रासायनिक तत्वों की आवर्त सारणी के अंतरराष्ट्रीय वर्ष की शुरुआत

29 जनवरी 2019

संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक एवं सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) के पेरिस स्थित मुख्यालय में  एक कार्यक्रम के आयोजन के साथ ही रासायनिक तत्वों की आवर्त सारणी के अंतरराष्ट्रीय वर्ष 2019 की आधिकारिक शुरुआत हो गई है. इस दौरान पूरे साल दुनिया भर में कई कार्यक्रमों और गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा.

 

आवर्त सारणी का निर्माण रूसी वैज्ञानिक दिमित्री मैंडेलीफ़ द्वारा किए जाने के150 साल पूरे होने पर यह वर्ष मनाया जा रहा है जिसके ज़रिए आवर्त सारणी की अहमियत को समझाया जाएगा और इसके प्रति जागरूकता फैलाई जाएगी. 

आवर्त सारणी को आधुनिक विज्ञान में बेहद महत्वपूर्ण और प्रभावशाली उपलब्धि के तौर पर देखा जाता है जिसका महत्व सिर्फ रसायन विज्ञान में नहीं बल्कि भौतिकी, जैविक विज्ञान और विज्ञान से जुड़े अन्य  विषयों में भी देखने को मिलता है. दो साल पहले संयुक्त राष्ट्र महासभा ने इस वर्ष को मनाने का निर्णय लिया था.

पेरिस स्थित यूनेस्को मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम का उद्घाटन यूनेस्को की महानिदेशक ऑड्री अज़ोले ने किया.  समारोह में कईं वैज्ञानिक और अन्य क्षेत्रों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया जिनमें रूस के विज्ञान और उच्च शिक्षा मंत्री मिखाईल कोटीकोफ़, फ़्रांस की विज्ञान अकादमी के अध्यक्ष पियरे कोरवोल और रसायन में 2016 के नोबेल पुरस्कार विजेता प्रोफ़ेसर बेन फ़ेरिंगा शामिल हैं. 

इस अवसर पर यूनेस्को शिक्षा के क्षेत्र में अपनी पहल 1001 Inventions: Journeys from Alchemy to Chemistry को प्रस्तुत करेगा जिसे स्कूली छात्रों में रसायन विज्ञान की समझ बेहतर बनाने और उसके कई उपयोगों को समझाने के लक्ष्य से बनाया गया है.  

साल भर चलने वाली अन्य गतिविधियों के तहत पेरिस (फ़्रांस) और मूर्सिया (स्पेन) में विचार-गोष्ठी, ज्ञान परीक्षण के लिए और छात्रों में विषय के प्रति जिज्ञासा जगाने के लिए एक ऑनलाइन प्रतियोगिता का आयोजन किए जाने की योजना है.  यूनेस्को के पेरिस मुख्यालय में संवादात्मक प्रदर्शनी को भी आयोजित किया जाएगा. 

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिए यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एंड्रॉयड