वैश्विक परिप्रेक्ष्य मानव कहानियां

कोरोनावायरस के ख़तरे पर स्वास्थ्य विशेषज्ञों की गहन चर्चा जारी

चीन में मेडिकल मास्क लगाकर घूमती एक महिला.
World Bank/Curt Carnemark
चीन में मेडिकल मास्क लगाकर घूमती एक महिला.

कोरोनावायरस के ख़तरे पर स्वास्थ्य विशेषज्ञों की गहन चर्चा जारी

स्वास्थ्य

चीन में नॉवल कोरोनावायरस फैलने से उपजी चिंता के बीच स्विट्ज़रलैंड के जिनीवा शहर में  विश्व स्वास्थ्य संगठन की आपात समिति की बुधवार को हुई  बैठक बेनतीजा रही है. देर शाम तक चली इस बैठक में कोरोनावायरस को अंतरराष्ट्रीय चिंता वाली सार्वजनिक स्वास्थ्य एमरजेंसी घोषित करने पर फ़ैसला लिया जाना था. अब इस विषय पर गुरुवार को फिर विचार-विमर्श होगा.

जिनीवा में यूएन स्वास्थ्य एजेंसी के विशेषज्ञों की बैठक में कोरोनावायरस के फैलने पर गहन चर्चा हुई जिसके मामले चीन सहित अन्य कुछ देशों में लगातार सामने आ रहे हैं.  ध्यान देने की बात है कि कोरोनावायरस श्वसन तंत्र को प्रभावित करने वाला बैक्टीरिया है. 

Tweet URL

विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टैड्रोस एधनॉम घेब्रेयेसस ने एक बयान जारी कर कहा, “समिति की बैठक के दौरान इस संबंध में आज विस्तृत विचार-विमर्श हुआ, लेकिन यह भी स्पष्ट था कि आगे बढ़ने के लिए हमें और ज़्यादा जानकारी की आवश्यकता है.”

“मैं अंतरराष्ट्रीय चिंता वाली सार्वजनिक स्वास्थ्य एमरजेंसी घोषित करने या ना करने पर निर्णय को बेहद गंभीरता से देखता हूं. और मैं सभी तथ्यों पर उपयुक्त ढंग से विचार करने के बाद ही इसके लिए तैयार हो पाऊंगा.”

कोरोनावायरस उस वायरस समहू का एक हिस्सा है जिससे सामान्य सर्दी-खांसी से लेकर घातक बीमारियां तक हो सकते हैं. 

इसके लक्षणों में बुख़ार, खांसी, सांस फूलना और सांस लेने में दिक़्कतें जैसे लक्षण शामिल हैं.  

हालत बिगड़ने पर संक्रमण न्यूमोनिया की वजह बन सकता है जिससे किडनी ख़राब होने के अलावा मौत तक हो सकती है.

वूहान में सबसे ज़्यादा मामले

नॉवल कोरोनावायरस का पहला मामला चीन के वूहान शहर में सामने आया था. बुधवार तक संक्रमण के 440 से ज़्यादा मामलों की पुष्टि हो चुकी है और 17 लोगों की मौत होने की रिपोर्टें हैं.

एक दिन के भीतर मृतक संख्या दोगुनी हो गई है. अभी तक कोरोनावायरस से होने वाली सभी मौतें वूहान में हुई हैं जिसकी जनसंख्या लगभग 89 लाख है.

चीन में स्थानीय प्रशासन ने लोगों से वूहान शहर में दाख़िल होने या शहर में रहने वाले लोगों से बाहर यात्रा ना करने का आग्रह किया है.

एहतियाती प्रयासों के मद्देनज़र अस्थाई तौर पर सार्वजनिक परिवहन बंद कर दिया गया है, लेकिन कुछ ही दिनों में चीनी नववर्ष है जिस अवसर पर लाख़ों-करोड़ों लोग देश के विभिन्न हिस्सों का रुख़ करते हैं. 

इस वजह से वायरस की रोकथाम के लिए प्रशासन द्वारा किए जा रहे प्रयास मुश्किल भरे हो गए हैं.

रिपोर्टों के अनुसार बुधवार को चीन के मकाऊ शहर में नॉवल कोरोनावायरस के पहले मामले की पुष्टि हुई.

साथ ही थाईलैंड, कोरिया, जापान, ताइवान और अमेरिका में इसके मामले सामने आए हैं.

ऑस्ट्रेलिया, हॉंगकॉंग, ताइवान, अमेरिका, रूस और जापान सहित कई देशों के प्रमुख हवाई अड्डों पर वूहान से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग की व्यवस्था की गई है.