इकोसॉक की नई अध्यक्ष की बुनियादी स्वतंत्रताओं की हिमायत

25 जुलाई 2019

संयुक्त राष्ट्र की आर्थिक व सामाजिक परिषद (इकोसॉक) की नई अध्यक्ष मोना जुऊल ने अपना पद संभालने के मौक़े पर कहा है कि इस संस्था के आदर्श और गतिविधियाँ उतने ही प्रासंगिक हैं जितने कि 1945 में थे जब इसका गठन किया गया था. नॉर्वे मूल की मोना जुऊल ने कहा कि ये परिषद आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक मुद्दों पर अंतरराष्ट्रीय सहयोग को बढ़ावा देने के लिए वजूद में आई थी.

मोना जुऊल संयुक्त राष्ट्र आर्थिक व सामाजिक परिषद की एक उपाध्यक्ष भी रह चुकी हैं और अध्यक्ष पद के लिए उनका चयन गुरूवार को हुआ. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि दुनिया भर में परस्पर सम्मान, बुनियादी स्वतंत्रताओं और मानवाधिकारों की गारंटी सुनिश्चित करने के माहौल को बढ़ावा देना इकोसॉक के कुछ प्रमुख कार्य हैं. और ये नस्ल, यौन, भाषा और धर्म किसी भी आधार भेदभाव के बिना होना चाहिए.

इकोसॉक की नई अध्यक्ष मोना जुऊलू ने कहा, “आज हमारे सामने 2030 का टिकाऊ विकास एजेंडा भी मौजूद है जो ग़रीबी दूर करने, पृथ्वी के संरक्षण और सभी के लिए शांति और ख़ुशहाली सुनिश्चित करने में मार्गदर्शन करता है.”

उन्होंने कहा कि इकोसॉक 17 टिकाऊ विकास लक्ष्यों को हासिल करने में अंतरराष्ट्रीय समुदाय की मदद के लिए बहुत से अवसर पेश करती है. साथ ही इकोसॉक और उसके सरकारों के स्तर पर बनाए गए ढाँचे एक व्यापक पारिस्थितिकी तंत्र बनाते हैं जिसमें से हर एक अंग किसी विशिष्ठ कार्य के लिए बहुत उपयुक्त है.

नई अध्यक्ष मोना जुऊलू ने इस मौक़े पर इकोसॉक की निवर्तमान अध्यक्ष रहोंडा किंग को उनके प्रभावशाली कामकाज और समर्पण के लिए धन्यवाद दिया.

“इकोसॉक की नई अध्यक्ष के रूप में ये मेरी महत्वकांक्षा है कि संस्था एक ईको-सिस्टम के तौर पर और ज़्यादा बेहतर तरीक़े से काम करे.” उन्होंने ये भी कहा कि वो संस्था के लक्ष्य हासिल करने के लिए मिलजुलकर काम करने की संस्कृति को सुनिश्चित करने की कोशिश करेंगी.

उन्होंने आर्थिक व सामाजिक परिषद को एजेंडी 2030 की रफ़्तार पर नज़र रखने और उसकी समीक्षा करने के लिए उच्च स्तरीय राजनैतिक फ़ोरम को इस्तेमाल करने के लिए प्रोत्साहित किया. उन्होंने कहा कि उनका इरादा 2020 में एक समावेशी, तथ्यों पर आधारित और कार्रवाई व परिणामों पर केंद्रित फ़ोरम आयोजित करने का है.

इकोसॉक की नई अध्यक्ष ने संस्था को बेहतर नतीजे हासिल करने और तमाम देशों में हालात में प्रभावशाली बदलाव लाने के प्रयासों के तहत पूरे संयुक्त राष्ट्र परिवार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने की हिमायत की.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिए यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एंड्रॉयड