बचपन

बच्चों की पुकार - हमारे अधिकार

1989 में बाल अधिकारों पर कन्वेंशन वजूद में आई थी जिसमें बच्चों के अधिकारों को लागू करने के वादे किए गए थे. तीस साल पूरे होने पर यूनीसेफ़ की रिपोर्ट में कहा गया है कि अभी बहुत कुछ करने की ज़रूरत है. बाल अधिकारों के लिए एक पुकार, उन्हीं की ज़ुबानी...

नौनिहालों और माता-पिता को बेहतर माहौल मिलना ज़रूरी

कामकाज और पारिवारिक जीवन के बीच स्वस्थ संतुलन क़ायम करने और दोनों स्थानों पर आनंदपूर्वक जीवन जीने में सहायक नीतियाँ बनाने में अनेक विकसित और धनी देश बहुत पीछे हैं. जबकि स्वीडन, नॉर्वे, आइसलैंड, एस्तोनिया और पुर्तगाल ऐसे देश हैं जहाँ कामकाजी जीवन के साथ परिवारिक जीवन जीने और माता-पिता के लिए छोटे बच्चों के साथ ज़्यादा समय बिताना आसान होता है.

शिशु विकास के लिए माता-पिता की देखभाल ज़रूरी

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष ने दुनिया भर के नेताओं का आहवान किया है कि वो पारिवारिक जीवन को आसान और बेहतर बनाने वाली नीतियाँ बनाएँ ताकि माता-पिता और अभिभावकों को अपने बच्चों को जीवन की अच्छी शुरूआत देने में मदद मिल सके. इस बारे में और ज़्यादा जागरूकता बढ़ाने के लिए यूनीसेफ़ ने जून महीने को माता-पिता व अभिभावक महीना घोषित किया है.

लड़ाई-झगड़े छीन लेते हैं शिक्षा के अवसर

  • लड़ाई झगड़े और प्राकृतिक आपदाएँ छीन लेती हैं करोड़ों बच्चों से शिक्षा का मौक़ा
  • करोड़ों बच्चों की मौत हो जाती है ऐसे कारणों से जिन्हें टाला जा सकता है
  • फ़िलीपीन्स में तूफ़ान से लाखों लोग बेघर, हुई भारी तबाही
ऑडियो -
14'51"

अशान्ति से छिन रहे शिक्षा के अवसर

ये तो हम सभी जानते हैं कि बचपन एक इंसान के वजूद और आकार की बुनियाद होता है. साथ ही बचपन में सही परवरिश और शिक्षा ही उसके भविष्य का रास्ता तय करने में बहुत अहम भूमिका निभाते हैं. लेकिन क्या किया जाए जब लड़ाई-झगड़े और प्राकृतिक आपदाएँ करोड़ों बच्चों से उनका बचपन और भविष्य दोनों ही छीन लें.

रोहिंज्या बच्चों के भविष्य पर गहराया संकट

  • बांग्लादेश पहुँचे लाखों रोहिंग्या बच्चों के भविष्य पर अँधेरा छा जाने का ख़तरा
  • तम्बाकू सेवन से लोगों की जान बचाने के लिए नई मुहिम चलाने की पुकार
  • मध्य पूर्व में ज़रूरतमन्दों तक मानवीय सहायता पहुँचाने में राजनीति को बाधा नहीं बनने देने का आह्वान
ऑडियो -
10'34"

बच्चे भुगत रहे हैं लड़ाई झगड़ों का ख़ामियाज़ा

  • अनेक देशों में लड़ाई-झगडों की वजह से बड़ी संख्या में बच्चों पर भारी आफ़त
  • इन झगड़ों की वजह से बढ़ रही है शरणार्थियों की संख्या मगर स्थान पड़ रहे हैं कम
  • इथियोपिया में साम्रदायिक हिंसा भड़कने से क़रीब दस लाख लोग विस्थापित
ऑडियो -
10'49"