‘सुरक्षित सड़कें, सभी के लिये एक वैश्विक विकास चुनौती’

30 जून 2022

संयुक्त राष्ट्र की एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि दुनिया भर में हर 24 सेकण्ड, किसी व्यक्ति की मौत यातायात (Traffic) में हो जाती है, इसलिये दुनिया भर की सड़कों को सुरक्षित बनाना, तमाम समाजों के लिये एक वैश्विक विकास चुनौती है, विशेष रूप में सबसे कमज़ोर परिस्थितियों वाले लोगों के लिये.

संयुक्त राष्ट्र के सड़क सुरक्षा कोष (UNRSF) की प्रमुख न्नेका हैनरी ने सड़क सुरक्षा बेहतर बनाने के लिये, यूएन महासभा की एक उच्चस्तरीय बैठक के मौक़े पर ये बात कही है. 

उन्होंने ध्यान दिलाते हुए कहा कि हर दिन दुर्घटनाओं में 500 बच्चों की मौत होती है, और वयस्क आबादी में किसी कार दुर्घटना में पुरुषों की तुलना में, महिलाओं की मौत होने की 17 गुना ज़्यादा सम्भावना होती है, यहाँ तक कि अगर वो सीट बैल्ट पहने हुए हों, तब भी.

सभी के लिये चुनौती

न्नेका हैनरी ने यूएन महासभा अध्यक्ष कार्यालय में ‘आशा – HOPE’ फ़ैलोशिप कार्यक्रम की एक युवती राजनयिक डियेड्रा सीले के साथ बातचीत में कहा कि इन आँकड़ों के बावजूद, सड़क सुरक्षा केवल महिलाओं और युवजन के लिये ही चुनौती नहीं है.

"यह हम से उन सभी के लिये एक चुनौती है जो टहलते हैं, साइकिल चलाते हैं या सड़कों पर किसी भी तरह की यात्रा करते हैं."

ये बातचीत सड़क सुरक्षा को बेहतर बनाने के विषय पर यूएन महासभा की गुरूवार और शुक्रवार को यूएन मुख्यालय में आयोजित होने वाली उच्चस्तरीय बैठक के मौक़े पर की गई.

इस बैठक का आयोजन यूएन महासभा अब्दुल्ला शाहिद और विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने किया है.

इसी बैठक के समय, यूएन सड़क सुरक्षा कोष संकल्प सम्मेलन भी हो रहा है. इस कोष की स्थापना 2018 में एक ऐसी दुनिया बनाने के सपने के साथ हुई थी जहाँ सड़कें, हर किसी के लिये सुरक्षित हों, हर जगह. 
यह कोष विशेष रूप से निम्न और मध्यम आय वाले देशों में परियोजनाओं के लिये धन मुहैया कराता है, जहाँ सड़कों पर होने वाली मौतों और घायल होने के 93 प्रतिशत मामले होते हैं.

न्नेका हैनरी ने कहा, “मैं यहाँ न्यूयॉर्क से सभी 193 सदस्य देशों को, इस कोष के शासनादेश और सफलता के लिये उनका संकल्प याद दिलाती हूँ.”

इन सफलताओं में ये घोषणा भी शामिल है कि 1 जुलाई के बाद, पूर्वी अफ़्रीका में आयात किये जाने वाले तमाम वाहन 8 वर्ष से ज़्यादा पुराने ना हों और उनका उत्सर्जन स्तर भी Euro4/IV से नीचे होना चाहिये.

ये कोष (एजेंसी) पश्चिम अफ़्रीकी देशों के आर्थिक समुदाय के 15 सदस्यों के साथ मिलकर, वाहन मानक प्रस्तावों में तालमेल बिठाने के लिये काम कर रहा है.

बहुत से लाभ

संयुक्त राष्ट्र के सड़क सुरक्षा कोष की अध्यक्षा ननेका हैनरी, यूएन महासभा अध्यक्ष के कार्यालय में 'आशा - HOPE' फ़ैलो डियेड्रा सीली के साथ बातचीत करते हुए.
© Paulina Kubiak Greer
संयुक्त राष्ट्र के सड़क सुरक्षा कोष की अध्यक्षा ननेका हैनरी, यूएन महासभा अध्यक्ष के कार्यालय में 'आशा - HOPE' फ़ैलो डियेड्रा सीली के साथ बातचीत करते हुए.

न्नेका हैनरी ने इस ताज़ा घोषणा के बारे में कहा कि इसके बहुत सारे वायु गुणवत्ता और सुरक्षा सम्बन्धी लाभ होंगे.

इस कोष की कुछ अन्य सफलताओं में अज़रबैजान में दुर्घटना के बाद की स्थिति में आपदा सहायता के लिये क़ानून भी शामिल है. 

ब्राज़ील और जॉर्डन में गति सीमा क्रियान्वयन में वृद्धि और अन्य सड़क यातायात सम्बन्धी नियम भी इस सफलता में शामिल हैं. 

साथ ही कोटे डीआईवयर और सेनेगल में आँकड़े एकत्रीकरण बेहतर बनाना, और पैरागुवे में सुरक्षित स्कूल क्षेत्र बनाने के लिये शहरी नियोजकों को प्रशिक्षण, भी इन सफलताओं के कुछ उदाहरण हैं.

भविष्य दृष्टि

एक प्रैस विज्ञप्ति के अनुसार, संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देश, इस सप्ताह उच्चस्तरीय बैठक के एक हिस्से के रूप में, एक राजनैतिक घोषणा-पत्र अपनाएंगे, जिसमें एक ऐसी सचलता के भविष्य के लिये दृष्टिकोण या नज़रिया पेश किया जाएगा जिसमें स्वास्थ्य और बेहतरी को प्रोत्साहन मिले, साथ ही पर्यावरण का संरक्षण हो, और तमाम लोगों को फ़ायदा पहुँचे.

आपस में जुड़े हुए ये लक्ष्य, टिकाऊ विकास लक्ष्यों का एक हिस्सा हैं जिनमें दिखाया गया है कि किस तरह से सड़क सुरक्षा इन लक्ष्यों – एसडीजी में समाहित है, शिक्षा के लिये सुरक्षित पहुँच सम्भव बनाने से लेकर, लोगों की दैनिक ज़रूरतों वाले सामान की ख़रीद आसान बनाने और वातावरण में कार्बन उत्सर्जन में कमी करने तक.

वर्ष 2030 तक यातायात सम्बन्धी मौतों की संख्या में कम से कम आधी कमी लाना, तीसरे टिकाऊ विकास लक्ष्य की मंज़िल है जो अच्छे स्वास्थ्य और रहन-सहन से सम्बन्धित है.

बुर्कीना फ़ासो में कुछ बच्चे साइकिल चलाते हुए.
© UNICEF/Frank Dejongh
बुर्कीना फ़ासो में कुछ बच्चे साइकिल चलाते हुए.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिये यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एण्ड्रॉयड