काँगो: यूएन काफ़िले पर हमला, इटली के राजदूत सहित तीन लोगों की मौत

22 फ़रवरी 2021

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने काँगो लोकतान्त्रिक गणराज्य में संयुक्त राष्ट्र के विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) के एक काफ़िले पर सोमवार को, अज्ञात सशस्त्र तत्वों द्वारा किये गए हमले की कड़ी निन्दा की है जिसमें देश में इटली के राजदूत, उनके एक सुरक्षा गार्ड, और विश्व खाद्य कार्यक्रम के एक कर्मचारी की मौत हो गई है. 

यूएन महासचिव ने मृतकों को परिजनों के साथ-साथ, इटली सरकार और काँगो लोकतान्त्रिक गणराज्य की सरकार के प्रति गहरी सम्वेदना व्यक्त की है.

उन्होंने, विश्व खाद्य कार्यक्रम के कर्मचारियों के साथ-साथ, देश में संयुक्त राष्ट्र की पूरी टीम के साथ भी पूरी एकजुटता जताई है.

यूएन महासचिव ने काँगो सरकार से संयुक्त राष्ट्र के संयुक्त काफ़िले को इस तरह घातक हमले का शिकार बनाने की तेज़ी से जाँच कराए जाने और ज़िम्मेदार तत्वों को न्याय के कटघरे  लाने का आहवान किया है.

उन्होंने पुष्टि करते हुए कहा कि संयुक्त राष्ट्र, काँगो लोकतान्त्रिक गणराज्य के पूर्वी हिस्से में, शान्ति और स्थिरता क़ायम करने के लिये, सरकार और वहाँ को लोगों के प्रयासों को सहायता व समर्थन मुहैया कराता रहेगा.

विश्व खाद्य कार्यक्रम ने कहा है कि देश के पूर्वी हिस्से में हुए इस हमले में काफ़िले के साथ चल रहे अनेक यात्री घायल भी हुए हैं. 

एजेंसी ने एक वक्तव्य जारी करके कहा है कि ये काफ़िला उत्तर कीवू प्रान्त की राजधानी गोमा से रवाना हुआ था और उसे, गोमा से लगभग 40 मील उत्तर में, रूतशुरू पहुँचना था. वहाँ विश्व खाद्य कार्यक्रम द्वारा चलाए जा रहे एक स्कूल का दौरा करना था जहाँ खाद्य सहायता मुहैया कराई जा रही है.

जिस मार्ग पर ये काफ़िला यात्रा कर रहा था, उसे सुरक्षा गार्डों के बिना सफ़र करने के लिये सुरक्षित घोषित किया गया था.

एजेंसी ने कहा है कि इस हमले के पीछे के कारणों का पता लगाने के लिये राष्ट्रीय अधिकारियों के साथ मिलकर काम किया जाएगा.

साथ ही, एजेंसी, काँगो और रोम में अपने कार्यालयों के माध्यम से, इटली के अधिकारियों के सम्पर्क में है.

मीडिया ख़बरों के अनुसार, ये हमला स्थानीय समय के अनुसार सुबह लगभग 10 बजे हुआ. ये समाचार लिखने तक किसी ने इस हमले की ज़िम्मेदारी स्वीकार नहीं की थी, अलबत्ता, उस क्षेत्र में, अनेक सशस्त्र गुट सक्रिय हैं.

पुख़्ता जाँच की पुकार

काँगो लोकतान्त्रिक गणराज्य (डीआरसी) में यूएन शान्तिरक्षा मिशन (MONUSCO) के उप प्रमुख ने डेविड मक्लाचलन-कार्र ने एक वक्तव्य जारी करके इस हमले पर गहरा दुख व्यक्त करते हए इसकी कड़े शब्दों में निन्दा की है. 

उन्होंने आहवान किया है कि इस हमले के लिये ज़िम्मेदार तत्वों की पहचान करके, उन पर बहुत पक्के इरादे के साथ क़ानूनी कार्रवाई की जाय.

उन्होंने मृतकों के परिवारों, इटली और विश्व खाद्य कार्यक्रम के वैश्विक परिवार के प्रति भी सम्वेदना व्यक्त की है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टैड्रॉस एडेहेनॉम घेबरेयेसस ने सोमवार को, नियमित प्रेस वार्ता में कहा कि वो इस हमले से बहुत दुखी और चिन्तित हैं.

उन्होंने कहा कि काँगो के पूर्वी क्षेत्र में, हाल ही में ईबोला ने अपना सिर फिर से उठाया है जिससे एक नई चुनौती पैदा हो गई, इसके बावजूद सशस्त्र तत्व, वहाँ बिना किसी डर के इस तरह की गतिविधियों में सक्रिय हैं.

काँगो में, विश्व स्वास्थ्य संगठन की काफ़ी बड़ी मौजूदी है और महानिदेशक घेबरेयेसस, ख़ुद भी वहाँ अक्सर यात्रा करते रहते हैं.

उन्होंने मृतकों के परिवारों और इटली की सरकार के साथ गहरी सम्वेदना व्यक्त की है.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लि/s यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एण्ड्रॉयड