डीआर कॉंगो की जनता और यूएन शांतिरक्षकों के साहस को सलाम

1 सितम्बर 2019

कॉंगो लोकतांत्रिक गणराज्य (डीआरसी) की यात्रा के दूसरे दिन संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने देश की जनता के साहस की प्रशंसा करते हुए भरोसा दिलाया है कि बीमारियों और असुरक्षा के विरूद्ध लड़ाई में संयुक्त राष्ट्र उनके साथ है. यूएन प्रमुख ने जनता को सुरक्षा प्रदान करते समय अपने प्राण न्यौछावर करने वाले शांतिरक्षकों को श्रृद्धांजलि दी है.

रविवार को बेनी शहर में एक प्रेस कांफ़्रेंस को संबोधित करते हुए महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा कि इस क्षेत्र में लोग इबोला के अलावा ख़सरा, मलेरिया, हैज़ा और असुरक्षा जैसी बड़ी चुनौतियों का भी सामना कर रहे हैं. 

बेनी में इबोला वायरस के मामले बड़ी संख्या में सामने आए हैं और यह कॉंगो लोकतांत्रिक गणराज्य के सबसे ज़्यादा प्रभावित इलाक़ों में है. 

स्थानीय मीडिया से फ़्रेंच भाषा में बात करते हुए उन्होंने कहा, “मुझे आशा है कि मेरी उपस्थिति दर्शाती है कि मौत और भय फैलाने वाले हथियारबंद गुटों के विरूद्ध लड़ाई में हमारा पूरा समर्थन यूएन मिशन और उसके साझेदारों को है.” उल्लेखनीय है कि कॉंगो की सशस्त्र सेना और राष्ट्रीय पुलिस बल, यूएन मिशन के साथ देश में शांति स्थापित करने और स्थिरता लाने का प्रयास कर रहे हैं. 

यूएन प्रमुख ने हिंसा का शिकार लोगों, उनके परिवारजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की और सभी हथियारबंद गुटों से तत्काल आम नागरिकों और उन्हें सुरक्षा प्रदान करने वाले सुरक्षाकर्मियों पर हमले रोकने की अपील की. 

“ब्लू हेलमेट पहने शांतिरक्षकों ने शांति की सेवा में एक बड़ी क़ीमत चुकाई है. लेकिन इससे हमारा संकल्प मज़बूत होता है. क्षेत्र में असुरक्षा को दूर करने के लिए हम हरसंभव प्रयास कर रहे हैं. बेनी के लोगों के लिए यह जानना ज़रूरी है कि हम उनकी पीड़ा को समझते हैं.”

महासचिव गुटेरेश ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र प्रणाली कॉंगो लोकतांत्रिक गणराज्य के प्रशासन, स्थानीय समुदायों और नागरिक समाज संगठनों को समर्थन देने और असुरक्षा के ख़िलाफ़ लड़ाई के लिए संकल्पित है. इस संबंध में पेश आ रही चुनौतियों के सिलसिले में यूएन प्रमुख राजधानी किन्शासा में सरकारी अधिकारियों के साथ बातचीत करेंगे.

जनवरी 2017 में संयुक्त राष्ट्र महासचिव का पदभार संभालने के बाद यह पहली बार है जब वह डीआरसी की यात्रा कर रहे हैं. यहां उनका वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों, शांति प्रक्रिया में शामिल पक्षों, और यूएन मिशन के नागरिक, पुलिस और सैन्य अधिकारियों से मिलने का कार्यक्रम है.

महासचिव गुटेरेश के साथ प्रतिनिधिमंडल में ग्रेट लेक्स के लिए विशेष प्रतिनिधि माइकल कोफ़ोन्दो; अफ़्रीका में विश्व स्वास्थ्य संगठन के क्षेत्रीय निदेशक मातशिदीसो मोएती; यूएन स्वास्थ्य एजेंसी के आपात कार्यक्रम के कार्यकारी निदेशक माइक रायन; और आपात स्वास्थ्य कार्रवाई के सहायक महासचिव इब्राहिमा फॉल शामिल हैं.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिए यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एंड्रॉयड