भोजन

स्वच्छ एवँ सुरक्षित भोजन - स्वस्थ भविष्य का आधार

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्रीय कार्यालय ने ‘विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस’ पर भोजन-जनित बीमारियों के जोखिम की रोकथाम करने और उनसे निपटने के लिये पूर्ण-समाज के स्तर पर प्रयास किये जाने की पुकार लगाई है.

खाद्य प्रणालियों में रूपान्तरकारी बदलाव लाने में युवाओं की अहम भूमिका

संयुक्त राष्ट्र के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा है कि न्यायसंगत खाद्य प्रणाली को आकार देने में युवजन एक अग्रणी भूमिका निभा रहे हैं. मंगलवार को ‘सर्वजन के लिये अच्छा भोजन’ (Good Food for All) नामक विषय पर आयोजित एक वैश्विक युवा सम्वाद के अवसर पर ये बात कही गई है.  

म्यामाँर: राजनैतिक संकट के बीच, लोगों तक भोजन पहुँचाने की मुहिम

संयुक्त राष्ट्र का विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP), म्याँमार में मौजूदा राजनैतिक संकट के कारण उत्पन्न हालात के बीच खाद्य असुरक्षा का सामना कर रहे लाखों लोगों के लिये भोजन व अन्य सहायता पहुँचाने के प्रबन्ध करने में सक्रिय है. म्याँमार में यूएन खाद्य एजेंसी के उप निदेशक मारकस प्रायर ने यूएन न्यूज़ के साथ एक ख़ास बातचीत में बताया कि बैंकिग व्यवस्था चरमराने के कारण, लोगों को, भोजन असुरक्षा के साथ-साथ, भोजन ख़रीदने के लिये नक़दी का इन्तज़ाम करने की भी परेशानी भी हो रही है...

म्याँमार: 20 लाख लोगों तक खाद्य सहायता पहुँचाने की तैयारी

विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) ने गुरूवार को कहा है कि म्याँमार में मौजूदा राजनैतिक संकट के कारण उत्पन्न हालात में, लगभग 20 लाख लोग खाद्य असुरक्षा का सामना कर रहे हैं और उन्हें, बढ़ती भुखमरी व हताशा के बीच, पोषण सहायता पहुँचाने के प्रबन्ध किये जा रहे हैं.

खाद्य प्रणालियाँ, एक तिहाई उत्सर्जन के लिये ज़िम्मेदार

एक नया अध्ययन दर्शाता है कि विश्व भर में मानव-गतिविधियों के कारण होने वाले ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन की एक-तिहाई से ज़्यादा मात्रा के लिये खाद्य प्रणालियाँ ज़िम्मेदार हैं. संयुक्त राष्ट्र खाद्य एवँ कृषि संगठन (UNFAO) में जलवायु परिवर्तन विशेषज्ञ फ्रांसेस्को टुबिएलो और इटली में योरोपीय आयोग के साझा शोध केन्द्र के विशेषज्ञों द्वारा, साझा रूप से तैयार की गई यह रिपोर्ट, ‘नेचर फ़ूड’ नामक जर्नल में प्रकाशित हुई है. 

भोजन और खाद्य सुरक्षा में 'दालों' की महत्ता, विश्व दिवस

संयुक्त राष्ट्र, बुधवार को, 'विश्व दालें दिवस' मना रहा है जिसके तहत, ना केवल पोषण के स्रोत के रूप में दालों की महत्ता को रेखांकित करने, बल्कि ज़मीन की उर्वरता बढ़ाने और फ़सलों के कीड़ों का असर कम करने में, उनकी भूमिका के बारे में भी जानकारी बढाई जाती है.

भुखमरी और कोविड-19: ताकि कोई भी पीछे न छूट जाए

भारत और मालदीव के लिये यूएन शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) मिशन के प्रमुख, ऑस्कर मुंडिया और भारत में विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) के प्रतिनिधि और देश निदेशक, बिशोउ पराजुली का मानना है कि कोविड-19 महामारी से सबक़ सीखकर, खाद्य सुरक्षा का दायरा बढ़ाना चाहिये, ताकि भविष्य में भुखमरी की महामारी से बचा जा सके. 

फल व सब्ज़ियाँ - स्वस्थ जीवन व टिकाऊ दुनिया के लिये हैं बहुत अहम

संयुक्त राष्ट्र ने, मानव स्वास्थ्य में पोषण और खाद्य सुरक्षा में, फल व सब्ज़ियों की बहुत अहम भूमिका के बारे में जानकारी बढ़ाने के इरादे से, वर्ष 2021 को फल व सब्ज़ियों का अन्तरराष्ट्रीय वर्ष घोषित किया है. इस अवसर पर टिकाऊ खाद्य उत्पादन बढ़ाने और खाद्य पदार्थों को कूड़े-कचरे में तब्दील होने से रोकने के लिये और ज़्यादा प्रयास करने का भी आहवान किया गया है.

खाद्य एजेंसी का नोबेल भाषण: दुनिया को भुखमरी की महामारी से बचाने की पुकार

संयुक्त राष्ट्र की खाद्य सुरक्षा एजेंसी - विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) के प्रमुख डेविड बीज़ली ने कहा कि दुनिया भर में 27 करोड़ से भी ज़्यादा लोगों की आबादी भुखमरी के दरवाज़े पर खड़ी है और भुखमरी महामारी से बचने के लिये और ज़्यादा प्रयास करने की ज़रूरत है. डेविड बीज़ली ने यूएन खाद्य एजेंसी को मिला नोबेल शान्ति पुरस्कार, गुरुवार को स्वीकार करते हुए कहा कि ये संख्या पश्चिमी योरोप की आबादी से भी ज़्यादा है.

मेडागास्कर में सूखा के कारण, लोग कीड़े-मकौड़े खाने तक को मजबूर

विश्व खाद्य कार्यक्रम ने शुक्रवार को कहा है कि मेडागास्कर के दक्षिणी हिस्से में कई वर्षों से सूखा पड़ने के कारण भुखमरी लगातार बढ़ रही है, जिससे क्षेत्र की लगभग आधी आबादी यानि लगभग 15 लाख लोग बुरी तरह प्रभावित हुए हैं. इन हालात ने बहुत परिवारों को कीड़े-मकौड़े तक खाने को विवश कर दिया है.