वैश्विक परिप्रेक्ष्य मानव कहानियां

येरूशेलम में एक सिनेगॉग पर आतंकवादी हमले की कड़ी निन्दा

येरूशेलम शहर का एक दृश्य.
UN News/Shirin Yaseen
येरूशेलम शहर का एक दृश्य.

येरूशेलम में एक सिनेगॉग पर आतंकवादी हमले की कड़ी निन्दा

क़ानून और अपराध रोकथाम

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने येरूशेलम के एक यहूदी उपासनास्थल – सिनेगॉग में, शुक्रवार को एक फ़लस्तीनी हमलावर द्वारा किए गए आतंकवादी हमले की कड़ी निन्दा की है. इस हमले में कम से कम सात इसराइली लोगों के मारे जाने और अनेक लोगों के घायल होने की ख़बरें हैं.

Tweet URL

यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने अपने प्रवक्ता स्तेफ़ान दुजैरिक के माध्यम से जारी एक प्रैस वक्तव्य में, मृतकों के परिवारों के प्रति शोक संवेदना व्यक्त करने के साथ-साथ,  घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना भी की है.

प्रैस वक्तव्य में कहा गया है कि ये विशेष रूप से घृणित है कि ये हमला एक उपासनास्थल पर किया गया, और वो भी तब, जबकि हम यहूदियों के जनसंहार यानि हॉलोकास्ट का अन्तरराष्ट्रीय स्मरण दिवस मना रहे हैं.

यूएन प्रमुख ने कहा कि आतंकवाद के कृत्यों को किसी भी आधार पर न्यायसंगत नहीं ठहराया जा सकता है. सभी को ऐसे कृत्यों की कड़े शब्दों में निन्दा करने के साथ-साथ, उन्हें रद्द भी करना चाहिए.

प्रैस वक्तव्य में कहा गया है कि यूएन महासचिव इसराइल और उसके द्वारा क़ाबिज़ फ़लस्तीनी क्षेत्र में, मौजूदा हिंसा भड़काव को लेकर गम्भीर रूप से चिन्तित हैं. उन्होंने कहा है ये समय अत्यधिक संयम बरतने का है.

सभ्यताओं के लिए संयुक्त राष्ट्र गठबन्धन (UNAOC) के लिए उच्च प्रतिनिधि मिगुएल ऐंजेल मोराटिनोस ने भी इस आतंकवादी हमले की कड़ी निन्दा की है, जिसमें एक फ़लस्तीनी बन्दूकधारी ने, पूर्वी येरूशेलम नेवे याकोव इलाक़े में एक गिरिजाघर के बाहर यहूदी धर्मावलम्बियों को निशाना बनाया.

उच्च प्रतिनिधि ने ज़ोर देकर कहा कि इस तरह का जघन्य अपराध चाहे कभी भी, कहीं भी, और कोई भी करे, उसे किसी भी आधार पर सही नहीं ठहराया जा सकता.

उच्च प्रतिनिधि ने पीड़ितों के परिजन के प्रति शोक संवेदना प्रकट की है और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना भी की है.