लैफ़्टिनेंट जनरल अभिजीत गुहा हुदायदाह समझौते के मिशन प्रमुख नियुक्त

12 सितम्बर 2019

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने भारतीय मूल के सैन्य अधिकारी लैफ़्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) अभिजीत गुहा को यमन में हुदायदाह समझौते को सहायता देने वाले संयुक्त राष्ट्र के मिशन के प्रमुख नियुक्त किया है. उनकी नियुक्ति संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव संख्या 2452 (2019) और 2481 (2019) के तहत की गई है. लैफ़्टिनेंट जनरल अभिजीत गुहा को री-डेप्लॉयमेंट कॉर्डिनेशन कमेटी (आरसीसी) का अध्यक्ष भी बनाया गया है.

 

लैफ़्टिनेंट जनरल अभिजीत गुहा इससे पहले ये ज़िम्मेदारी संभालने वाले लैफ़्टिनेंट जनरल माइकल ललेसगार्ड का स्थान लेंगे जिन्होेंने इस पद पर 31 जनवरी से लेकर 31 जुलाई 2019 तक काम किया. 

महासचिव ने लैफ़्टिनेंट जनरल माइकल ललेसगार्ड की इस दौरान प्रतिबद्ध और असाधारण सेवाओं के लिए उन्हें धन्यवाद दिया.

लैफ़्टिनेंट जनरल अभिजीत गुहा इस पद पर नियुक्ति के लिए 39 वर्ष के राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय सैनिक अनुभव के साथ आ रहे हैं. 

उन्होंने 2009 से लेकर 2013 तक  संयुक्त राष्ट्र के शांति अभियानों के विभाग में डिपुटी मिलिटरी एडवायज़र और फिर मिलिटरी एडवायज़र के तौर पर काम किया.  उन्होंने 2013 में शांति रक्षा व रणनैतिक साझेदारी कार्यालय की स्थापना भी की. 

लैफ़्टिनेंट जनरल अभिजीत गुहा इससे पहले भी अनेक महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके हैं जिनमें भारतीय सेना में कमांड, स्टाफ़ और निर्देशक ज़िम्मेदारियाँ शामिल हैं. उन्होंने मुंबई क्षेत्र में एक इन्फेंट्री ब्रिगेड और इन्फेंट्री डिविज़न की कमान भी संभाली.

उन्होंने 1992 से 1993 तक कम्बोडिया में संयुक्त राष्ट्र के संक्रमणकालीन प्राधिकरण के लिए मिलिटरी पर्यवेक्षक के रूप में भी काम किया.

2013 में भारतीय सेना से रिटायर होने के बाद जनरल अभिजीत गुहा ने संयुक्त राष्ट्र शांति रक्षा अभियानों में 2014 में टैक्नोलॉजी व नवीकरण पर विशेषज्ञ पैनल में भी सेवा की. जनरल गुहा 2015 में शांति अभियानों पर स्वतंत्र उच्च स्तरीय पैनल में भी रहे. 

लैफ़्टिनेंट जनरल अभिजीत गुहा ने अफ्रीका और मध्य पूर्व में संयुक्त राष्ट्र की अनेक जाँच संस्थाओं और बोर्ड ऑफ़ इंक्वायरीज़ में भी काम किया है.

लैफ़्टिनेंट जनरल अभिजीत गुहा (रिटायर्ड) भारत के प्रतिष्ठित डिफेंस सर्विसेज़ स्ट़ाफ़ कॉलेज, कॉलेज ऑफ़ कॉम्बैट और नेशनल डिफ़ेंस कॉलेज से प्रशिक्षित रहे हैं.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिए यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एंड्रॉयड