चीन में भूस्खलन पीड़ितों के प्रति शोक

29 जुलाई 2019

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने चीन में रविवार को भूस्खलन के कारण मलबे में दब जाने से कई लोगों की मौत होने पर गहरी संवेदना व्यक्त की है. दक्षिणी चीन के ग्वेज़ो प्रांत में भारी बारिश की वजह से  भूस्खलन की घटना हुई जिसमें 20 से ज़्यादा घर मलबे में दब जाने की ख़बरें हैं. इस दुर्घटना में 36 लोगों के मारे जाने और अनेक के लापता होने की आशंका है. 

महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने रविवार को एक बयान जारी कर  इस आपदा के पीड़ितों के प्रति गहरा शोक जताया है. 

"मैं बहुत दुखी हूं कि भूस्खलन के कारण लोगों की जान गई है और संपत्तियों को नुक़सान पहुंचा है."

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार शुइचेंग काउंटी के पिंगडी गांव में भूस्खलन होने से 36 लोगों के मारे जाने की आशंका जताई गई है. 

राहत और बचाव अभियान टीमें  मलबे को हटाकर उसमें दबे लोगों को बाहर निकालने का प्रयास कर रही हैं. 

ताज़ा समाचार मिलने तक 40 लोगों को बचा लिए जाने की जानकारी मिली है लेकिन 15 लोग लापता बताए जा रहे हैं. इस दुर्घटना में 20 से ज़्यादा घर मलबे में दब गए हैं.

यूएन प्रमुख ने खोज और बचाव अभियान में जुटी टीमों और चीन सरकार के बचाव  अभियान की प्रशंसा की है और संयुक्त राष्ट्र से राहत प्रयासों में हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया है.

प्रभावित इलाक़े में अब भी बारिश हो रही है. 

चीन के ग्रामीण और पर्वतीय इलाक़ों में भूस्खलन की घटनाएं आम मानी जाती है - ख़ासकर मूसलाधार बारिश के बाद ऐसी घटनाएं ज़्यादा देखने को मिलती हैं.

साल 2019 में चीन में बारिश की वजह से बाढ़ का सामना भी करना पड़ रहा है. 

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिए यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एंड्रॉयड