अमेरिकी कार्रवाई में ईरान के शीर्ष जनरल की मौत, संयम बरतने की अपील की

3 जनवरी 2020

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने इराक़ की राजधानी बग़दाद में अमेरिकी हमले में ईरान के एक सैन्य जनरल की मौत के बाद उपजी स्थिति पर गहरी चिंता जताते हुए संयम बरतने की अपील की है. उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा है कि दुनिया खाड़ी क्षेत्र में एक और युद्ध का ख़तरा मोल नहीं ले सकती.

यूएन प्रमुख के उपप्रवक्ता फ़रहान हक़ ने शुक्रवार को एक बयान जारी करके कहा, “महासचिव ने खाड़ी क्षेत्र में तनाव में कमी लाने की निरंतर पैरवी की है. हाल ही में जिस तरह तनाव बढ़ा है उससे वह गहरे रूप में चिंतित हैं.” 

"यह एक ऐसा लम्हा है जब नेताओं को अधिकतम संयम बरतना होगा. दुनिया खाड़ी क्षेत्र में एक और युद्ध का ख़तरा मोल नहीं ले सकती."

जनरल क़ासिम सुलेमानी ईरानी सुरक्षा बल रेवॉल्यूशनरी गार्ड्स की शीर्ष यूनिट अल-कुद्स के प्रमुख थे.

इराक़ की राजधानी बग़दाद में हवाई अड्डे के बाहर उनके काफ़िले पर अमेरिका ने हवाई हमला किया जिसमें उनकी मौत हो गई.

अमेरिकी रक्षा मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान के अनुसार राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने इस हमले का आदेश दिया था.

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार अमेरिका के इस हमले में ईरान समर्थित इराक़ी मिलिशिया के कमांडर अबू मेहदी अल-मुहन्दीस की भी मौत हो गई.

अमेरिका ने उनके कताएब हेज़बुल्लाह गुट को उस रॉकेट हमले का ज़िम्मेदार ठहराया है जिसमें कुछ ही दिन पहले इराक़ में एक अमेरिकी कॉन्ट्रैक्टर की मौत हो गई थी.  

इराक़ में संयुक्त राष्ट्र महासचिव की विशेष प्रतिनिधि जिनीन हेनिस ने भी कहा है कि सभी पक्षों को संयम का परिचय देना होगा "ताकि हिंसा और क्षेत्रीय अस्थिरता के विनाशकारी चक्र से बचा जा सके. लंबे समय तक, इराक़ अलग-अलग ताक़तों में प्रतिस्पर्धा की रंगभूमि रहा है. इराक़ी जनता स्थिरता और शांति की हक़दार है. ठंडे दिमाग़ से काम लेना होगा."

ईरान के सर्वोच्च धार्मिक नेता आयतुल्लाह अली ख़मेनेई ने जनरल सुलैमानी की मौत पर तीन दिन के सार्वजनिक शोक की घोषणा की है.

मीडिया ख़बरों के अनुसार उन्होंने अमेरिकी कार्रवाई का बदला लेने की बात कही है.

उपप्रवक्ता फ़रहान हक़ ने न्यूयॉर्क में यूएन मुख्यालय में पत्रकारों के सवालों के जवाब देते हुए बताया कि यूएन महासचिव ने संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी दूत से ताज़ा हालात पर बातचीत की है लेकिन इसका ब्यौरा उन्होंने नहीं दिया.

उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र इराक़ में अपना काम जारी रखेगा और यूएन मिशन देश में स्थिरता क़ायम रखने को मज़बूती से आगे बढ़ाएगा.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिए यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एंड्रॉयड