अकाल

यमन: अंसार अल्लाह गुट पर अमेरिकी कार्रवाई से अकाल की आशंका

संयुक्त राष्ट्र के वरिष्ठ अधिकारियों ने अमेरिका द्वारा, यमन में हूथी विद्रोहियों के अंसार अल्लाह गुट को एक आतंकवादी संगठन के रूप में चिन्हित किये जाने के निर्णय से मौजूदा मानवीय संकट के और ज़्यादा गहराने की आशंका जताई है. यूएन के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने गुरुवार को सुरक्षा परिषद की एक वर्चुअल बैठक के दौरान आगाह किया है कि यमन एक स्याह दौर से गुज़र रहा है.  

यमन: अदन हवाई अड्डे पर हुए हमले की तीखी भर्त्सना

यमन के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने बुधवार को अदन हवाई अड्डे पर हुए घातक हमले की तीखी भर्त्सना की है. इस हमले में कम से कम 26 लोगों के मारे जाने, और 50 से ज़्यादा के घायल होने की ख़बरें हैं.

यूनीसेफ़ की चेतावनी - संकटग्रस्त क्षेत्रों में लाखों बच्चे, अकाल के निकट

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष – यूनीसेफ़ ने कहा है कि वर्ष 2021 के दौरान, काँगो लोकतान्त्रिक गणराज्य, नाइजीरिया के पूर्वोत्तर इलाक़े, मध्य सहेल, दक्षिण सूडान और यमन में एक करोड़ से भी अधिक बच्चे अत्यन्त गम्भीर कुपोषण से जूझ रहे होंगे. यूनीसेफ़ ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर तत्काल ठोस क़दम नहीं उठाए गए तो ये संख्या और भी बढ़ सकती है.

खाद्य एजेंसी का नोबेल भाषण: दुनिया को भुखमरी की महामारी से बचाने की पुकार

संयुक्त राष्ट्र की खाद्य सुरक्षा एजेंसी - विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) के प्रमुख डेविड बीज़ली ने कहा कि दुनिया भर में 27 करोड़ से भी ज़्यादा लोगों की आबादी भुखमरी के दरवाज़े पर खड़ी है और भुखमरी महामारी से बचने के लिये और ज़्यादा प्रयास करने की ज़रूरत है. डेविड बीज़ली ने यूएन खाद्य एजेंसी को मिला नोबेल शान्ति पुरस्कार, गुरुवार को स्वीकार करते हुए कहा कि ये संख्या पश्चिमी योरोप की आबादी से भी ज़्यादा है.

यमन: 'अन्धाधुन्ध मानवाधिकार उल्लंघन, युद्धापराध के दायरे में आ सकते हैं'

संयुक्त राष्ट्र के विशेषज्ञों ने सुरक्षा परिषद और व्यापक अन्तरराष्ट्रीय समुदाय से युद्धग्रस्त देश यमन में मानवाधिकार उल्लंघन के अतार्किक और निर्बाध उल्लंघन के मामलों पर यह कहते हुए रोक लगाने का आहवान किया है कि अत्याचारों ने पूरे देश को अपनी चपेट में ले लिया है.

2021 में मुसीबत में फँसे लोगों की मदद के लिये 35 अरब डॉलर की अपील

संयुक्त राष्ट्र के आपदा राहत कार्यों के मुखिया मार्क लोकॉक ने कहा है कि वर्ष 2021 में, दुनिया भर में लगभग साढ़े 23 करोड़ लोगों को मानवीय सहायता व सुरक्षा की ज़रूरत होगी, जोकि एक रिकॉर्ड संख्या होगी, और वर्ष 2020 की तुलना में क़रीब 40 प्रतिशत ज़्यादा. उन्होंने कहा है कि ऐसा मुख्य रूप से कोविड-19 के कारणों से होगा.

सात देशों में अकाल को टालने के लिये 10 करोड़ डॉलर की रक़म जारी

संयुक्त राष्ट्र ने 7 देशों में अकाल का जोखिम टालने के लिये मंगलवार को 10 करोड़ डॉलर की रक़म जारी की है. ये ऐसे देश हैं जहाँ लड़ाई-झगड़ों, संघर्ष, युद्ध, आर्थिक पतन, जलवायु परिवर्तन और कोविड-19 महामारी के हालात ने भुखमरी का संकट पैदा कर दिया है. 

यमन: अकाल की आशंका के बीच व्यापक राजनैतिक समाधान की अपील

यमन में संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने स्थानीय लोगों की व्यथा पर ध्यान आकृष्ट करते हुए कहा है कि उनकी पीड़ाओं को दूर करने के लिये शान्ति प्रयासों में पूरी ऊर्जा झोंके जाने की ज़रूरत है. यूएन दूत ने बुधवार को वीडियो लिन्क के ज़रिये सुरक्षा परिषद को सम्बोधित करते हुए हिंसा रोकने, देश को खोलने और समावेशी राजनैतिक समाधान की तलाश तेज़ करने की पुकार लगाई है.

भुखमरी प्रभावित इलाक़ों में अकाल की आशंका - तत्काल कार्रवाई का आग्रह

खाद्य असुरक्षा से गम्भीर रूप से पीड़ित (Hot spots) बुरकिना फ़ासो, पूर्वोत्तर नाइजीरिया, दक्षिण सूडान और यमन, में पीड़ितों तक तत्काल सहायता प्रदान करने की आवश्यकता है ताकि उन्हें अकाल के गर्त में धँसने से बचाया जा सके. संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों ने शुक्रवार को इस सम्बन्ध में अपनी चेतावनी ज़ाहिर करते हुए अन्तरराष्ट्रीय समुदाय से  त्वरित कार्रवाई का आहवान किया है. 

यमन: युद्धरत पक्षों को शान्ति वार्ता के लिये साहस दिखाना होगा

संयुक्त राष्ट्र के एक वरिष्ठ मानवीय सहायता अधिकारी ने कहा है कि यमन में सभी युद्धरत पक्षों को आम लोगों की हिफ़ाज़त सुनिश्चित करने के लिये और ज़्यादा कार्रवाई करनी होगी. कई वर्ष से युद्धरत यमन में हाल के सप्ताहों के दौरान युद्धक गतिविधियों में मारे जाने वाले लोगों की संख्या काफ़ी बढ़ी है.