बाल श्रम उन्मूलन के प्रयासों को गहरा झटका

कोविड-19 के कारण ज़्यादा से ज़्यादा बच्चों को, बाल श्रम की ओर धकेले जाने का ख़तरा बढ़ गया है.
UN Photo/Martine Perret
कोविड-19 के कारण ज़्यादा से ज़्यादा बच्चों को, बाल श्रम की ओर धकेले जाने का ख़तरा बढ़ गया है.

बाल श्रम उन्मूलन के प्रयासों को गहरा झटका

मानवाधिकार

संयुक्त राष्ट्र की एक नई रिपोर्ट के मुताबिक, दो दशकों में पहली बार, दुनिया भर में बाल मज़दूरी के शिकार बच्चों की संख्या बढ़कर 16 करोड़ तक पहुँच गई है. पिछले चार वर्षों में इस आँकड़े में 84 लाख की वृद्धि हुई है., अन्तरराष्ट्रीय श्रम संगठन और संयुक्त राष्ट्र बाल कोष द्वारा जारी इस रिपोर्ट में चेतावनी दी गई है कि कोविड-19 महामारी के परिणामस्वरूप, वर्ष 2022 के अन्त तक, वैश्विक स्तर पर, 90 लाख अतिरिक्त बच्चों को बाल श्रम में धकेल दिये जाने का ख़तरा है...