वैश्विक परिप्रेक्ष्य मानव कहानियां

चीन के बेल्ट एंड रोड फोरम में गुटेरेश ने टिकाऊ विकास के लिए हिमायत की

बीजिंग, चीन में अन्तररष्ट्रीय सहयोग के लिए बेल्ट एंड रोड फोरम में संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतॉनियो गुटेरेश का वक्तव्य
UN Photo/Zhao Yun
बीजिंग, चीन में अन्तररष्ट्रीय सहयोग के लिए बेल्ट एंड रोड फोरम में संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतॉनियो गुटेरेश का वक्तव्य

चीन के बेल्ट एंड रोड फोरम में गुटेरेश ने टिकाऊ विकास के लिए हिमायत की

एसडीजी

संयुक्त राष्ट्र महासचिव अंतॉनियो गुटेरेश ने कहा है कि चीन की अंतरराष्ट्रीय व्यापार और आर्थिक विकास योजना (बेल्ट एंड रोड इनीशिएटिव) अधिक समतामूलक व समृद्ध विश्व के निर्माण में योगदान दे सकती है और जलवायु परिवर्तन के नकारात्मक असर को पलट सकती है.

महासचिव अंटोनियो गुटेरेश ने चीन के बेजिंग शुक्रवार को बेल्ट एंड रोड फ़ोरम में ये बात कही.

अन्तरराष्ट्रीय समन्वय के दूसरे बेल्ट एंड रोड फोरम में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और विभिन्न देशों के नेताओं को संबोधित करते हुए महासचिव गुटेरेश ने अन्तरराष्ट्रीय समुदाय से आग्रह किया कि वे टिकाऊ विकास लक्ष्यों (एसडीजी) को लागू करने और ‘अनियंत्रित जलवायु परिवर्तन को रोकने’ के लिए संसाधनों को जुटाने हेतु ‘एक साथ काम करें.’

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कहा, ‘चीन के नेतृत्व वाली जलवायु संबंधी पहल हम सबका मार्गदर्शन करती है.’

उन्होंने कहा कि चीन सरकार ने 2017 में नवीकृत (अक्षय) ऊर्जा के क्षेत्र में 125 अरब अमरीकी डॉलर का निवेश किया था.

उन्होंने चीन में संयुक्त राष्ट्र के स्थानीय संस्थानों को समर्थन देने का वचन दिया. इनमें संयुक्त राष्ट्र एजेंसियां, संस्थान, कार्यक्रम और परियोजनाएँ शामिल हैं.

उन्होंने कहा कि बेल्ट एंड रोड इनीशिएटिव के स्तंभ 17 एसडीजीज़ से जुड़े हुए हैं जिनमें ग़रीबी और भुखमरी को समाप्त करना शामिल है और इससे ‘लोगों की वास्तविक प्रगति हो सकती है.’ 

महासचिव ने कहा, ‘इसका मतलब ये भी है कि सतत विकास लक्ष्यों (एसडीजीज़) को हासिल करने के लिए वित्तीय अंतराल को भरने में मदद करनी होगी, और विकासशील देशों में बुनियादी ढाँचे में निवेश करने के लिए क़रीब एक खरब डॉलर की ज़रूरत होगी.’

महासचिव अंतॉनियो गुटेरेश ने कहा कि तमाम देशों को ‘गैर टिकाऊ, फॉसिल फ्यूल वाली धूसर अर्थव्यवस्था से स्वच्छ, हरित, निम्न कार्बन ऊर्जा वाले भविष्य’ में संक्रमण का मार्ग तलाश करने की जरूरत है और ये विश्व स्तर पर होना चाहिए.

उन्होंने कहा कि 2050 तक विश्व को जितने बुनियादी ढांचे की जरूरत होगी, उसका लगभग 75% हिस्सा अभी बनाया जाना बाक़ी है. अंतॉनियो गुटेरेश ने नवीकृत ऊर्जा से जुड़े रोजगार सृजन और तकनीक में व्यापक निवेश करने के लिए चीन की सराहना भी की.

उन्होंने फोरम में कहा, ‘मैं बेल्ट एंड रोड इनीशिएटिव को ऐसे महत्वपूर्ण स्थान के रूप में देखता हूं जहां हरित सिद्धांतों को हरित कार्यों के ज़रिए मूर्त रूप दिया जा सकता है.’

इससे पूर्व उन्होंने यह भी कहा, “अब हमारे पास ‘जलवायु सुदृढ़ और जन-केंद्रित शहर बनाने और पारगमन प्रणालियाँ व ऊर्जा ग्रिड्स विकसित करने अनूठा मौका है जो कम कार्बन उत्सर्जन और ज़्यादा टिकाऊपन को प्राथमिकता दें.”

महासचिव गुटेरेश के साथ संयुक्त राष्ट्र आर्थिक एवं सामाजिक मामलों के विभाग (देसा) में अपर महासचिव लिऊ जेनमिन भी बीजिंग में मौजूद थे.

चीन के राष्ट्रपति शी और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाक़ात करना और शनिवार को हरित और टिकाऊ विकास को बढ़ावा देने के लिए एक गोलमेज बैठक में भी भाग लेना भी अंतॉनियो गुटेरेश के एजेंडा में शामिल था.