आजीविका

श्रीलंका में लगातार दो मौसम में ख़राब कृषि पैदावार होने के कारण खाद्य असुरक्षा का संकट गहरा हुआ है.
© UNICEF/Chameera Laknath

श्रीलंका: 34 लाख ज़रूरतमंदों तक जीवनरक्षक सहायता पहुँचाने के लिये संशोधित अपील

संयुक्त राष्ट्र ने विशाल आर्थिक संकट से गुज़र रहे देश, श्रीलंका के लिये अपनी मानव कल्याण आवश्यकताओं व प्राथमिकताओं के लिये प्रस्तावित योजना में संशोधन करते हुए 34 लाख से अधिक लोगों के लिये जीवनरक्षक सहायता सुनिश्चित किये जाने का अनुरोध किया है.

मध्य अफ़्रीकी गणराज्य में विस्थापितों के लिये बनाये गए एक शिविर में एक बच्चा उच्च-पोषण वाले बिस्किट खा रहा है.
© WFP/Bruno Djoyo

मध्य अफ़्रीकी गणराज्य: खाद्य असुरक्षा गहराने की आशंका, 6.84 करोड़ डॉलर की दरकार

विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) ने मध्य अफ़्रीकी गणराज्य (Central African Republic) के लिये चेतावनी जारी की है कि अगस्त महीने तक देश में, 22 लाख लोगों के समक्ष खाद्य असुरक्षा का संकट गहरा सकता है. हिंसक संघर्ष, जनसंख्या विस्थापन और खाद्य व बुनियादी वस्तुओं की क़ीमतों में तेज़ उछाल के कारण पहले से ही गम्भीर मानवीय हालात पर विनाशकारी असर होने की आशंका है.

UN Photo/Mark Garten

इण्टरव्यू: एक साथ मिलकर महासागरों की देखभाल करने का आग्रह

विश्व महासागर दिवस’ हर वर्ष 8 जून को मनाया जाता है, जोकि हमारे दैनिक जीवन में महासागरों की महत्वपूर्ण भूमिका पर फिर से ध्यान दिलाने का एक अवसर है. वर्ष 2022 की थीम, ऊर्जा का पुन: संचार: महासागरों के लिये सामूहिक कार्रवाई (Revitalization: collective action for the ocean) के ज़रिये उनकी रक्षा के लिये साथ मिलकर प्रयास किये जाने की अहमियत को रेखांकित किया जा रहा है.

अफ़ग़ानिस्तान के हेरात में कुछ महिलाएँ, वितरण केंद्र से खाद्य राहत सामग्री ला रही हैं. (2021)
© WFP/Marco Di Lauro

अफ़ग़ानिस्तान: आधी आबादी पर भूख का गम्भीर संकट, राहत उपायों में निवेश पर बल

संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों और साझीदार संगठनों के एक साझा विश्लेषण में आगाह किया गया है कि अफ़ग़ानिस्तान में एक करोड़ 97 लाख लोगों, यानि देश की क़रीब आधी आबादी, को गम्भीर भूख की मार झेलनी पड़ रही है और ज़िन्दगियों व आजीविकाओं के लिये ख़तरा बना हुआ है. यूएन एजेंसियों ने कृषि आधारित आजीविकाओं को मज़बूती प्रदान किये जाने समेत अन्य उपायों की अहमियत को रेखांकित किया है ताकि संकट को टाला जा सके. 

फ़रवरी 2022 में पूर्वी यूक्रेन  के नोवोग्नातिवका में अलगाववादी लड़ाकों की बमबारी में फँसा एक परिवार.
© UNICEF/Evgeniy Maloletka

यूक्रेन संकट: सर्वाधिक निर्बलों की सहायता व सहनक्षमता निर्माण के लिये कार्यक्रम 

संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) ने यूक्रेन पर रूसी सैन्य आक्रमण के कारण उपजे गम्भीर सामाजिक-आर्थिक संकट के मद्देनज़र एक नए समर्थन कार्यक्रम की घोषणा की है, जिसके ज़रिये अगले दो वर्षों में लाखों लोगों की ज़रूरतें पूरी की जाएंगी.

यमन के अल धलए में विस्थापितों के लिये बनाए गए शिविर में एक परिवार.
YPN for UNOCHA

रिहायशी इलाक़ों में विस्फोटक हथियारों का इस्तेमाल, आमजन की रक्षा पर बल

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने शहरों व नगरों में आबादी वाले इलाक़ों में विस्फोटक हथियारों के इस्तेमाल से आमजन की रक्षा के इरादे से, एक राजनैतिक घोषणापत्र तैयार करने की दिशा में हो रहे प्रयासों का स्वागत किया है. स्विट्ज़रलैण्ड के जिनीवा शहर में अगले सप्ताह इस विषय पर 6 से 8 अप्रैल तक बैठक आयोजित की जाएगी. 

 

कृष्णादत्तपुर गाँव में महिलाओं के नेतृत्व वाला किसान उत्पादक समूह.
UNDP India

भारत: खेत से बाज़ार तक, महिला किसानों का नेतृत्व

संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) ने वर्ष 2020 में, उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन (UPSRLM) के साथ साझेदारी में, कृषक परिवारों की महिलाओं को अपनी फ़सलें, खेत से बाज़ार तक पहुँचाने में अग्रणी भूमिका निभाने के लिये, एक परियोजना शुरू की थी. परिणामस्वरूप, ये ग्रामीण महिलाएँ, आज न केवल रूढ़ियाँ तोड़कर कृषि आपूर्ति श्रृँखला में बढ़-चढ़कर आगे आई हैं, बल्कि इससे उनकी आमदनी भी बढ़ी है.

अन्तरराष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) के अनुसार, दुनिया भर में, लगभग एक अरब लोगों को पर्पाय्त सामाजिक संरक्षा हासिल नहीं है जिनमें बहुत से दिहाड़ी विक्रेता भी शामिल हैं.
ILO Photo/Marcel Crozet

चरम निर्धनता में वृद्धि चिन्ताजनक, सार्वभौमिक सामाजिक संरक्षा उपाय हैं ज़रूरी

सामाजिक विकास के लिये यूएन आयोग का 60वाँ सत्र सोमवार को आरम्भ हुआ है, जिसमें कोविड-19 महामारी के कारण अत्यधिक निर्धनता और खाद्य असुरक्षा में, पिछले 20 वर्षों में पहली बार दर्ज की गई वृद्धि और इससे उपजी चुनौतियों से निपटने के उपायों पर चर्चा हो रही है.

वंदना राणा, भारत के पंजाब राज्य में विश्व बैन्क के ‘नई मंज़िल’ कार्यक्रम के लिये ‘कम्युनिटी मोबिलाइज़र’ के तौर पर काम करती हैं.
World Bank/Kashan Mustafa

भारत: अल्पसंख्यक समुदाय के युवाओं को शिक्षा व कामकाज से जोड़ने का प्रयास

भारत में विश्व बैंक की मदद से ‘नई मंज़िल’ नामक एक कार्यक्रम चलाया जा रहा है, जिसके अन्तर्गत अल्पसंख्यक समुदाय के ऐसे युवाओं को, कौशल प्रशिक्षण के ज़रिये आत्मनिर्भर बनाया जा रहा है जो शिक्षा से वंचित रह जाते हैं. ‘नई मंज़िल’ योजना पर विश्व बैंक के शिक्षा विशेषज्ञ, मेघना शर्मा, प्रद्युम्न भट्टाचार्जी और मार्गुराइट क्लार्क का संयुक्त ब्लॉग...

समुद्र सम्बन्धी आर्थिक गतिविधियों की वार्षिक वैश्विक क़ीमत, 1.5 खरब डॉलर से भी ज़्यादा आँकी गई है.
Ocean Image Bank/Umeed Mistry

महज़ पेट भरने के बजाय, समुचित पोषण पर ध्यान दिये जाने की दरकार

जलीय भोजन, प्रचुर मात्रा में प्रोटीन, सूक्ष्म पोषक तत्वों और अति-आवश्यक वसा अम्लों का स्रोत है, जिसके सेवन से बेहतर पोषण सुनिश्चित किया जा सकता है. विश्व खाद्य पुरस्कार (World Food Prize) विजेता, डॉक्टर शकुन्तला हरकसिंह थिल्सटेड ने, यूएन न्यूज़ के साथ एक ख़ास इण्टरव्यू में, 2021 के लिये टिकाऊ व सेहतमन्द आहार में, मछली और जलीय खाद्य प्रणालियों की अहम भूमिका को रेखांकित किया है.