UNGA77: महासभा के 77वें सत्र के बारे में 5 अहम तथ्य

31 अगस्त 2022

संयुक्त राष्ट्र महासभा के 77वें सत्र के उद्घाटन में कुछ ही सप्ताह शेष हैं, कोविड-19 के कारण दो साल के व्यवधान के बाद, संयुक्त राष्ट्र राजनयिक समुदाय और न्यूयॉर्क शहर के निवासी, दुनिया भर से राष्ट्राध्यक्षों और शासनाध्यक्षों के वार्षिक आगमन के लिये तैयार हैं. अभी बहुत से विवरणों की पुष्टि किया जाना बाक़ी है, लेकिन 13 से 26 सितम्बर के बीच होने वाले इस उच्च स्तरीय सत्र के बारे में जानने योग्य पाँच प्रमुख तथ्य इस प्रकार हैं.

संयुक्त राष्ट्र महासभा के 77वें सत्र के लिये अध्यक्ष क्साबा कॉरोसी, महासभा को सम्बोधित करते हुए.
UN Photo/Eskinder Debebe
संयुक्त राष्ट्र महासभा के 77वें सत्र के लिये अध्यक्ष क्साबा कॉरोसी, महासभा को सम्बोधित करते हुए.

1. नए महासभा अध्यक्ष, हंगरी से

नए सत्र का अर्थ है महासभा के नए अध्यक्ष. वर्तमान पीजीए - जो संयुक्त राष्ट्र महासभा अध्यक्ष का संक्षिप्त नाम है - मालदीव के अब्दुल्ला शाहिद की जगह हंगरी के क्साबा कॉरोसी अगले बारह महीनों के लिये पदभार सम्भालेंगे.

सोमवार, 12 सितम्बर को नए अध्यक्ष को पदभार सौंपा जाएगा; अब्दुल्ला शाहिद महासभा के 76वें सत्र को सुबह बन्द करेंगे, और 77वें सत्र को आधिकारिक तौर पर उसी दिन दोपहर 3 बजे खोला जाएगा (उस समय साइट लाइव हो जाएगी).

क्साबा कॉरोसी ने अपने देश के विदेश मंत्रालय में विभिन्न भूमिकाओं में काम किया है. हाल ही में, वो हंगरी के राष्ट्रपति के कार्यालय में, पर्यावरणीय स्थिरता के निदेशक के रूप में काम कर रहे थे. क्साबा कॉरोसी, कई वर्षों से संयुक्त राष्ट्र के साथ जुड़े हुए हैं, और 2011-2012 में 67वें सत्र के दौरान महासभा के उपाध्यक्ष का कार्यभार भी सम्भाल चुके हैं. इसलिये शायद महासभा अध्यक्ष की भूमिका के लिये उन्हें बहुत ज़्यादा सीखने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी.

2. ‘शिक्षा परिवर्तन सम्मेलन’

हमेशा की तरह, अन्तरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान (बड़ी संख्या में पुलिस, और न्यूयॉर्क के निवासियों से ट्रैफ़िक जाम की शिकायतों समेत), मंगलवार 20 सितम्बर से शुरू होने वाले उच्च-स्तरीय चर्चा सप्ताह के आसपास केन्द्रित होगा.

हालाँकि, सप्ताह पहले संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में होने वाली शिक्षा परिवर्तन सम्मेलन (Transforming Education Summit), जो शुक्रवार 16, शनिवार 17 और सोमवार 19 सितम्बर को होना है - संगठन के प्रमुख कार्यक्रमों में से एक होता है.

शुक्रवार को, युवाओं के नेतृत्व में और युवाओं द्वारा आयोजित "सक्रियता दिवस" (Mobilisation Day) पर, शिक्षा पर युवाओं की चिन्ताएँ, निर्णय एवं नीति निर्माताओं के समक्ष रखे जाएंगे, व दुनिया भर में शिक्षा में बदलाव को समर्थन देने के लिये, वैश्विक जनता, युवाओं, शिक्षकों, नागरिक समाज तथा अन्य लोगों को जुटाने पर ध्यान केन्द्रित किया जाएगा. 

दूसरा दिन समाधानों के बारे में होगा, और इस दिन उन पहलों को मंच प्रदान किया जाएगा, जो शिक्षा को बदलने में योगदान दें सकें. इस दिन को लगभग पाँच विषयों ("थीमैटिक एक्शन ट्रैक्स") में बाँटा गया है: समावेशी, न्यायसंगत, सुरक्षित और स्वस्थ स्कूल; जीवन के लिये शिक्षा एवं कौशल विकास; कामकाज व टिकाऊ विकास; शिक्षक, शिक्षण तथा शिक्षा का पेशा; डिजिटल शिक्षा व परिवर्तन; और शिक्षा के लिये वित्तपोषण.

तीसरे दिन, सोमवार 19 सितम्बर को, नेतृत्व दिवस है, इस बात का जश्न मनाने के लिये कि इतने सारे राष्ट्राध्यक्ष और सरकार उस सप्ताह न्यूयॉर्क में एक-साथ होंगे. इन नेताओं से अनेक राष्ट्रीय प्रतिबद्धताओं वाले वक्तव्यों का इन्तज़ार रहेगा.

न्यूयॉर्क स्थित यूएन मुख्यालय में टिकाऊ विकास लक्ष्यों (SDGs) के चिन्ह प्रदर्शित
UN News/Abdelmonem Makki
न्यूयॉर्क स्थित यूएन मुख्यालय में टिकाऊ विकास लक्ष्यों (SDGs) के चिन्ह प्रदर्शित

3. एसडीजी क्षण

इस साल का SDG Moment, ‘ट्रांसफॉर्मिंग एजुकेशन’ सम्मेलन के नेतागण दिवस से ठीक पहले, सोमवार 19 सितम्बर को, 08:30 और 10:00 बजे के बीच आयोजित किया जाएगा. यह अवसर, लोगों और ग्रह के लिये एक बेहतर भविष्य का ख़ाका पेश करने वाले संयुक्त राष्ट्र के 2030 एजेण्डा के टिकाऊ विकास लक्ष्यों पर ध्यान केन्द्रित करने का होगा. 

जुलाई में, एक प्रमुख वार्षिक विकास मंच, उच्च स्तरीय राजनैतिक मंच के दौरान, उप महासचिव आमिना मोहम्मद ने कहा था कि अक्षय ऊर्जा, खाद्य प्रणालियों और डिजिटल सम्पर्क में बदलाव के साथ-साथ, "मानव पूंजी में निवेश, अवसरों का वित्तपोषण,” कई संकटों को अवसरों में बदलने के लिये आवश्यक है.

आमिना मोहम्मद ने कहा कि इस वर्ष का क्षण "इन गहरे बदलावों और हमें वापस पटरी पर लाने के लिये ज़रूरी कार्रवाई पर ध्यान केन्द्रित करने का अवसर होगा. यह 2023 एसडीजी शिखर सम्मेलन के रास्ते में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर भी होगा."

पिछले साल का ‘एसडीजी मोमेंट’ कोरियाई मेगास्टार BTS की भागेदारी के कारण उल्लेखनीय रहा, जिन्होंने कोविड-19 महामारी के कारण हुए भारी व्यवधान को प्रतिबिम्बित किया गया, और इस धारणा को चुनौती दी कि वे "कोविड की खोई हुई पीढ़ी" का हिस्सा है.

चीन के युन्नान प्रान्त की लिसू जातीय अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाएँ, पारम्परिक पोशाक में.
UNDP China
चीन के युन्नान प्रान्त की लिसू जातीय अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाएँ, पारम्परिक पोशाक में.

4. अल्पसंख्यकों के अधिकार

18 दिसम्बर 1992 को, संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों ने राष्ट्रीय या जातीय, धार्मिक व भाषाई अल्पसंख्यकों से सम्बन्धित व्यक्तियों के अधिकारों पर घोषणा अपनाई (अल्पसंख्यक अधिकारों पर संयुक्त राष्ट्र घोषणा), जिसे संयुक्त राष्ट्र द्वारा, अल्पसंख्यकों के राजनैतिक और नागरिक, आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक अधिकार पर ध्यान देने का एक प्रमुख औज़ार माना जाता है. 

बुधवार 21 सितम्बर को, ट्रस्टीशिप काउंसिल चैम्बर में, घोषणा की 30वीं वर्षगाँठ के वर्ष भर चलने वाले स्मरणोत्सव के हिस्से के रूप में, एक उच्च-स्तरीय बैठक होगी.

जून में, संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार के स्थानीय लोगों एवं अल्पसंख्यक अनुभाग के प्रमुख, पाओलो डेविड ने कहा था कि हालाँकि तीन दशक पहले घोषणा को अपनाने से उम्मीद जागी थी, पूर्व यूगोस्लाविया में सशस्त्र संघर्ष के कारण यह अहसास जल्दी ही ख़त्म हो गया. पाओलो डेविड ने कहा कि यूक्रेन, इथियोपिया, म्याँमार, दक्षिण सूडान, सीरिया और यमन सहित कई संघर्षों में अल्पसंख्यकों को हथियार की तरह इस्तेमाल करने का सिलसिला जारी है.

संयुक्त राष्ट्र के अनुसार, आज अल्पसंख्यकों को अभूतपूर्व बाधाओं और चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है. वो अनेक देशों में ऑनलाइन नफ़रत की भाषा जैसे आधुनिक ख़तरों से रूबरू हो रहे हैं और उनसे नागरिकता के अधिकार छीने जा रहे हैं.

इस आयोजन को बाधाओं और उपलब्धियों का जायज़ा लेने, उत्कृष्ट प्रथाओं के उदाहरण साझा करने और भविष्य के लिये प्राथमिकताएँ निर्धारित करने के अवसर के रूप में देखा जाता है.

टिकाऊ विकास का 2030 एजेण्डा, सर्वजन के लिये एक बेहतर व टिकाऊ भविष्य प्राप्ति का ब्लूप्रिण्ट है.
© UNDP
टिकाऊ विकास का 2030 एजेण्डा, सर्वजन के लिये एक बेहतर व टिकाऊ भविष्य प्राप्ति का ब्लूप्रिण्ट है.

5. वैश्विक लक्ष्य सप्ताह

आम बहस, Global Goals Week  के दौरान होगी, जो वास्तव में 16 से 25 सितम्बर के बीच होने वाले वर्चुअल और व्यक्तिगत आयोजनों का नौ दिवसीय कार्यक्रम है, जिसमें संयुक्त राष्ट्र और नागरिक समाज, व्यवसाय, शिक्षाविदों के 170 से अधिक भागीदार, टिकाऊ विकास लक्ष्यों (एसडीजी) पर कार्रवाई में तेज़ी लाने के लिये शामिल हैं. 

यहाँ पूर्णत: सूचीबद्ध करने लायक बहुत से आयोजन हैं. उनमें NYC जलवायु सप्ताह भी शामिल है, जिसमें जलवायु सम्बन्धित चुनौतियों की एक विस्तृत श्रृँखला शामिल है; यूएन ग्लोबल कॉम्पेक्ट द्वारा संचालित यूएन प्राइवेट सैक्टर फ़ोरम, जो वैश्विक संकटों को दूर करने के लिये व्यापार, संयुक्त राष्ट्र और नागरिक समाज को एक साथ लाता है; और ‘टेक एक्शन ग्लोबल’ की ओर से 2002 जलवायु कार्रवाई परियोजना का शुभारम्भ, जो 140 से अधिक देशों को, कक्षाओं को लाइव साक्षात्कारों, स्कूल यात्राओं एवं सोशल मीडिया प्रयोग के लिये एक साथ लाता है.

वैश्विक लक्ष्य सप्ताह के दौरान, एसडीजी मीडिया ज़ोन पर बहुत सारे वीडियो होंगे, जिनमें दर्जनों दिलचस्प वक्ता, रचनात्मक सामग्री सृजक, लोकप्रिय हस्तियाँ, कार्यकर्ता और मीडिया भागीदार पैनल चर्चा में हिस्सा लेकर, टिकाऊ विकास के समर्थन कार्यों एवं समाधानों को उजागर करेंगे. वक्ताओं की सूची की घोषणा आयोजनों के समय के निकट, यहाँ उपलब्ध होगी.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिये यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एण्ड्रॉयड