यूएन मामले

कोविड-19: वैक्सीन का प्रायोगिक परीक्षण शुरू, एकजुटता की पुकार

संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख ने कहा है कि चीन द्वारा कोविड-19 के जैनेटिक चरित्र के बारे में जानकारी साझा करने के 60 दिनों के भीतर इस वायरस के इलाज की वैक्सीन का प्रायोगिक परीक्षण (ट्रायल) शुरू हो गया है. संगठन के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने बुधवार को इसे “एक असाधारण उपलब्धि” क़रार देते हुए विश्व भर से उसी तरह की एकजुटता की भावना दिखाने का आग्रह किया जो ईबोला पर क़ाबू पाने में नज़र आई थी.

कोविड-19: यूएन का कामकाज जारी, ‘सेवा के लिए प्रतिबद्धता अटल’

विश्व भर में कोरोनावायरस - कोविड-19 के संक्रमण को देखते हुए संयुक्त राष्ट्र ने अपने कर्मचारियों और दुनिया भर में इसके कार्यालयों का इस्तेमाल करने वालों की सुरक्षा के उपाय बढ़ा दिए हैं. इसके साथ ही ये भी सुनिश्चित किया जा रहा है कि इस विश्व संगठन का अपरिहार्य कामकाज सामान्य रूप से जारी रहे और इसे मिला मैंडेट पूरा होता रहे और ज़रूरतमंदों को जीवनरक्षक सहायता भी मुहैया कराई जाती रहे.

कोविड-19: यूएन मुख्यालय में ऐहतियाती उपाय, आम लोगों का प्रवेश बंद

कोरोनावायरस कोविड-19 का संक्रमण रोकने के प्रयासों के तहत दुनिया भर में अनेक स्कूल बंद कर दिए गए हैं और बड़ी संख्या में बच्चे स्कूलों से दूर रहे हैं. संयुक्त राष्ट्र शैक्षणिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन - यूनेस्को ने मंगलवार को ये जानकारी देते हुए बताया कि दुनिया भर में लगभग 36 करोड़ 30 बच्चों की स्कूली शिक्षा बाधित हुई है.

विश्व पर गहरी छाप छोड़ने वाले पूर्व महासचिव हावियर पेरेज़ डि कुएयर के निधन पर शोक

संयुक्त राष्ट्र के पाँचवें महासचिव रहे हावियर पेरेज़ डि कुएयर का 100 वर्ष की आयु में निधन हो गया है. दो बार महासचिव रहे पेरेज़ डी कुएयर को शांतिवार्ता के रास्ते निकालने और कठिन दौर में विश्व संगठन का नेतृत्व करने के लिए याद किया जाता है.

'पागलपन की आँधी से बढ़ती अस्थिरता के संकेत'

यूएन प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि पूरी दुनिया में बढ़ती अस्थिरता और अनपेक्षित भू-राजनैतिक तनावों ने पागलपन की एक आँधी को जन्म दिया है. उन्होंने न्यूयॉर्क स्थित यूएन मुख्यालय में मंगलवार को पत्रकारों के लिए अपनी मुख्य वार्षिक प्रेस वार्ता के दौरान ये बात कही.

यूएन-75 संवाद में सब आमंत्रित

'संयुक्त राष्ट्र 75' संवाद शुरू हो गया है. बुधवार, 29 जनवरी को यूएन मुख्यालय में एक अनोखी महफ़िल जमी जिसमें मुख्य मंच युवाओं के लिए उपलब्ध रहा. यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने भी इस महफ़िल में शिरकत की मगर उन्होंने कहा कि कोई भाषण देने के बजाय, वो यहाँ युवाओं की बात सुनने के लिए आए हैं. इस सभा में युवा प्रतिनिधियों ने भविष्य के लिए अपनी महत्वाकांक्षी रूपरेखा के बारे में बात की जिसमें अंतरराष्ट्रीय सहयोग व सभी की बात को सुना जाना अहम बताया गया.

यूएन-75 संवाद शुरू: सभी हैं शिरकत के लिए आमंत्रित

संयुक्त राष्ट्र की स्थापना के 75वें वर्ष में वैश्विक चुनौतियों के समाधान की तलाश करने के लिए लोगों की आवाज़ सुने जाने के प्रयासों के तहत बुधवार को न्यूयॉर्क स्थित यूएन मुख्यालय में युवा प्रतिनिधियों ने महासचिव एंतोनियो गुटेरेश के साथ एक संवाद में हिस्सा लिया. इस सभा में युवा प्रतिनिधियों ने भविष्य के लिए अपनी महत्वाकांक्षी रूपरेखा के बारे में बात की जिसमें अंतरराष्ट्रीय सहयोग व सभी की बात सुना जाना अहम बताया गया.

वैश्विक भविष्य पर मंडराते ख़तरों पर पार पाने के लिए नए समाधान

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने वर्ष 2020 के लिए अपनी प्राथमिकताएँ पेश करते हुए कहा है कि 21वीं सदी की समस्याओं से निपटने के लिए 21वीं सदी के ही समाधानों का सहारा लेना ज़रूरी है. यूएन प्रमुख ने बुधवार को सदस्य देशों को संबोधित करते हुए भू-राजनैतिक तनाव, जलवायु संकट, वैश्विक भरोसे का अभाव और टैक्नोलॉजी के नकारात्मक पहलुओं को नए दशक की बड़ी चुनौतियां क़रार दिया है.

पूर्व महासचिव पेरेज़ डी कुएइए को 100वें जन्म दिवस पर बधाई

संयुक्त राष्ट्र के पाँचवें महासचिव जेवियर पेरेज़ डी कुएइए ने रविवार 19 जनवरी 2020 को अपना 100वाँ जन्म दिवस मनाया. पेरेज़ डी कुएइए का संयुक्त राष्ट्र के साथ बिल्कुल पहला कामकाज महासभा की 1946 में हुई बैठक के साथ शुरू हुआ था.

यूएन महासभा प्रमुख ने गिनाईं नए साल की अपनी प्राथमिकताएँ

संयुक्त राष्ट्र महासभा अध्यक्ष तिजानी मोहम्मद-बांडे ने शांति व सुरक्षा, ग़रीबी उन्मूलन, भुखमरी का अंत, गुणवत्तापरक शिक्षा, जलवायु परिवर्तन और समावेशन को वर्ष 2020 में 74वें सत्र की प्राथमिकताओं में शामिल किया है. उन्होंने इन चुनौतियों के समाधान में एक रोडमैप को अमल में लाने के लिए साझेदारियों को नई स्फूर्ति प्रदान करने का संकल्प भी जताया है. महासभा अध्यक्ष ने 17 टिकाऊ विकास लक्ष्यों को अगला दशक शुरू होने तक एक वास्तविकता बनाने का लक्ष्य हासिल करने की मंशा भी ज़ाहिर की है.