विश्व को परमाणु बम के ख़तरे से बचाने की पुकार

6 अगस्त 2019

हिरोशिमा पर परमाणु बम हमले में मारे गए लोगों को श्रृद्धांजलि देते हुए संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने ध्यान दिलाया है कि मानवता को परमाणु युद्ध की एक बड़ी क़ीमत चुकानी पड़ी है. हिरोशिमा पर बम गिराए जाने के 74 साल पूरे होने पर विश्व को परमाणु हथियारों से मुक्त करने की पुकार लगाई गई है.

हिरोशिमा में आयोजित वार्षिक शांति समारोह में संयुक्त राष्ट्र में निरस्त्रीकरण मामलों के लिए उच्च प्रतिनिधि इज़ूमी नाकामित्सु ने महासचिव एंतोनियो गुटेरेश की ओर से एक संदेश दिया.

उन्होंने कहा कि परमाणु धमाके में बच गए लोगों के नेतृत्व में हिरोशिमा और नागासाकी के लोग परमाणु हथियारों का फिर इस्तेमाल ना होने देने के लिए सबसे आगे खड़े रहे हैं.

नाकामित्सु ने कहा, “परमाणु युद्ध की मानवीय क़ीमत ध्यान दिलाने में उनके साहस और नैतिक नेतृत्व के लिए विश्व उनका क़र्ज़दार है. यह दुख की बात है कि हम आज बदतर होते जा रहे अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा हालात देख रहे हैं.”

उन्होंने चिंता जताई कि परमाणु-शक्ति संपन्न देशों में तनाव बढ़ रहा है और दशकों तक विश्व को सुरक्षित बनाने वाली निरस्त्रीकरण और हथियारों पर नियंत्रण लगाने वाली संस्थाओं पर अब सवाल उठ रहे हैं.

उन्होंने स्पष्ट किया कि परमाणु हथियारों के इस्तेमाल के ख़िलाफ़ इकलौती गारंटी परमाणु हथियारों का पूर्ण रूप से उन्मूलन ही है.

नाकामित्सु ने याद किया कि वर्ष 1946 में सबसे पहले महासभा प्रस्ताव का विषय परमाणु निरस्त्रीकरण ही था. “मैंने पिछले साल जो नया निरस्त्रीकरण एजेंडा सामने रखा था उसके आधार में यही उद्देश्य है.”

उन्होंने विश्व नेताओं से उस लक्ष्य की दिशा में तेज़ी से क़दम बढ़ाने की अपील की है.

युद्ध में पहली बार परमाणु हथियारों के इस्तेमाल के 74 साल पूरे होने पर उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में 14 हज़ार से ज़्यादा परमाणु हथियार हैं.

“इस ख़तरे को कम करने और आख़िर में पूरी तरह दूर करने के संबंध में अभी बहुत काम किया जाना बाक़ी है.”

संयुक्त राष्ट्र में निरस्त्रीकरण मामलों की प्रमुख ने कहा कि वह हिरोशिमा के लोगों की दृढ़ भावना से प्रेरित हैं और साथ मिलकर विश्व को परमाणु हथियारों से मुक्ति दिलाने के लिए तत्परता से काम करना चाहती हैं.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिए यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एंड्रॉयड