नोट्रे डाम गिरजाघर में भीषण आग से व्यथित यूएन प्रमुख

15 अप्रैल 2019

फ्रांस की राजधानी पेरिस के प्राचीन नोट्रे डाम कैथेड्रल में भीषण आग लगने और इस ऐतिहासिक धरोहर को नुक़सान  पहुंचने पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने दुख प्रकट किया है. नोट्रे डाम गिरजाघर को गॉथिक स्थापत्य कला का अनुपम उदाहरण के रूप में देखा जाता है और 1991 में उसे विश्व धरोहर स्थल का दर्जा दिया गया था.

ट्विटर पर अपने संदेश में यूएन प्रमुख गुटेरेश ने कहा, "पेरिस में नोट्रे डाम कैथेड्रल - 14वीं शताब्दी से मौजूद विश्व धरोहर का अप्रतिम उदाहरण -  के आग की लपटों में घिरे होने की तस्वीरें मिलने से भयाक्रांत हूं. मेरी संवेदनाएं फ़्रांस की सरकार और वहां की जनता के साथ हैं."

गिरजाघर के नवीनीकरण का काम चल रहा था. भीषण आग को बुझाने के लिए सैकड़ों दमकलकर्मी जुटे हैं  लेकिन तमाम प्रयासों के बावजूद चर्च का शिखर और छत ढह गई है.

चर्च मे आग लगने का कारण अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है.

संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) की महानिदेशक ऑड्री अज़ोले ने भी ट्वीट कर कहा है कि नाटकीय ढंग से कैथोलिक चर्च में आग लगने से उनके मन में गहरी भावनाएं उमड़ रही हैं.

फ्रांस की राजधानी के मुख्य आकर्षणों में शामिल ऐतिहासिक  नोट्रे डाम कैथेड्रल में हर साल बड़ी संख्या में लोग आते हैं और 1991 में इसे यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल का दर्जा दिया गया था. 

यूनेस्को महानिदेशक ने कहा है उनका संगठन स्थिति पर करीबी नज़र रख रहा है और अमूल्य धरोहर को संरक्षित रखने और पुनर्स्थापित करने के प्रयासों में फ्रांस के साथ खड़ा है.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिए यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एंड्रॉयड