वैश्विक परिप्रेक्ष्य मानव कहानियां

आधी आबादी बुनियादी स्वास्थ्य कवरेज़ से वंचित, व्यापक बदलावों की ज़रूरत

मैसीडोनीया में, सात वर्षीय एक बच्चे को डीपीटी का टीका लगाए जाते हुए.
© UNICEF/Tomislav Georgiev
मैसीडोनीया में, सात वर्षीय एक बच्चे को डीपीटी का टीका लगाए जाते हुए.

आधी आबादी बुनियादी स्वास्थ्य कवरेज़ से वंचित, व्यापक बदलावों की ज़रूरत

स्वास्थ्य

संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी – WHO ने सोमवार को कहा है कि दुनिया भर में लगभग साढ़े चार अरब लोग, बुनियादी स्वास्थ्य सेवाओं से वंचित हैं और इस चुनौती का सामना करने के लिए, अधिक राजनैतिक प्रतिबद्धता और अधिक सरकारी निवेश की ज़रूरत है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन और विश्व बैंक की एक संयुक्त रिपोर्ट में कहा गया है कि इस संख्या के अतिरिक्त, लगभग दो अरब लोगों को, अनिवार्य चिकित्सा उपचार के लिए धन, जब अपनी जेब से चुकाना पड़ता है तो उन्हें गम्भीर वित्तीय कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है.

यूएन स्वास्थ्य एजेंसी के महानिदेशक डॉक्टर टैड्रॉस ऐडहेनॉम घेबरेयेसस ने कहा है, “ये तथ्य कि इतने सारे लोग, एक किफ़ायती, गुणवत्ता वाली, अनिवार्य सेवाओं से लाभान्वित नहीं हो सकते हैं, जिससे ना केवल उनका स्वास्थ्य जोखिम में पड़ता है, बल्कि समुदायों, समाजों और अर्थव्यवस्थाओं की स्थिरता भी ख़तरे में पड़ती है.”

उन्होंने कहा, “हमें अधिक मज़बूत राजनैतिक इच्छाशक्ति, स्वास्थ्य में और अधिक आक्रामक निवेश, और प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल पर आधारित, स्वास्थ्य प्रणालियों का कायापलट करने के लिए,  एक निर्णायक बदलाव की आवश्यकता है.”

वैश्विक स्वाथ्य लक्ष्यों के लिए खतरे की घंटी

ये संकट, वैश्विक स्वास्थ्य सम्बन्धी सतत विकास लक्ष्यों (SDGs) के लिए एक बड़ा जोखिम उत्पन्न करता है, जिनका उद्देश्य वर्ष 2030 तक सर्वजन के लिए सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज की प्राप्ति है.

रिपोर्ट के अनुसार, पिछले दो दशकों के दौरान, दुनिया भर के एक तिहाई से भी कम देशों में, बेहतर स्वास्थ्य सेवा कवरेज मौजूद है.

पटरी पर वापसी

रिपोर्ट, इन महत्वाकांक्षी लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए पटरी पर वापसी के लिए, सरकारों और विकास साझादारों द्वारा, सार्वजनिक क्षेत्र में ठोस संसाधन निवेश की पुकार भी लगाती है.

रिपोर्ट स्वास्थ्य प्रणालियों में आधार-भूत बदलावों की ज़रूरत को रेखांकित करती है, जिनमें प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल, बेहतर समानता और वित्तीय संरक्षण को प्राथमिकता मिले.

निर्धनता से बचने में लोगों की मदद

विश्व बैंक में मानव विकास के लिए उपाध्यक्ष ममता मूर्ति का कहना है, “हम जानते हैं कि सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज की प्राप्ति, लोगों को निर्धनता से बचाने और निर्धनता से बाहर रहने में एक महत्वपूर्ण क़दम है, इसके बावजूद, निर्धनतम और बेहद निर्बल हालात वाले लोगों के लिए, विशेष रूप से बहुत अधिक वित्तीय कठिनाइयाँ मौजूद हैं.”

यह रिपोर्ट, यूएन महासभा के 78वें सत्र के तहत, उच्चस्तरीय जनरल डिबेट के अवसर पर जारी की गई है, जो मंगलवार को शुरू हो रहा है. 

इस सत्र में, विश्व नेताओं से कार्रवाई करने और सार्वभौमिक स्वास्थ्य को, सर्वजन के लिए एक वास्तविकता बनाने के लिए, संकल्पों व प्रतिबद्धताओं की अपेक्षा है.