2030 एजेंडा

कोविड-19: बेहतर पुनर्बहाली के लिये नीतिगत उपायों पर वित्त मन्त्रियों की बैठक

संयुक्त राष्ट्र की उपमहासचिव आमिना मोहम्मद ने मंगलवार को 193 सदस्य देशों के वित्त मन्त्रियों के साथ एक वर्चुअल बैठक में हिस्सा लिया जिसका उद्देश्य महामारी के बाद पुनर्बहाली के लिये नीतिगत विकल्पों का खाका तैयार करना था. इन नीति उपायों को इस महीने 29 सितम्बर को एक उच्चस्तरीय बैठक के दौरान विश्व नेताओं के समक्ष प्रस्तुत किया जायेगा.
 

बिज़नेस सैक्टर टिकाऊ विकास एजेण्डा की रफ़्तार में बहुत धीमा

निजी क्षेत्र पर संयुक्त राष्ट्र की एक नई रिपोर्ट में कहा गया है कि इन्सानों और पृथ्वी ग्रह के लिए एक टिकाऊ भविष्य सुनिश्चित करने के काम पर प्रगति बहुत धीमी है, और यूएन ग्लोबल कॉम्पैक्ट में शामिल कम्पनियाँ संयुक्त राष्ट्र के 2030 टिकाऊ विकास एजेण्डा पर अमल करने के लिए समुचित क़दम नहीं उठा रही हैं. ये रिपोर्ट यूएन ग्लोबल कॉम्पैक्ट ने जारी की है.

मानव जीवन को पोषित करते महासागरों की स्वास्थ्य-रक्षा का आहवान

महासागरों और मानवता के स्वास्थ्य के बीच बहुत गहरा सम्बन्ध है और रोज़मर्रा के जीवन में अनेक अमूल्य ज़रूरतों जैसे भोजन, आजीविका, परिवहन और व्यापार को पूरा करने में महासागरों का अहम योगदान है. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने सोमवार, 8 जून, को ‘विश्व महासागर दिवस’ के अवसर पर ध्यान दिलाया है कि प्लास्टिक प्रदूषण और जलवायु परिवर्तन जैसी चुनौतियों से महासागरों की रक्षा करने के लिए अभिनव समाधान तलाश करने होंगे.

महासागर संरक्षण के लिए ज़रूरत है फ़ौलादी इरादों की

दुनिया जब कोविड-19 महामारी की चपेट में नज़र आ रही है तो महासागरों की हिफ़ाज़त करने के लिए फ़ौलादी इरादे वाले व्यवहारवाद की आवश्यकता है. ये कहना है महासागरों के लिए संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश के विशेष दूत पीटर थॉम्पसन का, जिन्होंने 8 जून को मनाए जाने वाले विश्व महासागर दिवस के मौक़े पर ये बात कही है. 

अन्तरराष्ट्रीय चाय दिवस: एक अदद प्याले में समाई है दुनिया

कला, संस्कृति, विरासत और लाखों-करोड़ों लोगों के लिए आजीविका का स्रोत - चाय महज़ एक पेय पदार्थ नहीं है बल्कि उससे कहीं बढ़कर है. गुरुवार को पहली बार मनाए जा रहे ‘अन्तरराष्ट्रीय चाय दिवस’ पर आयोजित एक वर्चुअल कार्यक्रम में संयुक्त राष्ट्र महासभा के प्रमुख तिजानी मोहम्मद बांडे ने टिकाऊ विकास के 2030 एजेंडा में चाय के योगदान की सराहना की.

जलवायु परिवर्तन से जंग स्कूली छात्रों के संग

संयुक्त राष्ट्र की एक ताज़ा रिपोर्ट दर्शाती है कि जलवायु परिवर्तन के कारण पर्यावरण से जुड़े हर पहलू पर व्यापक असर पड़ रहा है. इस विशालकाय चुनौती से निपटने में स्कूलों, छात्रों और शिक्षकों की क्या भूमिका हो सकती है और वे किस तरह नए और अभिनव समाधानों का हिस्सा बन सकते हैं? संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) की एक पहल इसी दिशा में प्रयासों पर केंद्रित है.

वैश्विक लक्ष्यों पर प्रगति के लिए नया वित्तीय आयोग

संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष तिजानी मोहम्मद-बांडे ने मंगलवार को सदस्य देशों से एक नए  वित्तीय आयोग को समर्थन देने की अपील की है जो वर्ष 2030 तक टिकाऊ विकास लक्ष्यों को वास्तविक बनाने के इरादे से गठित किया गया है.

विकलांगता सम्बन्धी अधिकारों पर नेतृत्व के लिए तैयार है यूएन

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि विकलांग व्यक्तियों के अधिकार सुनिश्चित करने के विषय पर यूएन उदाहरण पेश करते हुए नेतृत्व करने के लिए तैयार है. यूएन प्रमुख ने मंगलवार, 3 दिसंबर, को 'विकलांग व्यक्तियों के अंतरराष्ट्रीय दिवस' पर अपने संदेश में कहा है कि विकलांग व्यक्तियों के मानवाधिकारों की रक्षा करना टिकाऊ विकास लक्ष्यों के नज़रिए से भी महत्वपूर्ण है.

टिकाऊ शहरों के निर्माण में युवाओं व तकनीक की अहम भूमिका

विश्व की आधी से ज़्यादा आबादी – 3.9 अरब - अब शहरों में रहती है और वर्ष 2050 तक यह संख्या दोगुनी होने की संभावना है. बढ़ते शहरीकरण से नई चुनौतियां पैदा हो रही हैं, लेकिन शहर भावी पीढ़ियों के लिए बेहतर जीवन सुनिश्चित करने और टिकाऊ विकास लक्ष्यों को हासिल करने में अग्रणी भूमिका भी निभा सकते हैं. 31 अक्टूबर को ‘विश्व शहर दिवस’ के अवसर पर यही रेखांकित करने का प्रयास किया जा रहा है.

दूसरी कमेटीः दुनिया को एक बेहतर स्थान बनाने की ज़िम्मेदारी

संयुक्त राष्ट्र अपने सबसे महत्वाकांक्षी और दूरगामी परिणामों वाले प्रोजेक्टः 2030 एजेंडा को किस तरह आगे बढ़ा रहा है जिसका उद्देश्य विश्व को बदलना है? ये विशालकाय ज़िम्मेदारी संयुक्त राष्ट्र महासभा की दूसरी कमेटी के कंधों पर है. ये कमेटी दुनिया भर में आर्थिक और वित्तीय मामलों के बारे में महत्वपूर्ण नीति बनाती है और फ़ैसले लेती है.