कोविड-19: 'नुवैक्सोविड' वैक्सीन को आपात प्रयोग के लिये WHO की स्वीकृति

21 दिसम्बर 2021

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने वैश्विक महामारी कोविड-19 से बचाव के लिये 'नुवैक्सोविड' (Nuvaxovid™) वैक्सीन के आपात प्रयोग को मंज़ूरी दे दी है. योरोपीय औषधि एजेंसी (EMA) द्वारा वैक्सीन की समीक्षा किये जाने और उसे स्वीकृति दिये जाने के बाद यह घोषणा की गई है.  

 

कोरोनावायरस संक्रमण से बचाव के लिये यूएन स्वास्थ्य एजेंसी से स्वीकृति पाने वाली यह दसवीं वैक्सीन है. 

इसे नोवावैक्स और महामारी की तैयारियों के लिये नवाचारी समाधानों के गठबंधन (CEPI) ने विकसित किया है. 

बताया गया है कि यह 'कोवोवैक्स' नामक एक अन्य वैक्सीन का आरम्भिक उत्पाद है, जिसे यूएन स्वास्थ्य एजेंसी ने 17 दिसम्बर को आपात प्रयोग की मंज़ूरी दी थी. 

दोनों टीकों को एक जैसी टैक्नॉलॉजी की मदद से तैयार किया गया है.

इनकी दो ख़ुराकों की आवश्यकता होती है और इनका भण्डारण, दो से आठ डिग्री सेल्सियस के बीच स्थिर, ठण्डे तापमान में किया जाता है.

प्रतिरक्षण पर विश्व स्वास्थ्य संगठन के सलाहकारी समूह (SAGE) ने भी 'नुवैक्सोविड' और 'कोवोवैक्स' के लिये नीतिगत सिफ़ारिशें जारी की हैं. 

आपात प्रयोग सूची पर तकनीकी सलाहकार समूह, यूएन स्वास्थ्य एजेंसी द्वारा गठित है, और इसमें दुनिया भर से विशेषज्ञों को शामिल किया गया है. 

यूएन एजेंसी ने अब तक निम्न टीकों को आपात प्रयोग सूची में शामिल किये जाने की स्वीकृति दी है: कोवोवैक्स, मॉडर्ना, फ़ाइज़र, जैनसन, ऐस्ट्राज़ेनेका, कोविशील्ड, कोवैक्सीन, सिनोफार्म, सिनोवाक, नुवैक्सोविड.  

बांग्लादेश की राजधानी ढाका में एक कोविड-19 टीकाकरण केंद्र.
© UNICEF/Bashir Ahmed Sujan
बांग्लादेश की राजधानी ढाका में एक कोविड-19 टीकाकरण केंद्र.

यूएन स्वास्थ्य एजेंसी के मुताबिक़, आपात प्रयोग सूची (Emergency Use Listing) के तहत, किसी वैक्सीन की गुणवत्ता, उसके सुरक्षा मानक और कुशलता का आकलन किया जाता है. 

यूएन एजेंसी की आपात प्रयोग सूची में शामिल किये जाने की प्रक्रिया के तहत, सार्वजनिक स्वास्थ्य ऐमरजेन्सी के दौरान, स्वास्थ्य उत्पादों की उपयुक्तता परखी जाती है.

इस स्वीकृति से देशों को अपनी नियामक प्रक्रियाओं की गति तेज़ करने में भी मदद मिलती है. 

इसका उद्देश्य, आपात स्थिति से निपटने के लिये, औषधि, टीकों और निदानों को जल्द से जल्द, उपलब्ध बनाना है और ऐसा करते समय, सुरक्षा, प्रभावीपन और गुणवत्ता का भी ख़्याल रखा जाता है.

समीक्षा प्रक्रिया के अन्तर्गत, आपात हालात के दौरान पनपे ख़तरों और स्वास्थ्य उत्पादों से मिलने वाले लाभ के साथ-साथ, उन जोखिमों पर भी विचार किया जाता है, जोकि ऐसे उत्पादों के इस्तेमाल की वजह से हो सकते हैं. 

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिये यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एण्ड्रॉयड