आतंकवाद

निजेर के ऊआल्लम में स्थित एक शिविर में विस्थापित परिवार.
UN Photo/Eskinder Debebe

अफ़्रीका में अस्थिरता और हिंसक टकराव, आतंकवाद पनपने की बड़ी वजह

संयुक्त राष्ट्र उपमहासचिव आमिना मोहम्मद ने गुरूवार को सुरक्षा परिषद में प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि बढ़ता आतंकवाद, अन्तरराष्ट्रीय शान्ति व सुरक्षा के लिये एक बड़ा ख़तरा है, जिसे सबसे अधिक अफ़्रीका में महसूस किया जा रहा है.

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषध की आतंकवाद निरोधक समिति के सदस्य, दिल्ली घोषणापत्र की प्रतियों के साथ.
UN News/ Mayra Lopes

आतंकवाद निरोधक समिति ने डिजिटल आतंकवाद से लड़ाई के लिये जताया मज़बूत सकंल्प

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आतंकवाद निरोधक समिति की भारत में दो-दिवसीय विशेष बैठक के समापन पर शनिवार को एक दस्तावेज़ पारित किया गया है, जिसमें सदस्य देशों ने आतंक के डिजिटल रूपों की रोकथाम व उनसे निपटने के लिये प्रतिबद्धता व्यक्त की है, विशेष रूप से आतंकी गुटों द्वारा ड्रोन, सोशल मीडिया व ऑनलाइन धन उगाही के इस्तेमाल से उपजे ख़तरों पर पार पाने के लिये.

सोमालिया के एक होटल में आतंकी हमले के दौरान गोलीबारी में खिड़की का शीशा टूट गया.
UN Photo/Stuart Price

सुरक्षा परिषद की आतंकवाद निरोधक समिति की नई दिल्ली में बैठक – पहला सत्र

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आतंकवाद निरोधक समिति की दो-दिवसीय विशेष बैठक, 29 अक्टूबर, शनिवार को भारत की राजधानी नई दिल्ली में जारी रहेगी. समिति की इस विशेष बैठक में आतंकी गुटों द्वारा नई व उभरती हुई प्रौद्योगिकियों के इस्तेमाल और उससे पनपने वाले ख़तरों पर चर्चा होगी. जैसेकि इंटरनैट व सोशल मीडिया, आतंकवाद के लिये वित्त पोषण, और मानव रहित वायु प्रणालियाँ यानि ड्रोन इत्यादि.

इस बैठक के दूसरे दिन प्रात:कालीन सत्र का सीधा प्रसारण यहाँ उपलब्ध है...

 

मोशे होल्ज़बर्ग अपनी आया, सैंड्रा सैमुअल के साथ, जिन्होंने हमलों के दौरान बहादुरी से उन्हें बचा लिया था.
Courtesy of Moishe Holzberg

आतंकवाद निरोधक समिति की भारत में बैठक, आतंकी हमलों के पीड़ितों को श्रृद्धांजलि अर्पित

“सदस्य देशों के सभी प्रतिनिधियों से मेरी अपील है कि ये सुनिश्चित किया जाए कि किसी भी प्रकार के आतंकवाद को कोई भी सुरक्षित आश्रय ना मिले”: ये शब्द वर्ष 2016 में ब्रसेल्स आतंकी हमलों में जीवित बच गईं निधि छापेकर के हैं, जिन्होंने शुक्रवार को सुरक्षा परिषद की आतंकवाद निरोधक समिति की भारत में आयोजित हो रही एक विशेष बैठक को सम्बोधित किया.

बहुत से देश आतंकवादी ख़तरों और जोखिमों का सामना कर रहे हैं.
Photo: UNODC

सुरक्षा परिषद की आतंकवाद निरोधक समिति की मुम्बई में बैठक

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आतंकवाद निरोधक समिति की दो-दिवसीय विशेष बैठक, 28 अक्टूबर को भारत के मुम्बई शहर में शुरू हुई है. समिति की इस विशेष बैठक के ख़ास मुद्दे हैं: इंटरनेट व सोशल मीडिया, आतंकवाद के लिये वित्त, और मानव रहित वायु प्रणालियाँ यानि ड्रोन इत्यादि. इस बैठक में आतंकी गुटों द्वारा नई व उभरती हुई प्रौद्योगिकियों के इस्तेमाल और उससे पनपने वाले ख़तरों पर चर्चा होगी. बैठक का दूसरे दिन का सत्र शनिवार को नई दिल्ली में आयोजित होगा.

इस बैठक के पहले दिन की वीडियो कवरेज...

© Unsplash/Philipp Katzenberger

साक्षात्कार: आतंकवाद निरोधक समिति की भारत में विशेष बैठक, समिति अध्यक्ष के साथ बातचीत

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आतंकवाद निरोधक समिति की दो दिवसीय विशेष बैठक, शुक्रवार को भारत के मुम्बई शहर में शुरू हो रही है, जिसमें वैश्विक सुरक्षा के लिये, नवीन और उभरती प्रौद्योगिकियों से दरपेश बढ़ते ख़तरों का मुक़ाबला किये जाने के उपाय, चर्चा के मुख्य मुद्दे होंगे. समिति की प्रमुख और भारतीय राजदूत रुचिरा काम्बोज ने यूएन न्यूज़ के साथ एक बातचीत में बताया कि आतंकवादी तत्व, किस तरह नई व सबसे अधिक इस्तेमाल की जाने वाली प्रौद्योगिकी - सोशल मीडिया, का फ़ायदा उठा रहे हैं.

ड्रोन, अत्याधुनिक ढंग से निगरानी करने में सक्षम हैं.
© Unsplash/Peter Fogden

आतंकवाद: नई प्रौद्योगिकी के प्रयोग से उभरी चुनौतियाँ, निरोधक समिति की विशेष बैठक भारत में

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आतंकवाद निरोधक समिति की 28-29 अक्टूबर को भारत के मुम्बई और नई दिल्ली शहरों में शुक्रवार और शनिवार को एक विशेष बैठक होगी, जिसमें आतंकी गुटों द्वारा नई वर उभरती हुई प्रौद्योगिकियों के इस्तेमाल और उससे पनपने वाले ख़तरों पर चर्चा होगी.

सुरक्षा परिषद की आतंकवाद निरोधक समिति के पदाधिकारी. बीच में हैं - चेयरपर्सन रुचिरा काम्बोज, जोकि संयुक्त राष्ट्र में भारत की स्थाई प्रतिनिधि भी हैं.
CTED

यूएन आतंकवाद-निरोधक समिति की विशेष बैठक, भारत में

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आतंकवाद-निरोधक समिति की एक विशेष बैठक, अक्टूबर के अन्तिम सप्ताह में भारत में आयोजित हो रही है. उस सम्बन्ध में, इस समिति की चेयरपर्सन राजदूत रुचिरा काम्बोज ने एक प्रैस वार्ता में कहा है कि इस विशेष बैठक को, आतंकवादी उद्देश्यों के लिये नई प्रौद्योगिकियों के प्रयोग से उत्पन्न नए ख़तरों से सम्बन्धित, साक्ष्य आधारित नवीनतम शोध और हाल के घटनाक्रमों पर विचार करने के लिये एक अवसर के रूप में इस्तेमाल किया जाएगा.

बुर्कीना फ़ासो में एक सैनिक, माली व निजेर की सीमा पर सन्दिग्ध आतंकवादियों के विरुद्ध एक सैन्य अभियान के दौरान सतर्क अवस्था में.
© Michele Cattani

UNODC: पूरे अफ़्रीका क्षेत्र में, आतंकवाद की दहशत के साथ, संगठित अपराध बढ़ोत्तरी पर

संयुक्त राष्ट्र के मादक पदार्थ निरोधक कार्यालय (UNODC) की प्रमुख ग़ादा वॉली ने गुरूवार को सुरक्षा परिषद को बताया है कि पूरे अफ़्रीका क्षेत्र में, आतंकवाद और संगठित अपराध का ख़तरा लगातार बढ़ रहा है. उन्होंने आगाह भी किया है कि अवैध तस्करी, लाखों लोगों को सम्मानजनक आजीविका से वंचित कर रही है.