आमिना जे मोहम्मद

टिकाऊ विकास के लिये वित्त की ज़रूरत पहले से कहीं ज़्यादा, उप प्रमुख आमिना मोहम्मद

सुंयुक्त राष्ट्र की उप प्रमुख आमिना जे मोहम्मद ने सोमवार को कहा है कि संसाधन सम्पन्न और संसाधन वंचित लोगों के बीच अविश्वास की बढ़ती खाई के वातावरण में, टिकाऊ विकास के लिये, यथा सम्भव विभिन्न क्षेत्रों से पक्षकारों को शामिल करते हुए, वित्त का प्रबन्ध करना, इस समय पहले से कहीं ज़्यादा ज़रूरी है.

जलवायु कार्रवाई - सर्वजन को गरिमा, अवसर और समानता वाहन, आमिना जे मोहम्मद

संयुक्त राष्ट्र की उप महासचिव आमिना जे मोहम्मद का कहना है कि जलवायु कार्रवाई, सर्वजन के लिये, हरित व समान भविष्य की ख़ातिर, एक बदलाव वाहन बन सकती है. उन्होंने हाल ही में एक TED वार्ता में, सभी जगह के लोगों का आहवान किया कि वो अपने नेतृत्वकर्ताओं से, वैश्विक तापमान वृद्धि को सीमित करने के उनके वादों पर अमल करने की मांग करें.

'दुनिया घिरी हुई है - मानवीय सहायता अभियानों पर संकटों के तूफ़ान में'

संयुक्त राष्ट्र की उप प्रमुख आमिना जे मोहम्मद ने शुक्रवार को सुरक्षा परिषद में कहा है कि दुनिया भर में रक्त रंजित संघर्षों और अशान्त हालात में बहुत तेज़ी देखी गई है जिनके कारण मानवीय सहायता कार्यक्रम संकटों का सामना कर रहे हैं, और संघर्षों वाले क्षेत्रों में, आम आबादी को इसकी भारी क़ीमत चुकानी पड़ रही है.

दुनिया, 2030 एजेण्डा के मार्ग में, अहम पड़ाव पर, यूएन उप प्रमुख

संयुक्त राष्ट्र की उप महासचिव आमिना जे मोहम्मद ने कहा है कि दुनिया इस समय टिकाऊ विकास एजेण्डा 2030 के लक्ष्यों को प्राप्त करने के मार्ग पर, बहुत अहम पड़ाव पर खड़ी है. यूएन उप प्रमुख ने ये बात योरोपीय संसद की उपाध्यक्ष हाएदी हउतला के साथ एक वर्चुअल वार्ता के दौरान, बुधवार को कही.