भेदभाव

ब्रिटेन: श्वेत वर्चस्व को सामान्य बताने की कोशिश करने वाली रिपोर्ट की निन्दा

संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार विशेषज्ञों ने ब्रिटेन सरकार द्वारा समर्थित एक रिपोर्ट की यह कहते हुए निन्दा की है कि इसमें ऐतिहासिक तथ्यों को और ज़्यादा झूठ के आवरण में, व तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया है और इससे नस्लवाद व नस्लीय भेदभाव को बढ़ावा मिल सकता है.

सहिष्णुता के लिये रोड मैप

बांग्लादेश, भूटान, भारत, मालदीव, नेपाल और श्रीलंका के लिये यूनेस्को नई दिल्ली कार्यालय में निदेशक और प्रतिनिधि, एरिक फ़ॉल्ट का मानना है कि नस्लवाद दूर करने के लिये केवल अच्छी नीयत ही काफ़ी नहीं हैं, बल्कि नस्ल-विरोधी कार्रवाई भी ज़रूरी है.