अफ़ग़ानिस्तान में घातक आत्मघाती हमले की तीखी भर्त्सना

4 अक्टूबर 2020

संयुक्त राष्ट्र ने अफ़ग़ानिस्तान के पूर्वी प्रान्त नानगरहार में सरकारी इमारतों पर हुए एक आत्मघाती हमले की तीखी भर्त्सना की है. शनिवार को हुए इस हमले में कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई और अनेक अन्य घायल हो गए. संयुक्त राष्ट्र ने इस हमले के ज़िम्मेदारों को न्याय के कटघरे में लाए जाने पर ज़ोर दिया है.

हमले में शिनवार में एक ज़िला प्रशासन की इमारत को निशाना बनाया गया जिसमें उस समय बहुत से आम लोग मौजूद थे.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश के प्रवक्ता द्वारा जारी एक वक्तव्य में कहा गया है कि इस भीषण अपराध के लिये ज़िम्मेदार लोगों की जवाबदेही तय की जानी होगी.

वक्तव्य में कहा गया है, "महासचिव ने संघर्ष का शान्तिपूर्ण समाधान तलाश किये जाने की तात्कालिकता फिर से दोहराई है.

संयुक्त राष्ट्र अफ़ग़ानिस्तान की सरकार व लोगों को ये मंज़िल हासिल करने के प्रयासों में समर्थन देने के लिये प्रतिबद्ध है."

एंतोनियो गुटेरेश ने पीड़ितों के परिजनों के साथ गहरी सम्वेदना व्यक्त की है और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना भी की है.

यूएन मिशन हतप्रभ

अफ़ग़ानिस्तान में यूएन सहायता मिशन (UNAMA) ने एक अलग सन्देश जारी करके इस हमले में आम लोगों की मौत पर गहन क्रोध व्यक्त किया है.

वक्तव्य में कहा गया है, "अतिवादियों और शान्तिभक्षकों को दरकिनार किया जाना होगा." वक्तव्य में उन अफ़ग़ान लोगों व पक्षों को पूर्ण समर्थन दिया गया है जो संघर्ष का एक अहिंसक समाधान तलाश करने के लिये बातचीत को समर्थन दे रहे हैं.

ये हमला ऐसे समय में हुआ है जब क़तर की राजधानी दोहा में अफ़ग़ान सरकार व तालेबान के प्रतिनिधियों के बीच शान्ति वार्ता चल रही है.

इस शान्ति वार्ता का मक़सद लगभग चार दशकों से जारी संघर्ष को समाप्त करना है जिसमें हज़ारों लोगों की ज़िन्दगी ख़त्म कर दी है और लाखों लोगों को अनेक वर्षों से विस्थापित किया हुआ है.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लि/s यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एण्ड्रॉयड