हर साल होती है 1.7 ट्रिलियन डॉलर की अवैध सट्टेबाज़ी: UNODC रिपोर्ट

9 दिसम्बर 2021

मादक पदार्थों एवं अपराध पर यूएन कार्यालय (UNODC) द्वारा गुरूवार को जारी एक नई रिपोर्ट में कहा गया है कि हर साल, अनुमानित 1.7 ट्रिलियन डॉलर तक का अवैध सट्टेबाज़ी कारोबार होता है.

खेलों में भ्रष्टाचार पर पहली बार आई इस वैश्विक रिपोर्ट में, इस पूरे क्षेत्र में भ्रष्टाचार और धोखाधड़ी से निपटने के लिये एक तत्कालिक, एकीकृत व अन्तरराष्ट्रीय कार्रवाई की मांग की गई है.

संयुक्त राष्ट्र एजेंसी के अनुसार, यह रिपोर्ट "वैश्विक, क्षेत्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर, खेलों में भ्रष्टाचार और संगठित अपराध के, चौंका देने वाले पैमाने, अभिव्यक्ति और जटिलता के बारे में बताती है."

'पर्याप्त वृद्धि'

रिपोर्ट में अवैध सट्टेबाज़ी और प्रतियोगिताओं में हेराफेरी की भूमिका का भी विश्लेषण किया गया है.
Unsplash/Anastasiia Chepinska
रिपोर्ट में अवैध सट्टेबाज़ी और प्रतियोगिताओं में हेराफेरी की भूमिका का भी विश्लेषण किया गया है.

सरकारों, खेल संगठनों, निजी क्षेत्र और शिक्षा जगत के लगभग 200 विशेषज्ञों के साथ साझेदारी में तैयार की गयी यह रिपोर्ट, इस तरह की अब तक की सबसे गहन समीक्षा है.

इसमें कहा गया है कि खेलों में भ्रष्टाचार की मौजूदगी कोई नई घटना नहीं है, क्योंकि प्राचीन ओलम्पिक खेलों के समय से ही सट्टेबाज़ी की गतिविधियाँ मौजूद रही हैं. लेकिन रिपोर्ट में संकेत दिया गया है कि पिछले दो दशकों में इसमें "पर्याप्त वृद्धि" हुई हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक़, वैश्वीकरण, अपार धन प्रवाह, क़ानूनी एवं अवैध खेल सट्टेबाज़ी का तेज़ी से बढ़ना व तकनीकी विकास, इसे उन आपराधिक नैटवर्कों के लिये तेज़ी से आकर्षक बना रहे हैं, जो इन खेलों से फ़ायदा उठाना चाहते हैं.

रिपोर्ट में अवैध सट्टेबाज़ी, प्रतियोगिताओं में हेराफेरी, दुरुपयोग, प्रमुख खेल आयोजनों के धोखेबाज़ों के चंगुल में आने का जोखिम और संगठित अपराध की भागेदारी आदि की भूमिका का भी विश्लेषण किया गया है.

अन्त में, यह रिपोर्ट उन पहलों पर भी प्रकाश डालती है जो समस्या से निपटने में मदद कर सकती हैं, जैसेकि ग़लत गतिविधियों का पता लगाने और उनकी सूचना क़ानून लागू करने वाली एजेंसियों को देने सम्बन्धित मुद्दों व समस्या के समाधान के लिये मौजूदा क़ानूनी ढाँचे का उपयोग कैसे किया जा सकता है.

ठोस नीतियाँ

रिपोर्ट में सरकारों और खेल संगठनों के लिये ठोस नीतिगत विचारों वाली एक कार्यपुस्तिका भी शामिल है.

इसमें, क़ानूनी, नीति और संस्थागत ढाँचे को मज़बूत करने, व्यापक भ्रष्टाचार विरोधी नीतियाँ लागू करने, और खेल संगठनों, अपराध रोकथाम व आपराधिक न्याय अधिकारियों एवं नीति निर्माताओं के बीच बेहतर सहयोग, और सूचनाओं के आदान-प्रदान की सिफ़ारिश की गई है.

यह रिपोर्ट, अगले सप्ताह, 13 से 17 दिसम्बर तक मिस्र के शरम अल-शेख़ में आयोजित होने वाली द्विवार्षिक संयुक्त राष्ट्र भ्रष्टाचार निरोधक सम्मेलन - Conference of the States Parties to the United Nations Convention against Corruption, से ठीक पहले जारी किया गया है.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिये यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एण्ड्रॉयड