लीबिया में नए अन्तरिम नेतृत्व का चयन ‘ऐतिहासिक लम्हा’

5 फ़रवरी 2021

संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व में 74-सदस्यीय लीबियाई राजनैतिक सम्वाद मँच ने, शुक्रवार को, जिनीवा में हुई बैठक के दौरान नई कार्यकारिणी परिषद के लिये अन्तरिम प्रधानमन्त्री और अध्यक्ष को चुन लिया है. यूएन की अन्तरिम विशेष प्रतिनिधि स्टैफ़नी विलियम्स ने युद्ध से बदहाल देश में इसे एकीकरण और दिसम्बर 2021 में प्रस्तावित राष्ट्रीय चुनावों के लिये एक ऐतिहासिक क्षण क़रार दिया है.  

जिनीवा में हुई बैठक के दौरान मोहम्मद यूनेस मेनफ़ी को परिषद का अध्यक्ष चुना गया है जहाँ वह मूसा अल-कोनी और अब्दुल्लाह हुसैन अल-लफ़ी के साथ मिलकर बागडोर संभालेंगे. 

अब्दुल हमीद मोहम्मद द्बेइबाह को मतदान के दौरान प्रधानमन्त्री पद के लिये सबसे अधिक वोट मिले. 

लीबिया में संयुक्त राष्ट्र मिशन की कार्यवाहक विशेष प्रतिनिधि स्टैफ़नी विलियम्स ने कहा, “संयुक्त राष्ट्र की ओर से, मैं इस ऐतिहासिक क्षण को प्रत्यक्ष रूप से देखकर प्रसन्न हूँ.”

“आज जो निर्णय आपने लिया है, उसकी अहमियत समय बीतने के साथ लीबियाई जनता की सामूहिक स्मृति में बढ़ती जाएगी.”

पूर्व शासक मुआम्मर ग़द्दाफ़ी के, वर्ष 2011 में पतन के बाद से ही लीबिया अनेक मोर्चों पर चुनौतियों से जूझता रहा है. 

देश हाल के समय में दो हिस्सों में विभाजित रहा है - त्रिपोली में संयुक्त राष्ट्र की मान्यता प्राप्त सरकार और जनरल ख़लीफ़ा हफ़्तार के नेतृत्व वाली लीबियाई नेशनल आर्मी के नियन्त्रण वाले इलाक़ों में. 

यूएन की विशेष प्रतिनिधि ने सम्वाद मंच के सदस्यों को ध्यान दिलाते हुए कहा कि अक्टूबर 2020 में वर्चुअल मुलाक़ात के बाद से अब तक उन्होंने एक लम्बा सफ़र तय किया है. 

“आपने इस मुश्किल लेकिन फल देने वाली यात्रा में अपने मतभेदों, विभाजनों और अनेक चुनौतियों को पीछे छोड़ा, अपने देश व लीबियाई जनता के हित में.”

नई कार्यकारिणी और अन्तरिम प्रधानमन्त्री अब साथ मिलकर आगामी दिनों में एकता सरकार के गठन के लिये काम करेंगे.

लीबियाई नेतृत्व में समाधान

यूएन मिशन की कार्यवाहक प्रमुख स्टैफ़नी विलियम्स ने कहा कि उनकी कोशिश लीबिया के नेतृत्व व स्वामित्व में हल की तलाश करना था, और इसी में सफलता मिली है. 

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने अन्तरिम नेतृत्व के चुनाव का स्वागत किया है. 

न्यूयॉर्क में यूएन मुख्यालय में पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए उन्होंने सम्वाद मँच के सदस्यों और अन्तरराष्ट्रीय पक्षकारों से मतदान के नतीजे का सम्मान करने का आहवान किया. 

यूएन प्रमुख ने नई कार्यकारिणी द्वारा लिये गए संकल्पों का स्वागत किया है, जिनमें बहुलतावाद, भौगोलिक प्रतिनिधित्व और कार्यकारी पदों पर महिलाओं की 30 प्रतिशत हिस्सेदारी को प्राथमिकता दिये जाने की बात कही गई है.  

यूएन महासचिव ने सभी पक्षकारों से पुकार लगाई है कि जिस रोडमैप पर सहमति बनी है, उसके सिद्धान्त व समय-सीमाएँ बरक़रार रखे जाने होंगे, और दिसम्बर 2021 में, राष्ट्रीय स्तर पर लोकतान्त्रिक चुनाव सम्पन्न कराने होंगे. 

महासचिव गुटेरेश ने भरोसा दिलाया है कि एक शान्तिपूर्ण व समृद्ध लीबिया के निर्माण के प्रयासों में संयुक्त राष्ट्र स्थानीय जनता के साथ है. 

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिये यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एण्ड्रॉयड