वैश्विक परिप्रेक्ष्य मानव कहानियां

सतत विकास के वैश्विक मिशन में भारत की अतुलनीय भूमिका, महासभा अध्यक्ष

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई मिशन ने, वैश्विक दक्षिण के लिए, भारत की साझेदारी विषय पर, 23 सितम्बर 2023 को न्यूयॉर्क में एक विशेष चर्चा आयोजित की.
Permanent Mission of India to the UN
संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई मिशन ने, वैश्विक दक्षिण के लिए, भारत की साझेदारी विषय पर, 23 सितम्बर 2023 को न्यूयॉर्क में एक विशेष चर्चा आयोजित की.

सतत विकास के वैश्विक मिशन में भारत की अतुलनीय भूमिका, महासभा अध्यक्ष

एसडीजी

संयुक्त राष्ट्र महासभा अध्यक्ष डेनिस फ़्रांसिस ने शनिवार को कहा है कि भारत, दुनिया की आबादी के लगभग छठे हिस्से का घर है और बेहतर व अधिक टिकाऊ विश्व के वैश्विक मिशन में, भारत की अतुलनीय भूमिका है.

डेनिस फ़्रांसिस ने, संयुक्त राष्ट्र में भारतीय मिशन द्वारा –वैश्विक दक्षिण के लिए भारत-यूएन: विकास उपलब्धि नामक विषय पर आयोजित एक मंत्रिस्तरीय संगोष्ठि में ये विचार व्यक्त किए.

उन्होंने कहा कि जी20 समूह की भारत की अध्यक्षता, एक ऐतिहासिक मील का पत्थर है, जिसमें पहले बीर अफ़्रीकी संघ को एक स्थाई सदस्य के रूप में शामिल किया गया, और जोकि पूरे वैश्विक दक्षिण में एकजुटता और सहयोग का प्रतीक है.

उन्होंने कहा कि भारत की योगदान की विरासत एक पथप्रदर्शक मशाल का काम करती है जिसमें, लोकतंत्र की हिमायत, महिलाओं के नेतृत्व वाले विकास को प्रोत्साहन, और संयुक्त राष्ट्र के वैश्विक लक्ष्यों को अपनाने में अग्रणियों में शामिल होने जैसे मिशन शामिल हैं.

डेनिस फ़्रांसिस ने कहा, “यूएन महासभा की प्रथम महिला अध्यक्ष - विजयलक्ष्मी पंडित के पदचिन्हों पर चलना, वास्तव में, मेरे लिए महान सम्मान की बात है. जिन्हें भारत ने गर्व के साथ संयुक्त राष्ट्र को समर्पित किया था.”

उन्होंने कहा कि आज का ये कार्यक्रम, जी20 के सन्देश को दोहराता है: वसुधैव कुटुम्बकम – यानि विश्व एक परिवार और हमें एक दूसरे को समर्थन देना चाहिए.

महासभा अध्यक्ष ने कहा कि इस पूरे सप्ताह, हमने वैश्विक संकटों पर विचार-विमर्श किया और इस सहमत हुए कि हमें सतत विकास एजेंडा के लिए हमारे संकल्पों और उसके क्रियान्वयन के बीच मौजूद अन्तर को पाटना होगा.

इस कार्यक्रम में, भारत में संयुक्त राष्ट्र कार्यालय (UN in India) और गेट्स फ़ाउंडेन के बीच, विकास भागेदारी के लिए, इच्छा पत्र पर न्यूयॉर्क में हस्ताक्षर किए गए.

वैश्विक दक्षिण की आवाज़ बुलन्द

भारत में संयुक्त राष्ट्र कार्यालय और गेट्स फ़ाउंडेन के बीच, विकास भागेदारी के लिए, इच्छा पत्र पर न्यूयॉर्क में हस्ताक्षर हुए (23 सितम्बर 2023)
Permanent Mission of India to the UN

भारतीय मिशन द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी में कहा गया है कि हाल ही में नई दिल्ली में आयोजित हुए जी20 देशों के नेताओं के शिखर सम्मेलन ने, वैश्विक दक्षिण की चिन्ताओं को इस समूह के एजेंडा में शामिल कर दिया है.

इस जानकारी में कहा गया है कि वैश्विक दक्षिण के साथ सहयोग को जारी रखना बहुत अहम है, जिसमें संयुक्त राष्ट्र के मंच पर सहयोग भी शामिल है. 

भारतीय मिशन के अनुसार, भारत-यूए विकास साझेदारी कोष सहित अनेक ऐसे कोष सक्रिय हैं, जो वैश्विक दक्षिण के साथ इस सहयोग के गवाह हैं.

कार्यक्रम में यूएन विकास कार्यक्रम के प्रशासक अख़िम श्टाइनर, भारत में संयुक्त राष्ट्र के रैज़िडैंड कोऑर्डिनेटर (RCO) शॉम्बी शार्प, भारत के विदेश मंत्री डॉक्टर एस जयशंकर, संयुक्त राष्ट्र में भारत की स्थानीय प्रतिनिधि राजदूत रुचिरा काम्बोज के अलावा, समोआ की प्रधानमंत्री सहित, विभिन्न देशों के मंत्रियों और ने भी विचार व्यक्त किए.