दक्षिण अफ्रीका: गैस टैंकर विस्फोट में 34 लोगों की मौत पर यूएन प्रमुख ने जताया शोक

केप टाउन, दक्षिण अफ्रीका में एक तेल रिग
© Unsplash/Clyde Thomas
केप टाउन, दक्षिण अफ्रीका में एक तेल रिग

दक्षिण अफ्रीका: गैस टैंकर विस्फोट में 34 लोगों की मौत पर यूएन प्रमुख ने जताया शोक

यूएन मामले

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने दक्षिण अफ्रीका के जोहानेसबर्ग शहर में ईंधन टैंकर में हुए धमाके में क़रीब 34 लोगों की मौत होने पर गहरा शोक प्रकट किया है. यह विस्फोट क्रिसमस से ठीक पहले जोहानसबर्ग के एक उपनगर में हुआ, जिसमें बड़ी संख्या में लोग हताहत हुए.

बोक्सबर्ग इलाक़े में हुए इस विस्फोट की वजह से टैम्बो मेमोरियल अस्पताल में आपातकालीन विभाग की छत बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई.

साथ ही, आसपास के कईं घरों और वाहनों को भी नुक़सान पहुँचा है.

Tweet URL

क्षेत्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के अनुसार, आरम्भिक समाचारों में 27 लोगों की मौत होने की आशंका व्यक्त की गई थी, मगर मृतक संख्या पिछले सप्ताहान्त तक बढ़ कर 34 हो गई.

पिछले सप्ताह, शुक्रवार को मृतकों की याद में एक स्मरण सेवा आयोजित की गई थी.

ख़बरों के अनुसार, पीड़ितों में अनेक स्वास्थ्यकर्मी व अन्य स्थानीय लोग हैं, जिनमें बच्चे भी बताए गए हैं.

बुरी तरह जल जाने के कारण मृतक संख्या और बढ़ने की आंशका है.

सम्वेदना सन्देश

संयुक्त राष्ट्र प्रवक्ता कार्यालय ने महासचिव की ओर से एक वक्तव्य जारी किया, जिसमें यूएन प्रमुख ने पीड़ित परिवारों और दक्षिण अफ्रीकी सरकार के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है.

“महासचिव गुटेरेश घायलों के जल्द स्वस्थ होने और क्षतिग्रस्त स्वास्थ्य ढाँचे के शीघ्र पुनर्निर्माण की कामना करते हैं."

समाचार माध्यमों के अनुसार, धमाका होने से पहले, गैस टैंकर एक पुल के निचले हिस्से से टकराया, जिसके बाद इसमें विस्फोट हो गया. कुछ समय बाद पुल की छत भी ढह गई.

हमले के बाद, अनेक पीड़ितों को जल्द बाहर निकालकर, अस्पताल के आकस्मिक विभाग में भर्ती कराया गया था.