लेबनान-इसराइल समुद्री सीमा विवाद के निपटारे के लिये बातचीत शुरू

14 अक्टूबर 2020

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने बुधवार को लेबनान और इसराइल के बीच पूर्वी भूमध्यसागर में विवादित समुद्री सीमा पर वार्ता की शुरुआत का स्वागत किया है. दोनों देशों में अक्टूबर के शुरू में एक फ़्रेमवर्क पर सहमति बनी थी जिसके बाद यह बातचीत आयोजित की गई है.

इसराइल और लेबनान के बीच यह सीमा-विवाद लम्बे समय से चला आ रहा है जिसे सुलझाने की प्रक्रिया में संयुक्त राष्ट्र और अमेरिका की ओर से सहयोग किया जा रहा है. 

ख़बरों के मुताबिक इस विवाद के निपटारे की प्रक्रिया से विवादित क्षेत्र में स्थित लाभकारी प्राकृतिक गैस भण्डार विकसित करने में मदद मिलने की उम्मीद है.

महासचिव गुटेरेश के प्रवक्ता स्तेफ़ान दुजैरिक ने एक बयान जारी करके कहा, “संयुक्त राष्ट्र अपने प्रतिनिधियों के ज़रिये अन्तिम सहमत नतीजे की दिशा में प्रयासरत पक्षों को उनके अनुरोध के अनुरूप चर्चा में समर्थन देने के लिये पूर्ण रूप से संकल्पबद्ध है.” 

लेबनान के नाक़ोरा शहर में हुई यह बैठक एक घण्टे तक चली. 

ख़बरों के अनुसार दोनों पक्ष अक्टूबर के अन्त में फिर मिलने के लिये राज़ी हो गए हैं. ग़ौरतलब है कि दोनों देश अब भी औपचारिक रूप से युद्धरत हैं. 

बुधवार को अमेरिकी प्रशासन और लेबनान में यूएन के विशेष समन्वयक कार्यालय की ओर से एक बयान जारी किया गया जिसमें कहा गया है कि इसराइली प्रतिनिधिमण्डल का नेतृत्व ऊर्जा मन्त्रालय के महानिदेशक उडी अडीरी कर रहे हैं.  

लेबनान के प्रतिनिधिमण्डल के प्रमुख ब्रिगेडियर जनरल बासम यासीन हैं जोकि लेबनानी सशस्त्र बलों में सैन्य अभियानों के उपप्रमुख हैं.  

अमेरिका और यूएन की ओर से जारी बयान में बुधवार को हुई बैठक को एक शुरुआती दौर की वार्ता बताया गया है.

वक्तव्य के मुताबिक दोनों प्रतिनिधिमण्डलों के बीच बातचीत उपयोगी रही जिसमें दोनों पक्षों ने इस महीने के अन्त में वार्ता जारी रखने का अपना संकल्प फिर मज़बूत किया है. 

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लि/s यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एण्ड्रॉयड