सत्ता की जवाबदेही तय करने की 'आधारशिला' है स्वतंत्र प्रेस

2 मई 2019

एक ऐसे समय जब झूठी सूचनाओं का जाल फैल रहा है और समाचार मीडिया के प्रति अविश्वास बढ़ रहा है, एक स्वतंत्र प्रेस का होना शांति, न्याय, टिकाऊ विकास और मानवाधिकारों के लिए बेहद ज़रूरी है. विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस 2019 के लिए अपने संदेश में संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने मीडिया की अहमियत को रेखांकित किया है. 

यूएन प्रमुख ने कहा कि पारदर्शी और विश्वसनीय सूचना तक पहुंच के अभाव में किसी भी लोकतंत्र को पूर्ण नहीं कहा जा सकता. बिना किसी रोकटोक के होने वाली पत्रकारिता “निष्पक्ष और न्यायोचित संस्थाओं का निर्माण करने, नेताओं की जवाबदेही तय करने और सत्ता के समक्ष सत्य कहने का साहस रखने की आधारशिला है.” 

विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस शुक्रवार, 3 मई को मनाया जाlता है लेकिन उससे जुड़े समारोहों की शुरुआत गुरुवार को हो गई. दुनिया के कई देशों में – यहां तक कि सबसे पुरानी और मज़बूत लोकतांत्रिक प्रणालियों में भी – झूठी सूचनाओं का फैलना एक बड़ी समस्या बनता जा रहा है.

ऐसे में इन आयोजनों के तहत यह जताने का प्रयास हो रहा है कि अच्छी रिपोर्टिंग लोकतंत्र और निष्पक्ष चुनावों को बढ़ावा देने में कैसे भूमिका अदा करती है. 

महासचिव गुटेरेश ने कहा कि “अपना प्रतिनिधि चुनने समय लोगों को तथ्यों का सहारा होना चाहिए, झूठ का नहीं.” उन्होंने ध्यान दिलाया कि जिस तरह हमें सूचनाएं मिलती हैं और उन्हें साझा किया जाता है, तकनीक ने उन तरीक़ों में बड़ा बदलाव लाने में मदद की है. लेकिन इसका इस्तेमाल लोगों को भटकाने और उनके सामने ग़लत ढंग से जानकारी पेश करने में भी हो रहा है. इससे हिंसा भड़काने और नफ़रत फैलाने की कोशिश होती है. 

संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन  (UNESCO) के आंकड़ों के अनुसार 2018 में अपनी ज़िम्मेदारी निभा रहे करीब 100 पत्रकार मारे गए और सैकड़ों को जेल में बंद कर दिया गया. 1994 से 2018 तक कुल 1,307 पत्रकार मारे जा चुके हैं.

यूएन प्रमुख ने पत्रकारों पर हमलों की लगातार बढ़ती संख्या और दंडमुक्ति की संस्कृति पर क्षोभ जताते हुए कहा कि जब मीडियाकर्मियों को निशाना बनाया जाता है तो इसकी क़ीमत पूरे समाज को चुकानी पड़ती है. 

यूनेस्को प्रमुख ऑड्री अज़ोले ने अपने संदेश में कहा कि सच पर आधारित राय और सूचना के बेरोकटोक आदान प्रदान के ज़रिए विचारों की आज़ादी सुनिश्चित करना बेहद ज़रूरी है. उन्होंने कहा कि जो समाज आज़ाद प्रेस का मूल्य समझते हैं उन्हें लगातार सतर्क रहने की आवश्यकता है. “अभिव्यक्ति की आज़ादी और पत्रकारों की सुरक्षा के लिए हमें मिलकर काम करना होगा.”

प्रेस स्वतंत्रता दिवस के तहत कार्यक्रमों में इथियोपिया की राजधानी आदिस अबाबा में सरकार और अफ़्रीकी संघ आयोग ने यूनेस्को के साथ मिलकर एक सम्मेलन का आयोजन किया है जिसमें ग़लत सूचनाओं के दौर में लोकतंत्र, पत्रकारिता, चुनावों और मीडिया की भूमिका पर चर्चा होगी.

इसी विषय पर लेबनान की राजधानी बेरूत में भी चर्चा का आयोजन हो रहा है. शुक्रवार को यूएन के न्यूयॉर्क मुख्यालय में एक उच्चस्तरीय कार्यक्रम होगा जिसे महासचिव गुटेरेश और महासभा अध्यक्ष मारिया फ़र्नान्डा एस्पिनोसा संबोधित करेंगे. 

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिये यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एण्ड्रॉयड