आतंकवाद

अफ़ग़ानिस्तान: कुन्दूज़ की एक मस्जिद पर ‘भयावह’ हमले की कठोर निन्दा

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने उत्तरी अफ़ग़ानिस्तान के कुन्दूज़ शहर की एक शिया मस्जिद को निशाना बना कर किये गए आत्मघाती बम हमले की कठोरतम शब्दों में निन्दा की है. ख़बरों के अनुसार जुमे की नमाज़ के दौरान हुए इस हमले में 100 से ज़्यादा लोग हताहत हुए हैं. 

76वाँ सत्र: ईरान ने कहा, प्रतिबन्ध हैं युद्ध लड़ने का अमेरिकी तरीक़ा

ईरान के राष्ट्रपति सैयद इब्राहिम रईसी ने यूएन महासभा में उच्चस्तरीय जनरल डिबेट के दौरान अपने सम्बोधन में, अमेरिका द्वारा ईरान पर लगाए गए प्रतिबन्धों को, युद्ध लड़ने का एक तरीक़ा क़रार दिया है. ईरानी नेता ने अमेरिका से इन प्रतिबन्धों का अन्त किये की माँग की है. 

9/11 के हमलों में, बचावकर्मियों का बलिदान, इनसानियत व करुणा की एक बुलन्द मिसाल

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने 11 सितम्बर 2001 को न्यूयॉर्क सिटी में स्थित वर्ल्ड ट्रेड सैण्टर के दो प्रतिष्ठित टॉवरों पर हुए आतंकवादी हमले के, 20 वर्ष पूरे होने के मौक़े पर, उन बचावकर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित की है जो, अपनी ज़िन्दगियों की परवाह किये बिना, हमलों का शिकार बनी इमारतों में फँसे लोगों की ज़िन्दगियाँ बचाने के लिये, इमारतों की तरफ़ दौड़ पड़े थे.

अफ़ग़ानिस्तान: काबुल एयरपोर्ट पर आतंकी हमले की सुरक्षा परिषद ने की कड़ी निन्दा

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल के हवाई अड्डे पर, गुरूवार, 26 अगस्त को हुए हमलों की कड़े शब्दों में निन्दा की है. मीडिया ख़बरों के अनुसार इन हमलों में 13 अमेरिकी सैन्यकर्मियों सहित 100 से अधिक लोगों की मौत हुई है.

बुर्कीना फ़ासो: हिंसक हमले की तीखी भर्त्सना, जिसमें 80 की मौत

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने बुर्कीना फ़ासो के एक उत्तरी क़स्बे अरबिन्दा के निकट एक काफ़िले पर, बुधवार को हुए हमले की कड़ी निन्दा की है. उस हमले में लगभग 80 लोगों के मारे जाने की ख़बरें हैं.

यूएन न्यूज़ हिन्दी बुलेटिन, 20 अगस्त 2021

20 अगस्त 2021 के बुलेटिन की सुर्ख़ियाँ...

ऑडियो -
10'1"

आतंकवाद के पीड़ितों को यूएन का भरोसा: 'आप अकेले नहीं हैं'

आतंकवाद के प्रभावितों की याद में और अपना जीवन गँवा चुके लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित करने वाले चौथे वार्षिक दिवस के अन्तर्गत, शुक्रवार को, संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में, एक उच्च स्तरीय वार्षिक कार्यक्रम वर्चुअली आयोजित किया गया, जिसमें संयुक्त राष्ट्र के अधिकारियों के साथ-साथ, आतंकवाद से प्रभावित कुछ जीवितों ने भी शिरकत की. इस कार्यक्रम में, दुनिया भर में आतंकवाद के लगातार रूप बदलते ख़तरे के ख़िलाफ़, निकट सम्पर्क रखने, एकजुटता और लगातार चौकसी बरते जाने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया गया.

आतंकवादी गुटों का बढ़ता ऑनलाइन ख़तरा, अफ़्रीका में भी बढ़ रही मौजूदगी

संयुक्त राष्ट्र के आतंकवाद निरोधक कार्यों के लिये शीर्ष अधिकारी व्लादिमीर वोरोन्कोफ़ ने गुरूवार को, सुरक्षा परिषद में कहा है कि 11 सितम्बर 2001 को, न्यूयॉर्क में हुए आतंकवादी हमलों के दो दशक बाद भी, शान्ति व सुरक्षा के लिये, अल क़ायदा और दाएश (इस्लामिक स्टेट) जैसे आतंकी नैटवर्कों का ख़तरा अब भी बरक़रार है, क्योंकि ये संगठन नई टैक्नॉलॉजी का इस्तेमाल करने के साथ-साथ, कुछ बेहद नाज़ुक हालात वाले क्षेत्रों में दाख़िल हो रहे है.

अफ़ग़ानिस्तान: सुरक्षा परिषद की विशेष बैठक में अन्तरराष्ट्रीय एकजुटता की पुकार

अफ़ग़ानिस्तान में, बहुत से लोग तालेबान से बचने की कोशिशों के तहत इधर-उधर भागने और कुछ लोग विमानों पर सवार होने की कोशिशें करते देखे गए हैं, ऐसे में संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने सोमवार को सुरक्षा परिषद के एक विशेष सत्र को सम्बोधित करते हुए, अफ़ग़ानिस्तान मुद्दे पर, अन्तरराष्ट्रीय एकता का आहवान किया है.

अगस्त में सुरक्षा परिषद का अध्यक्ष भारत, महासभा प्रमुख के साथ कार्यक्रम पर चर्चा

संयुक्त राष्ट्र महासभा अध्यक्ष वोल्कान बोज़किर और संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई प्रतिनिधि टीएस तिरुमूर्ति के बीच बुधवार को एक मुलाक़ात हुई है जिसमें सुरक्षा परिषद के अगस्त महीने के कार्यक्रम पर चर्चा हुई है.