वैश्विक परिप्रेक्ष्य मानव कहानियां

हेती में 'ऐतिहासिक समर्थन मिशन' को सुरक्षा परिषद की स्वीकृति

यूएन सुरक्षा परिषद ने, हेती में बह-राष्ट्रीय सुरक्षा समर्थन मिशन की स्वीकृति देने वाला एक प्रस्ताव, रिकॉर्ड मतों से पारित किया. (2 अक्टूबर 2023)
UN Photo/Paulo Filgueiras
यूएन सुरक्षा परिषद ने, हेती में बह-राष्ट्रीय सुरक्षा समर्थन मिशन की स्वीकृति देने वाला एक प्रस्ताव, रिकॉर्ड मतों से पारित किया. (2 अक्टूबर 2023)

हेती में 'ऐतिहासिक समर्थन मिशन' को सुरक्षा परिषद की स्वीकृति

शान्ति और सुरक्षा

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने, हेती में गैंग हिंसा पर क़ाबू पाने और देश भर में सुरक्षा बहाल करने में, राष्ट्रीय पुलिस की मदद करने के लिए, एक अन्तरराष्ट्रीय सुरक्षा बल की तैनाती को स्वीकृति दी है. सोमवार को पारित इस प्रस्ताव को ऐतिहासिक घटनाक्रम क़रार दिया गया है.

इस समर्थन मिशन के लिए, हेती सरकार और सिविल सोसायटी संगठनों ने अनुरोध किया था. ग़ौरतलब है कि हेती में अनेक महीनों से अशान्त हालात, लगातार और भी बदतर हो रहे हैं, जिससे आम लोग व्यापक रूप से प्रभावित हैं.

Tweet URL

वर्ष 2023 के दौरान ही तीन हज़ार से अधिक लोगों की मौतें हुई हैं और, फ़िरोती के लिए अपहरण के 1,500 से अधिक मामले हुए हैं.

गैंग हिंसा से सुरक्षा पाने की ख़ातिर, लगभग दो लाख लोगों को अपने घर छोड़ने के लिए विवश होना पड़ा है, जबकि सशस्त्र गुटों के हाथों महिलाओं व लड़कियों के विरुद्ध यौन हिंसा और दुर्व्यवहार की घटनाएँ भी उछाल पर हैं. हज़ारों बच्चे, शिक्षा के लिए स्कूल जाने में असमर्थ हैं.

सुरक्षा परिषद में ये प्रस्ताव सोमवार को 13 मतों के समर्थन से पारित हुआ. दो सदस्यों (रूस और चीन) ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया. 

इस प्रस्ताव के तहत, हेती में एक बहु-राष्ट्रीय सुरक्षा समर्थन मिशन तैनात किया जाएगा जो अति-महत्वपूर्ण ढाँचे, और हवाई अड्डे, बन्दरगाह, स्कूलों, अस्पतालों और महत्वपूर्ण परिवहन बिन्दुुओं जैसे स्थानों को सुरक्षित बनाने में मदद करेगा.

यह ग़ैर-यूएन मिशन, हेती में लाखों ज़रूरतमन्द लोगों तक मानवीय सहायता की निर्बाध और सुरक्षित पहुँच सुनिश्चित करने में भी मदद करेगा. 

यह प्रस्ताव, यूएन चार्टर के अध्याय-7 के तहत पारित किया गया है, जिसमें अन्तरराष्ट्रीय शान्ति व सुरक्षा क़ायम रखने की, सुरक्षा परिषद की ज़िम्मेदारी वर्णित है. इस प्रस्ताव को संयुक्त राज्य अमेरिका और ऐकुआडोर ने तैयार किया था.

एकजुटता की कार्रवाई

हेती के विदेश मंत्री जियाँ विक्टर जेनेउस ने, यह ऐतिहासिक प्रस्ताप सुरक्षा परिषद में प्रस्तुत करने और उसे समर्थन के लिए राजदूतों का शुक्रिया अदा किया. हेती इस समय सुरक्षा परिषद का सदस्य नहीं है.

उन्होंने सदस्य देशों से, इस समर्थन मिशन के लिए यथाशीघ्र अपनी प्रतिबद्धता प्रदर्शित करने का आग्रह किया ताकि देश में एक सुरक्षित व स्थिर वातावरण बहाल करने के साथ-साथ लोकतांत्रिक संस्थाओं को फिर से स्थापित किया जा सके.

हेती में मानवाधिकार स्थिति

  • मानवाधिकार स्थिति, क्रूर हमलों से दो चार है जिनमें लोगों की अन्धाधुन्ध हताएँ, और आम आबादी को निशाना बनाने वाले अपहरण मामले शामिल हैं.
  • गैगों द्वारा, आम लोगों के विरुद्ध सशस्त्र हिंसा में तेज़ी हो रही है.
  • गैंगों ने लोगों पर अन्धाधुन्ध गोलियाँ चलाने के लिए, छतों पर से आधुनिक हथियारों का प्रयोग किया है.
  • बड़े पैमाने पर लूटपाट और घरों को जलाए जाने के परिणामस्वरूप, हज़ारों लोगों को विस्थापन के लिए विवश होना पड़ा है.
  • गैंग, विशेष रूप से महिलाओं व लड़कियों में, अपना आतंक फैलाने के लिए,  यौन हिंसा सहित सामूहिक बलात्कार का प्रयोग कर रहे हैं.
  • राष्ट्रीय संस्थान, क़ानून का शासन पुनः स्थापित करने में असमर्थ हैं.
  • हेती में सुरक्षा स्थिति को स्थिर बनाने के लिए, राष्ट्रीय पुलिस को काफ़ी बड़े पैमाने पर सहायता की दरकार होगी.