यूएन महासभा: 75वाँ सत्र
यूएन महासभा के 75वें सत्र से सम्बन्धित सामग्री...

2020 में संयुक्त राष्ट्र की स्थापना को 75 वर्ष पूरे हो चुके हैं. संयुक्त राष्ट्र महासभा का वार्षिक सितम्बर में होता है और वर्ष 2020 का ये 75वाँ सत्र कोविड-19 से उत्पन्न परिस्थितियों में पहली बार वर्चुअल हो रहा है. इस ऐतिहासिक सत्र में वैश्विक महामारी, जलवायु संकट और बढ़ती असमानता के परिप्रेक्ष्य  में, दुनिया भर के नेता, वर्तमान चुनौतियों से निपटने के लिये वर्चुअल चर्चा में भाग लेंगे. यूएन महासभा के 75वें सत्र से जुड़ी कुछ सामग्री यहाँ संकलित है...

यूएन75: उपलब्धियों पर गर्व, मौजूदा चुनौतियों से निपटने का संकल्प

यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने संयुक्त राष्ट्र की स्थापना की 75वीं वर्षगाँठ के अवसर पर सोमवार को न्यूयॉर्क में आयोजित एक विशेष कार्यक्रम में ज़ोर देकर कहा कि एक बेहतर दुनिया के निर्माण के लिये इस विश्व संगठन से लोगों को बहुत उम्मीदें हैं. यूएन प्रमुख ने सदस्य देशों के प्रतिनिधियों को ध्यान दिलाया कि न्यायसंगत, सहनशील और टिकाऊ विश्व का निर्माण करने के लिये बहुपक्षवाद एक आवश्यकता है.

यूएन75: उपलब्धियाँ व प्रासंगिकता

वर्ष 1945 में स्थापित संयुक्त राष्ट्र ने 2020 में 75वीं वर्षगाँठ मनाई. इस तीन चौथाई शताब्दी के दौरान इस विश्व संगठन ने अनेक चुनौतियों का सामना किया, अनेक उपलब्धियाँ हासिल कीं और सभी के लिये उपयुक्त भविष्य बनाने के मिशन पर काम किया है. संयुक्त राष्ट्र की महत्ता और प्रासंगिकता पर नज़र डालती एक फ़िल्म...

यूएन75 संवाद: दस लाख लोगों ने प्रकट कीं भविष्य के प्रति आशाएँ व आकाँक्षाएँ

संयुक्त राष्ट्र की स्थापना की 75वीं वर्षगाँठ के अवसर पर वैश्विक चुनौतियों से निपटने के सन्दर्भ में लोगों से उनकी राय और सुझावों के जानने के लिये व्यापक स्तर पर सम्पन्न हुए एक अभूतपूर्व सर्वेक्षण के नतीजे जारी कर दिये गए हैं. जनवरी 2020 में शुरू हुए इस सर्वे में विकसित व विकासशील देशों में जीवन के हर क्षेत्र से जुड़े लोगों, महिलाओं, पुरुषों, लड़कों, लड़कियों ने भविष्य के प्रति अपनी आकाँक्षाएँ, आशाएँ और आशंकाएँ प्रकट कीं और बताया कि संयुक्त राष्ट्र इस कार्य में उनकी किस तरह मदद कर सकता है. 

यूएन75: सबकी चाहत वाले भविष्य की ओर

वर्ष 2020 में संयुक्त राष्ट्र अपनी स्थापना की 75वीं वर्षगाँठ मना रहा है. इस अवसर पर सोमवार, 21 सितम्बर को एक उच्चस्तरीय बैठक का आयोजन किया गया जिसमें अनेक विश्व नेताओं ने शिरकत की. इस आयोजन की थीम थी - "The Future we want, The United Nations we need यानि 'भविष्य, हमारी चाहत वाला, संयुक्त राष्ट्र, हमारी ज़रूरत वाला'. साथ ही युवाओं की भूमिका, और आने वाली पीढ़ियों के लिये संयुक्त राष्ट्र की प्रासंगिकता बनी रहने पर भी ख़ास ज़ोर दिया गया.

यूएन महासभा: 75वें सत्र में उच्चस्तरीय कार्यक्रमों का झरोखा

संयुक्त राष्ट्र की स्थापना की 75वीं वर्षगाँठ पर विश्व नेता वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण वर्चुअल माध्यम से विश्व मंच पर मौजूदा चुनौतियों और समाधानों पर अपनी बात रखेंगे, और ऐसा इतिहास में पहली बार होगा. इस दौरान जनरल डिबेट यानि आम चर्चा के साथ-साथ अनेक महत्वपूर्ण कार्यक्रम आयोजित किये जाएँगे जिनका उद्देश्य दुनिया को एक ज़्यादा सुरक्षित, स्वस्थ्य शान्तिपूर्ण और समृद्ध भविष्य की दिशा में अग्रसर करना है. एक नज़र अहम कार्यक्रमों पर...

PHOTOS FROM UNGA 75