यूएन प्रमुख ने चुनौतियों से घिरे डीआर कॉंगो के साथ एकजुटता दिखाई

31 अगस्त 2019

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश और यूएन के अन्य वरिष्ठ अधिकारी कॉंगो लोकतांत्रिक गणराज्य (डीआरसी) के तीन दिवसीय दौरे पर हैं जहां स्थानीय समुदाय असुरक्षा और एक बड़े स्वास्थ्य संकट का सामना कर रहे हैं. अगस्त 2018 से इबोला वायरस के मामले लगातार सामने आ रहे हैं और अब तक दो हज़ार से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

यूएन प्रमुख शनिवार को उत्तर कीवू प्रांत के गोमा शहर पहुंचे हैं जो इबोला संक्रमण के मामलों का केंद्र बना हुआ है. डीआरसी में यूएन की विशेष प्रतिनिधि लैला ज़ेरोगी ने गोमा में यूएन प्रमुख का स्वागत किया जिसके बाद उन्होंने यूएन शांतिरक्षकों के एक दल का निरीक्षण किया.

महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने यूएन शांतिसैनिकों की सेवा और उनके बलिदान के लिए उनका आभार जताया और बेहद मुश्किल परिस्थितियों में जान जोखिम में डालकर आम नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के जज़्बे की सराहना की.

यूएन शांति अभियानों के अवर महासचिव ज्यां-पिए लाकॉआ ने इस उच्चस्तरीय यात्रा को एक ऐसा अवसर बताया है जिससे देश में शांति और स्थिरता कायम करने के प्रयासों को समर्थन मिलेगा.

उन्होंने भरोसा दिलाया कि संयुक्त राष्ट्र की समस्त प्रणाली इबोला बीमारी पर क़ाबू पाने के लिए प्रतिबद्ध है. इबोला के अलावा डीआरसी में लोगों को अन्य घातक बीमारियों जैसे ख़सरा और मलेरिया का भी सामना करना पड़ रहा है जिनका शिकार होने वाले लोगों की संख्या इबोला से कहीं ज़्यादा है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक डॉक्टर टेड्रोस अधानम घेब्रेयेसस भी यूएन प्रतिनिधिमंडल में शामिल हैं और उन्होंने कहा कि प्राथमिक चिकित्सा के लिए मज़बूत ढांचा सुनिश्चित करने के लिए निवेश बेहद अहम है. इससे सभी स्वास्थ्य ज़रूरतों को व्यापक ढंग से पूरा करने मे मदद मिलेगी.

स्थानीय मीडिया से फ़्रेंच भाषा में मुख़ातिब होते हुए महासचिव गुटेरेश ने डीआरसी की जनता की दृढ़्ता की प्रशंसा करते हुए कहा कि इबोला, ख़सरा, मलेरिया और हैज़े जैसी बड़ी बीमारियों से पनपे भयावह हालात का सामना करने के लिए डीआरसी सरकार और लोगों के साथ यूएन मज़बूती से खड़ा है.

जनवरी 2017 में संयुक्त राष्ट्र महासचिव का पदभार संभालने के बाद यह पहली बार है जब वह डीआरसी की यात्रा कर रहे हैं. यहां उनका वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों, शांति प्रक्रिया में शामिल पक्षों, और यूएन मिशन के नागरिक, पुलिस और सैन्य अधिकारियों से मिलने का कार्यक्रम है.

महासचिव गुटेरेश के साथ प्रतिनिधिमंडल में ग्रेट लेक्स के लिए विशेष प्रतिनिधि माइकल कोफ़ोन्दो; अफ़्रीका में विश्व स्वास्थ्य संगठन के क्षेत्रीय निदेशक मातशिदीसो मोएती; यूएन स्वास्थ्य एजेंसी के आपात कार्यक्रम के कार्यकारी निदेशक माइक रायन; और आपात स्वास्थ्य कार्रवाई के सहायक महासचिव इब्राहिमा फॉल शामिल हैं.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिए यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एंड्रॉयड