या लगभग 50 प्रतिशत है.

कोविड-19: वैक्सीन टीका वितरण में 'विनाशकारी नैतिक विफलता' की चेतावनी

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने कहा है कि कुछ देशों में कोविड-19 वैक्सीन को पहले केवल अपने जनसमूहों को दिये जाने की प्रवृत्ति से इन जीवनदायी उपचारों की न्यायसंगत सुलभता पर जोखिम खड़ा हो गया है. यूएन स्वास्थ्य एजेंसी प्रमुख घेबरेयेसस ने सोमवार को कार्यकारी बोर्ड को सम्बोधित करते हुए कहा कि वैक्सीन टीकों से आशा का संचार हुआ है, लेकिन ये स्थिति, दुनिया में साधन-सम्पन्न और वंचितों के बीच मौजूद विषमता की दीवार में एक और ईंट बन गया है.