महिलाओं के लिए 'समावेशी और शांतिपूर्ण भविष्य' की ओर बढ़ता सोमालिया

23 अक्टूबर 2019

संयुक्त राष्ट्र उपमहासचिव आमिना मोहम्मद ने कहा है कि शांति और स्थिरता के रास्ते पर सोमालिया ने ज़बरदस्त प्रगति की है और शांति व सुरक्षा प्रयासों में सोमाली महिलाओं की हिस्सेदारी होने से स्थानीय समाज एक समावेशी और शांतिपूर्ण भविष्य की दिशा में आगे बढ़ा है. यूएन उपमहासचिव ‘हॉर्न ऑफ़ अफ़्रीका’ क्षेत्र में स्थित देशों की यात्रा कर रही हैं और उसी सिलसिले में उन्होंने सोमालिया का एक दिन के लिए दौरा किया. 

इस यात्रा के दौरान उनका ध्यान मुख्य रूप से महिला, शांति व सुरक्षा पर केंद्रित है. साथ ही देश में शांति, स्थिरता और विश्वसनीय चुनाव के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय की अहम भूमिका को रेखांकित किया गया है.

उपमहासचिव आमिना मोहम्मद के साथ इस यात्रा में महिला, शांति व सुरक्षा पर अफ़्रीकी संघ के विशेष दूत बिनेटा डियोप और ‘होर्न ऑफ़ अफ़्रीका’ क्षेत्र के लिए यूएन महासचिव के विशेष दूत परफ़ेट ओनान्गा-अन्यांगा भी शामिल थे.

यात्रा के दौरान प्रतिनिधिमंडल ने प्रधानमंत्री हसन अली खायरे, अन्य कैबिनेट मंत्रियों और नागरिक समाज की महिला नेताओं से मुलाक़ात कर सरकार की नीतियों के बारे में जानकारी प्राप्त की.

इस यात्रा के दौरान चुनावों में महिलाओं की शांतिपूर्ण हिस्सेदारी की अहमियत, चरमपंथ का मुक़ाबला करने के प्रयासों और सोमालिया के आर्थिक विकास जैसे मुद्दों को प्रमुखता से जगह मिली है.

यूएन उपमहासचिव ने कहा कि, “जीवन के भिन्न-भिन्न क्षेत्रों में सोमाली महिलाओं की भूमिका के बारे में विविध आवाज़ों को सुनने का अवसर दर्शाता है कि वे कितना जुड़ाव महसूस करती हैं और जीवन के सभी पहलुओं में महिलाओं और लैंगिक समानता को समाहित करने के लिए कितना संकल्पित हैं.”

“इसका अर्थ महिलाओं की भूमिका के प्रति उन पुरातन पारंपरिक विचारों को चुनौती देना और अपनी संभावनाओं को पूर्ण रूप से हासिल करने के लिए उन्हें स्थान देना है.”

हालांकि उन्होंने माना कि अभी और प्रगति को हासिल किया जाना बाक़ी है, विशेषकर लैंगिक समानता, राजनीति में महिलाओं की भूमिका, शांतिनिर्माण व सुरक्षा, और चुनावों में महिलाओं की हिस्सेदारी के क्षेत्र में.

प्रतिनिधिमंडल ने सोमालिया में यूएन सहायता मिशन और अन्य एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाक़ात की. इस दौरे के बाद यूएन उपमहासचिव का कार्यक्रम सूडान जाने का है जहां वह खार्तूम और दार्फ़ूर का दौरा करेंगी.

सूडान में लंबे समय तक चली राजनीतिक उठापठक के बाद आम नागरिकों के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा आर्थिक विकास के प्रयासों और महिला नेतृत्व की अहमियत जैसे मुद्दे केंद्र में रहेंगे.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लि/s यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एण्ड्रॉयड